नोएडा अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डा परियोजना से देश में अग्रणी होगा उत्तर प्रदेश: योगी

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  जनवरी 30, 2021   18:26
नोएडा अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डा परियोजना से देश में अग्रणी होगा उत्तर प्रदेश: योगी

लखनऊ के पांच कालिदास मार्ग स्थित अपने सरकारी आवास पर शनिवार को आयोजित उच्‍च स्‍तरीय बैठक में मुख्‍यमंत्री ने कहा कि नोएडा अंतरराष्‍ट्रीय हवाई अड्डा परियोजना वाणिज्यिक एवं औद्योगिक गतिविधियों को बढ़ाने और उत्तर प्रदेश को देश में अग्रणी बनाने में सहायक होगा।

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शनिवार को कहा कि प्रदेश के आर्थिक विकास एवं समृद्धि के लिए विश्वस्तरीय अवस्थापना सुविधाओं के निर्माण की गति बढ़ाना आवश्यक है और इसके लिए समन्वित प्रयास किये जाने चाहिए। लखनऊ के पांच कालिदास मार्ग स्थित अपने सरकारी आवास पर शनिवार को आयोजित उच्‍च स्‍तरीय बैठक में मुख्‍यमंत्री ने कहा कि नोएडा अंतरराष्‍ट्रीय हवाई अड्डा परियोजना वाणिज्यिक एवं औद्योगिक गतिविधियों को बढ़ाने और उत्तर प्रदेश को देश में अग्रणी बनाने में सहायक होगा।

यहां शनिवार को जारी सरकारी बयान के अनुसार मुख्‍यमंत्री ने कहा कि नोएडा अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डा, जेवर के निर्माण के संबंध में जिन विभागों द्वारा अनापत्ति प्रमाण पत्र दिया जाना है, वे इस संबंध अवलिंब कार्यवाही सुनिश्चित करें। उन्‍होंने नोएडा अंतराष्ट्रीय हवाई अड्डा के निर्माण कार्य में तेजी लाने के साथ ही सभी संबंधित विभागों को आपसी समन्‍वय स्‍थापित करने के निर्देश दिये हैं। 

इसे भी पढ़ें: विधान परिषद के सदस्यों के विदाई समारोह में बोले योगी आदित्यनाथ, संसदीय लोकतंत्र का आधार विधायिका है

योगी ने कहा कि विद्युत, सिंचाई, लोक निर्माण, बेसिक शिक्षा, महिला, बाल विकास एवं पुष्टाहार तथा वन विभाग आदि नोएडा अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डा के क्षेत्र में पड़ने वाली अपनी परिसम्पत्तियों को प्राथमिकता पर अन्यत्र स्थापित करने की कार्यवाही करें, इससे जहां एक ओर परियोजना को निर्धारित समय-सीमा में पूरा करने में मदद मिलेगी, वहीं दूसरी ओर जनता को भी सम्बन्धित विभाग की सेवाएं सुचारू ढंग से मिलती रहेंगी। इस अवसर पर संबंधित विभागों के अलावा शासन के शीर्ष अधिकारी मौजूद थे।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।