विहिप ने बांग्लादेश में मंदिरों पर हमलों की निंदा की, कार्रवाई की मांग

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  अक्टूबर 15, 2021   07:30
विहिप ने बांग्लादेश में मंदिरों पर हमलों की निंदा की, कार्रवाई की मांग
प्रतिरूप फोटो

विहिप के केन्द्रीय महामंत्री मिलिंद परांडे ने कहा,भारत सरकार के साथ अंतर्राष्ट्रीय समुदाय को भी वहां के अल्पसंख्यक हिंदुओं के जान-माल और उनकी धार्मिक मान्यताओं की सुरक्षा हेतु बांग्लादेश सरकार पर उचित कार्रवाई के लिए दबाव बनाना चाहिए।

नयी दिल्ली| विश्व हिंदू परिषद (विहिप) ने बांग्लादेश में दुर्गापूजा के दौरान मंदिरों और हिन्दू आराध्य देवों की प्रतिमाओं पर हमले की घटनाओं की बृहस्पतिवार को निंदा की और पड़ोसी देश में इन घटनाओं के दोषियों के विरूद्ध कठोर कार्रवाई तथा हिंदुओं की सुरक्षा की मांग की।

विहिप के केन्द्रीय महामंत्री मिलिंद परांडे ने अपने बयान में बांग्लादेश सरकार से अपील की कि वह अपने अल्पसंख्यक हिंदुओं की सुरक्षा सुनिश्चित करते हुए कट्टरपंथियों पर अंकुश लगाए तथा पीड़ित हिंदुओं के नुकसान की भरपाई और मृतकों व घायलों को उचित मुआवजे की व्यवस्था करे।

इसे भी पढ़ें: सतत विकास में भारत के दृढ़ विश्वास को लेकर विश्व उसकी ओर देख रहा: भागवत

उन्होंने कहा, ‘‘ भारत सरकार के साथ अंतर्राष्ट्रीय समुदाय को भी वहां के अल्पसंख्यक हिंदुओं के जान-माल और उनकी धार्मिक मान्यताओं की सुरक्षा हेतु बांग्लादेश सरकार पर उचित कार्रवाई के लिए दबाव बनाना चाहिए।

विहिप नेता ने कहा कि बांग्लादेश सरकार कट्टरपंथियों की अविलंब गिरफ़्तारी एवं कड़ी सजा के साथ भविष्य में इस प्रकार की घटनाओं की पुनरावृति रोकने हेतु कठोर कदम सुनिश्चित करे।

उन्होंने भरोसा दिलाया कि विश्व हिंदू परिषद समेत समस्त हिंदू समाज बांग्लादेश के पीड़ित हिंदुओं के साथ खड़ा है तथा हम उनकी हर-संभव मदद करेंगे। गौरतलब है कि बांग्लादेश में दुर्गा पूजा समारोह के दौरान कुछ अज्ञात उपद्रवियों ने हिंदुओं के मंदिरों को क्षतिग्रस्त कर दिया, जिसके चलते सरकार को 22 जिलों में अर्द्धसैनिक बलों की तैनाती करनी पड़ी है। मीडिया की खबरों में बृहस्पितवार को बताया गया कि दंगों में तीन लोगों की मौत हो गई और कई अन्य घायल हो गए।

बीडीन्यूज24 डॉट कॉम समाचार वेबसाइट की खबर के मुताबिक ईशनिंदा के आरोपों के बाद, यहां से करीब 100 किलोमीटर की दूरी पर स्थित कमीला में एक स्थानीय मंदिर बुधवार को सोशल मीडिया पर मचे बवाल का केंद्र बिंदु बन गया। झड़प के बाद प्रशासन और पुलिस ने स्थिति को नियंत्रित करने की कोशिश की।

 

इसे भी पढ़ें: सपा-बसपा की सरकारों में हिंदू पर्व प्रतिबंधित किये जाते थे : योगी आदित्यनाथ


खबर में बताया गया है कि चांदपुर के हाजीगंज, चटगांव के बांसखली और कॉक्स बाजार के पेकुआ में हिंदू मंदिरों को नुकसान पहुंचाये जाने की घटनाएं भी हुई हैं।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।