अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडन ने पीएम मोदी से की बात, कोविड-19 की स्थिति पर हुई चर्चा

अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडन ने पीएम मोदी से की बात, कोविड-19 की स्थिति पर हुई चर्चा

अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडन और उपराष्ट्रपति कमला हैरिस ने भारत को घातक कोरोना वायरस संकट से निपटने में मदद देने के लिए आवश्यक चिकित्सकीय जीवनरक्षक आपूर्तियां और उपकरण समेत हर तरह का सहयोग देने का आश्वासन दिया है।

भारत में बढ़ते कोरोना वायरस संक्रमण के बढ़ते  मामलों के बीच अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडन ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से फोन पर बात की है। दोनों ही नेताओं के बीच भारत में वर्तमान में कोविड-19 की स्थिति को लेकर चर्चा हुई। भारत में बढ़ते कोरोना वायरस संक्रमण के बढ़ते  मामलों के बीच अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडन ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से फोन पर बात की है। दोनों ही नेताओं के बीच भारत में वर्तमान में कोविड-19 की स्थिति को लेकर चर्चा हुई। प्रधानमंत्री मोदी  ने ट्वीट किया कि अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडन के साथ सार्थक बातचीत हुई, हमने दोनों देशों में कोविड-19 की मौजूदा स्थिति पर विस्तृत चर्चा की। मोदी ने कहा कि मैंने अमेरिका द्वारा भारत को मुहैया कराए जा रहे सहयोग के लिए अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडन का शुक्रिया अदा किया। बाइडन के साथ बातचीत के दौरान टीकों संबंधी कच्चे माल, दवाओं की सुचारू आपूर्ति श्रृंखला की महत्ता को भी रेखांकित किया गया। 

अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडन ने भारत को भरोसा दिया कि संकट की घड़ी में अमेरिका उसके साथ खड़ा है। उन्होंने यह भी कहा कि अमेरिका वेंटिलेटर और अन्य चिकित्सीय उपकरण भारत को देगा। साथ ही वैक्सीन बनाने के लिए कच्चे माल की आवश्यकता होती है उसे भी वह भारत को उपलब्ध कराएंगे। इससे पहले अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडन और उपराष्ट्रपति कमला हैरिस ने भारत को घातक कोरोना वायरस संकट से निपटने में मदद देने के लिए आवश्यक चिकित्सकीय जीवनरक्षक आपूर्तियां और उपकरण समेत हर तरह का सहयोग देने का आश्वासन दिया है। बाइडन ने एक ट्वीट में कहा, ‘‘जैसे भारत ने अमेरिका को मदद भेजी थी जब वैश्विक महामारी की शुरुआत में हमारे अस्पतालों पर दबाव बहुत बढ़ गया था वैसे ही हम जरूरत के इस वक्त में भारत की मदद के लिए दृढ़ हैं।” राष्ट्रपति सप्ताहांत डेलावेयर में अपने घर में बिता रहे हैं लेकिन समझा जाता है कि वह भारत में हो रहे घटनाक्रमों पर नजर बनाए हुए हैं। हैरिस ने ट्वीट किया, “अमेरिका कोविड-19 के चिंताजनक प्रकोप के दौरान अतिरिक्त सहयोग एवं आपूर्तियां भेजने के लिए भारतीय सरकार के साथ करीब से काम कर रहा है। सहायता देने के साथ ही हम भारत के निडर स्वास्थ्यकर्मियों समेत उसके नागरिकों के लिए प्रार्थना भी कर रहे हैं।” बाइडन और हैरिस के ट्वीट भारत में कोविड-19 के हालिया घातक प्रकोप के बाद शीर्ष अमेरिकी नेतृत्व की ओर से दी गई पहली प्रतिक्रिया है।





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।