उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू ने एनटीआर के जीवन पर आधारित पुस्तक का विमोचन किया

वेंकैया नायडू
आंध्र प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री एन टी रामाराव को श्रद्धांजलि देते हुए उपराष्ट्रपति एम वेंकैया नायडू ने बृहस्पतिवार को कहा कि अभिनेता-राजनेता राव ने सिनेमा और राजनीति में अतुलनीय योगदान दिया था।

हैदराबाद। आंध्र प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री एन टी रामाराव को श्रद्धांजलि देते हुए उपराष्ट्रपति एम वेंकैया नायडू ने बृहस्पतिवार को कहा कि अभिनेता-राजनेता राव ने सिनेमा और राजनीति में अतुलनीय योगदान दिया था। नायडू ने एन टी रामाराव की राजनीतिक जीवनी मेवरिक मसीहा पुस्तक का विमोचन करने के बाद कहा कि इस महान नेता ने ताकतवर सत्तारूढ़ पार्टी को चुनौती दी और अविभाजित आंध्र प्रदेश में एक पार्टी के शासन को चुनौती देते हुए क्षेत्र की राजनीतिक संस्कृति को नए सिरे से परिभाषित किया।

इसे भी पढ़ें: महाराष्ट्र के सीएम उद्धव ठाकरे ने शिवाजी महाराज की जयंती पर शिवनेरी का दौरा किया

उन्होंने कहा, ‘‘एनटीआर हमारे देश में वैकल्पिक राजनीति के अग्रदूतों में सबसे ऊपर है। वह तब राजनीति में उभरे जब संयुक्त आंध्र प्रदेश के लोग बदलाव के लिए तरस रहे थे।’’ हैदराबाद के पत्रकार रमेश कंडुलना द्वारा लिखी एनटीआर के राजनीतिक जीवन पर आधारित पुस्तक का विमोचन करते हुए उपराष्ट्रपति ने कहा कि एनटीआर के आने के बाद राजनीतिक परिदृश्य में बड़ा बदलाव आया।

इसे भी पढ़ें: महाराष्ट्र के डोम्बिवली में कोविड नियमों का उल्‍लंघन, 500 लोगों पर केस दर्ज

उपराष्ट्रपति ने कहा, ‘‘वह राज्यों और केंद्र की शक्तियों के बीच उचित संतुलन बनाने के लिए मशहूर हैं।’’ नायडू ने कहा कि राष्ट्रीय स्तर पर विपक्षी एकता में एनटीआर का योगदान एक अग्रणी प्रयास था।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़