हमने वोट देने और नहीं देने वालों में कभी कोई भेदभाव नहीं किया : योगी आदित्यनाथ

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  मई 25, 2021   09:22
हमने वोट देने और नहीं देने वालों में कभी कोई भेदभाव नहीं किया : योगी आदित्यनाथ

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने राज्य के प्रत्येक नागरिक के कल्याण का संकल्प लेते हुए सोमवार को कहा कि उनकी सरकार ने विकास कार्यों का फायदा पहुंचाने के मामले में सत्तारूढ़ भाजपा को वोट देने वालों और वोट नहीं देने वालों के बीच कभी कोई भेदभाव नहीं किया।

आजमगढ़/लखनऊ। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने राज्य के प्रत्येक नागरिक के कल्याण का संकल्प लेते हुए सोमवार को कहा कि उनकी सरकार ने विकास कार्यों का फायदा पहुंचाने के मामले में सत्तारूढ़ भाजपा को वोट देने वालों और वोट नहीं देने वालों के बीच कभी कोई भेदभाव नहीं किया। राज्य सरकार के एक प्रवक्ता के मुताबिक कोविड-19 प्रबंधन का जायजा लेने के लिए विभिन्न जिलों के दौरे पर निकले मुख्यमंत्री ने आजमगढ़ में संवाददाताओं से कहा, हमारी सरकार हर नागरिक के कल्याण के लिए संकल्पबद्ध है। हमारे लिए हर एक जान मायने रखती है और हम इसी तरह लोगों की जान बचाने का काम करते रहेंगे।

इसे भी पढ़ें: महाराष्ट्र के उन जिलों में पाबंदियों में ढील दी जा सकती है, जहां कम मामले सामने आ रहे हैं: मंत्री

मुख्यमंत्री ने कहा, अधिकारियों को हर जरूरतमंद व्यक्ति को पर्याप्त चिकित्सा सहायता और भोजन की उपलब्धता सुनिश्चित करानी होगी। हमने हमें वोट देने वालों और वोट न देने वालों के बीच ना तो कभी कोई भेदभाव किया है और ना कभी करेंगे। दूसरों की तरह हम कुछ चुनिंदा लोगों की मदद करने में विश्वास नहीं रखते। कोरोना से बचाव और संभावित तीसरी लहर से निपटने के लिए की जा रही तैयारियों का आकलन करने के लिए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आजमगढ़ मंडल की जहां समीक्षा की, निषिद्ध क्षेत्रों को परखा तथा निगरानी समितियों से संवाद भी स्थापित किया।

इसे भी पढ़ें: जयशंकर की अमेरिका यात्रा: दोनों देशों के बीच संबंधों के महत्वपूर्ण पहलुओं पर बातचीत

राजकीय मेडिकल कॉलेज में मुख्यमंत्री ने दावा किया कि कोरोना की दूसरी लहर के बारे में प्रदेश में जो आशंका की जा रही थी उसे हमारे ‘ट्रेस, टेस्ट और ट्रीट’ के मंत्र ने निर्मूल साबित किया है। इस लहर में जहां ऑक्सीजन की किल्लत थी, आज प्रदेश में 377 से भी अधिक ऑक्सीजन प्लांट लग रहे हैं। उन्होंने कहा कि कोविड टीकाकरण की प्रक्रिया को एक जून से और गति दी जायेगी और आगामी एक जून से प्रदेश के प्रत्येक जिले में 18 वर्ष और उससे अधिक उम्र के सभी लोगों के लिए टीकाकरण का कार्य शुरू हो जायेगा। इसके साथ ही संभावित तीसरी लहर से निपटने के लिए भी अभी से ही तैयारियां शुरू कर दी गयी हैं। मेडिकल कॉलेज में मीडिया को सम्बोधित करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि पोस्ट कोविड मरीजों को ध्यान में रखते हुए हमारी सेवाएं चल रही है और प्रदेश में ऐसे लोगों को मुफ्त इलाज हो रहा है।

योगी ने दावा किया कि निगरानी समितियों ने दूसरी लहर को रोकने में बहुत बड़ी भूमिका निभाई है। आज निगरानी समितियां गांव-गांव में स्क्रीनिंग, मेडिकल किट का वितरण कर रही है। सफलतापूर्वक चले अभियान की वजह से कोरोना संक्रमण की दर को कम करने में सफलता प्राप्त हुई। इससे पहले, मुख्यमंत्री ने कोविड इंट्रिगेटेड कंट्रोल रूम और बिजोरा स्थित कंटेनमेंट जोन का हाल जाना साथ ही जनप्रतिनिधियों से मुलाकात की।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।