केंद्रीय राज्य सामाजिक न्याय मंत्री रामदास अठावले ने उठाया आरक्षण का मुद्दा, कहा - CM शिवराज से मुलाकात करूंगा इसपर चर्चा

केंद्रीय राज्य सामाजिक न्याय मंत्री  रामदास अठावले ने उठाया आरक्षण का मुद्दा, कहा - CM शिवराज से मुलाकात करूंगा इसपर चर्चा

सरकार को प्रमोशन में आरक्षण व्यवस्था काे लागू करने के लिए कानून बनाए। मैंने मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान से समय मांगा है। इसके लिए कानून बनाने की बात भी कहूंगा।

भोपाल। ओबीसी आरक्षण मामले में सुप्रीम कोर्ट 21 अक्टूबर से फिर सुनवाई शुरू कर रहा है। सुनवाई से पहले राजधानी भोपाल पहुंचे मंत्री रामदास अठावले ने मीडिया को संबोधित किया। उन्होंने कहा कि सरकारी पदों पर प्रमोशन में आरक्षण होना चाहिए। उन्होंने कहा कि मैं मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान से मुलाकात भी करूंगा।

इसे भी पढ़ें:इंदौर के फेक पुलिस अधिकारी मामले में महिला तांत्रिक की हुई एंट्री, दोनों ने 20 लाख रुपए ठगे 

उन्होंने कहा है कि सरकार को प्रमोशन में आरक्षण व्यवस्था काे लागू करने के लिए कानून बनाए। मैंने मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान से समय मांगा है। इसके लिए कानून बनाने की बात भी कहूंगा। उन्होंने कहा कि दलितों को प्रमोशन में आरक्षण मिलने से सवर्णों को कोई नुकसान नहीं होगा। इस मुद्दे को एनडीए की बैठक में भी उठाया जाएगा।

इसके सतह ही कश्मीर में हो रहे आंतकी घटनाओं के बीच T-20 वर्ल्ड कप में भारत-पाकिस्तान मैच को लेकर अठावले ने कहा कि कश्मीर में जिस तरह के हालात हैं, उसे देखते हुए फिलहाल यह मैच नहीं होना चाहिए। उन्होंने कहा कि यदि पाकिस्तान नहीं माना तो एक बार फिर सर्जिकल स्ट्राइक कर सबक सिखाना चाहिए।

इसे भी पढ़ें:बीजेपी नेता ने किया अपनी पत्नी का कत्ल, अश्लील वीडियो बनाकर करता था ब्लैकमेल 

वहीं आर्यन खान के मामले पर उन्होंने बयान देते हुए कहा कि आर्यन खान सिर्फ मुसलमान है या शाहरुख खान के बेटे हैं इसलिए उस पर कार्रवाई नहीं हुई है। केंद्रीय एजेंसी अपना सही काम कर रही हैं। मुंबई में जो ड्रग्स आती है, उसका इस्तेमाल फिल्म स्टार और उनके परिवार के लोग करते हैं।





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।