लोकसभा अध्यक्ष पद के लिए ओम बिरला का समर्थन करेगा UPA

By प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क | Publish Date: Jun 18 2019 8:34PM
लोकसभा अध्यक्ष पद के लिए ओम बिरला का समर्थन करेगा UPA
Image Source: Google

बैठक में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी, सदन में पार्टी के नेता अधीर रंजन चौधरी एवं मुख्य सचेतक के. सुरेश, द्रमुक के टीआर बालू एवं कनिमोई, राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी की सुप्रिया सुले, नेशनल कांफ्रेंस के फारुक अब्दुल्ला और कई अन्य दलों के सदन के नेता शामिल हुए।

नयी दिल्ली। कांग्रेस के नेतृत्व वाले संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन (संप्रग) ने मंगलवार को फैसला किया कि लोकसभा अध्यक्ष के चुनाव में वह राजग उम्मीदवार ओम बिरला का समर्थन करेगा और उपाध्यक्ष के विषय पर फिलहाल सरकार के रुख की प्रतीक्षा करेगा। सूत्रों के मुताबिक संसद भवन परिसर में कांग्रेस संसदीय दल की नेता सोनिया गांधी की अगुवाई में संप्रग नेताओं की बैठक में स्पीकर के अलावा फ्लोर मैनेजमेंट के विषय पर भी चर्चा हुई। बैठक में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी, सदन में पार्टी के नेता अधीर रंजन चौधरी एवं मुख्य सचेतक के. सुरेश, द्रमुक के टीआर बालू एवं कनिमोई, राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी की सुप्रिया सुले, नेशनल कांफ्रेंस के फारुक अब्दुल्ला और कई अन्य दलों के सदन के नेता शामिल हुए। 

इसे भी पढ़ें: साक्षी महाराज के शपथ के दौरान लोकसभा में गूजा मंदिर वहीं बनाएंगे का नारा

इस बैठक के बाद चौधरी ने बताया कि स्पीकर को लेकर संप्रग राजग के उम्मीदवार का समर्थन करेगा। गौरतलब है कि लोकसभा अध्यक्ष का चुनाव बुधवार को प्रस्तावित है। कोटा से भाजपा सांसद ओम बिरला इस पद के लिए राजग के उम्मीदवार होंगे। सूत्रों के मुताबिक संप्रग नेताओं की बैठक में फ्लोर मैनेजमेंट पर भी चर्चा हुई और यह तय हुआ कि सपा एवं बसपा जैसे समान विचारधारा वाले दलों को भी विभिन्न मुद्दों पर सदन में साथ लिया जाए। लोकसभा उपाध्यक्ष के चुनाव के विषय पर भी संप्रग की बैठक में चर्चा हुई और यह फैसला हुआ कि फिलहाल प्रतीक्षा की जाए कि इस पर सरकार क्या रुख अपनाती है।

इसे भी पढ़ें: सर्वदलीय बैठक में भाग नहीं लेंगी ममता बनर्जी, पत्र लिखकर दी ये सलाह



बैठक में शामिल एक नेता ने कहा कि आमतौर पर यह परंपरा रही है कि लोकसभा उपाध्यक्ष सत्तारूढ़ पार्टी से बाहर होता है। हम देखेंगे कि सरकार का क्या रुख होता है। सरकार की ओर से स्थिति स्पष्ट होने के बाद ही हम आगे का कदम उठाएंगे। सूत्रों ने यह भी बताया कि एक राष्ट्र, एक चुनाव के विषय पर प्रस्तावित सर्वदलीय बैठक को लेकर फिलहाल कोई निर्णय नहीं हुआ है। बुधवार सुबह कांग्रेस एवं सहयोगी दलों की बैठक होनी है जिसमें इस विषय पर कोई निर्णय होगा। 

रहना है हर खबर से अपडेट तो तुरंत डाउनलोड करें प्रभासाक्षी एंड्रॉयड ऐप   


Related Story

Related Video