UP रोजगार योजना से 31 जिलों के करोड़ों लोगों को होगा लाभ, घर के पास ही मिलेगा रोजगार: अमित शाह

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  जून 26, 2020   19:30
UP रोजगार योजना से 31 जिलों के करोड़ों लोगों को होगा लाभ, घर के पास ही मिलेगा रोजगार: अमित शाह

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने कहा कि उत्तरप्रदेश के श्रमिकों के कल्याण एवं सशक्तिकरण के लिए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जी ने ‘आत्मनिर्भर उत्तर प्रदेश रोजगार अभियान’ की शुरुआत की।

नयी दिल्ली। केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने शुक्रवार को कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी द्वारा शुरू की गयी ‘आत्मनिर्भर उत्तरप्रदेश रोजगार योजना’ से राज्य के 31 जिलों में रह रहे करोड़ों लोगों को लाभ होगा और उन्हें अपने घर के पास ही रोजगार के अवसर मिलेंगे। गरीबों और ग्रामीण क्षेत्र के कल्याण के लिए यह ‘‘अभूतपूर्व’’ योजना लाने की खातिर प्रधानमंत्री और उत्तरप्रदेश के मुख्यमंत्री को धन्यवाद देते हुए शाह ने कहा कि कार्यक्रम से न केवल गांवों के आधारभूत ढांचे में विकास होगा बल्कि यह ग्रामीण भारत के संपूर्ण विकास में महत्वपूर्ण भूमिका निभाएगा। 

इसे भी पढ़ें: गहलोत का शाह पर पलटवार, कहा- भाजपा ने छह साल में ही देश के लोकतांत्रिक ताने बाने को तहस-नहस कर दिया 

उन्होंने सिलसिलेवार ट्वीट कर कहा, ‘‘उत्तरप्रदेश के श्रमिकों के कल्याण एवं सशक्तिकरण के लिए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जी ने ‘आत्मनिर्भर उत्तर प्रदेश रोजगार अभियान’ की शुरुआत की। इस अभियान को ‘गरीब कल्याण रोजगार अभियान’ से जोड़ा गया है, जिससे राज्य के विकास की गति दोगुनी होगी।’’ गृह मंत्री ने कहा कि ‘आत्मनिर्भर उत्तर प्रदेश रोजगार अभियान’ से राज्य के 31 जिलों के करोड़ों श्रमिकों को लाभ मिलेगा और उन्हें अपने घर के नजदीक रोजगार के अवसर मिलेंगे। 

इसे भी पढ़ें: अमित शाह का कांग्रेस पर तंज, एक परिवार की सत्ता की लालसा ने देश पर आपातकाल थोपा 

उन्होंने कहा, ‘‘इस अभियान के तहत प्रधानमंत्री आवास योजना, प्रधानमंत्री सड़क योजना, शौचालयों के निर्माण, एक्सप्रेस वे का निर्माण, पौधारोपण जैसे विभिन्न विकास कार्य किए जाएंगे। इससे न केवल गांवों के आधारभूत ढांचे में सुधार आएगा बल्कि ग्रामीण भारत के संपूर्ण विकास में यह महत्वपूर्ण भूमिका निभाएगा।’’ प्रधानमंत्री ने ‘आत्मनिर्भर उत्तर प्रदेश रोजगार अभियान’ की शुरुआत की है ताकि रोजगार मुहैया कराने के लिए स्थानीय उद्यमिता और उद्योगों के जुड़ाव को बढ़ावा दिया जा सके।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।