शरद पवार से मिले उद्धव ठाकरे, NCP विधायकों को किया संबोधित

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  नवंबर 24, 2019   16:25
शरद पवार से मिले उद्धव ठाकरे, NCP विधायकों को किया संबोधित

आदित्य ठाकरे ने पिछले महीने महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव में मुंबई की वरली सीट से जीत हासिल की। उन्होंने बताया कि शिवसेना, राकांपा और कांग्रेस की उनके विधायकों को एकजुट रखने में मदद कर रही है।

मुंबई। राकांपा प्रमुख शरद पवार और शिवसेना अध्यक्ष उद्धव ठाकरे ने रविवार को उपनगर के उस रिजॉर्ट में मुलाकात की जहां राकांपा विधायक ठहरे हुए हैं। सूत्रों ने बताया कि पवार से मुलाकात के दौरान शिवसेना अध्यक्ष के साथ वरिष्ठ पार्टी नेता और पुत्र आदित्य ठाकरे भी थे। 

आदित्य ठाकरे ने पिछले महीने महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव में मुंबई की वरली सीट से जीत हासिल की। उन्होंने बताया कि शिवसेना, राकांपा और कांग्रेस की उनके विधायकों को एकजुट रखने में मदद कर रही है। शिवसेना के मजदूर संघों की शहर के कई शीर्ष होटलों में मजबूत मौजूदगी है। राकांपा विधायकों को दक्षिण मुंबई में वाई बी चव्हाण केंद्र में पार्टी की बैठक में शामिल होने के बाद शनिवार देर रात पवई इलाके के द रिनेसा होटल में ले जाया गया। उद्धव ठाकरे ने एनसीपी विधायकों को संबोधित करते हुए कहा, "चिंता मत करो, यह रिश्ता लंबा चलेगा, हमारा गठबंधन लंबा चलेगा"।

इसे भी पढ़ें: झारखंड कांग्रेस प्रमुख का आरोप, नाकामी छुपाने के लिए राम मंदिर का मामला उठा रही है भाजपा

गौरतलब है कि तीनों पार्टियां सरकार बनाने के लिए बातचीत के अंतिम दौर में ही थी कि तभी नाटकीय घटनाक्रम के तहत शनिवार तड़के राकांपा नेता अजित पवार ने अपनी पार्टी से अलग जाकर भाजपा से हाथ मिला लिए। इसके बाद महाराष्ट्र के राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी ने शनिवार तड़के भाजपा के देवेंद्र फडणवीस को मुख्यमंत्री पद की और अजित पवार को उपमुख्यमंत्री पद की शपथ दिलाई। इस बीच, राज भवन में फडणवीस और पवार के शपथ ग्रहण समारोह में मौजूद रहे राकांपा विधायक माणिकराव कोकाटे उसी समय उपनगर के होटल में लौट आए जब शरद पवार रविवार को वहां पहुंचे थे।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।