MP की गजब राजनीति, बीजेपी की सदस्यता लेने वाले नेता बने रहेंगे कांग्रेस विधायक

Sachin birla congress mla
सुयश भट्ट । Dec 30, 2021 4:21PM
दल बदल कानून के तहत सचिन बिरला की विधायकी समाप्त करने के लिए डॉक्टर गोविंद सिंह ने आवेदन दिया था। जिसके बाद आवेदन में दिए गए आरोपों का सत्यापन नहीं हुआ। वहीं विधानसभा अध्यक्ष गिरीश गौतम ने बिरला की सदस्यता समाप्त करने के आवेदन को खारिज कर दिया।

भोपाल। राजधानी भोपाल से एक बड़ी खबर सामने आई है। मध्य प्रदेश के विधानसभा अध्यक्ष गिरीश गौतम ने विधायक सचिन बिरला की सदस्यता समाप्त करने के आवेदन को खारिज कर दिया है। आवेदन खारिज होने के कारण सचिन बिरला कांग्रेस के विधायक बने रहेंगे। 

आपको बता दें कि सचिन बिरला कांग्रेस छोड़ बीजेपी में शामिल हुए थे। विधानसभा अध्यक्ष द्वारा आवेदन खारिज होने के बाद बिरला विधानसभा अपने पुराने सहयोगियों के साथ ही बैठेंगे। 

इसे भी पढ़ें:कालीचरण महाराज की गिरफ्तारी के विरोध में हिंदू महासभा ने सीएम भूपेश बघेल का जलाया पुतला

दरअसल दल बदल कानून के तहत सचिन बिरला की विधायकी समाप्त करने के लिए डॉक्टर गोविंद सिंह ने आवेदन दिया था। जिसके बाद आवेदन में दिए गए आरोपों का सत्यापन नहीं हुआ। वहीं विधानसभा अध्यक्ष गिरीश गौतम ने बिरला की सदस्यता समाप्त करने के आवेदन को खारिज कर दिया।

जानकारी के अनुसार साल 2018 में सचिन बिरला ने 30 हजार से ज्यादा वोटों से बीजेपी नेता हितेंद्र सिंह सोलंकी को हराया था। सोलंकी तीन बार बीजेपी से विधायक चुने गए थे। लेकिन सचिन के सामने उनकी हार हुई थी।

इसे भी पढ़ें:सड़क हादसे में खत्म हुआ पूरा परिवार, CM शिवराज ने जताया शोक 

2013 में जब सचिन को कांग्रेस ने टिकट नहीं दिया था तो उन्होंने निर्दलीय ही ताल ठोक दिया था। जिसमें वह दूसरे नंबर पर रहे थे। ऐसे में कांग्रेस ने उन पर 2018 में दाव लगाया था। इसी कड़ी में 2018 के विधानसभा के बाद अब तक कांग्रेस के 27 विधायक अपने पद से इस्तीफा दे चुके हैं।

अन्य न्यूज़