सपा पर योगी का तंज, कहा- पहले राम भक्तों पर गोलियां चलाते थे, अब बजरंगबली का गदा लेकर घूम रहे

सपा पर योगी का तंज, कहा- पहले राम भक्तों पर गोलियां चलाते थे, अब बजरंगबली का गदा लेकर घूम रहे

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री ने कहा कि इससे ज़्यादा परिवर्तन और क्या हो सकता है कि जो लोग पहले जेब में तमंचा रखकर राम भक्तों पर गोलियां चलाते थे, अब वे भी बजरंगबली का गदा लेकर घूम रहे हैं। सुल्तानपुर में योगी ने कहा कि अब तक 4 चरणों में हुए मतदान के रुझान बताते हैं कि विपक्ष के तमाम नेताओं ने अभी से विदेश भागने के लिए अपने टिकट 11 तारीख के लिए बुक करा दिए हैं।

उत्तर प्रदेश में चार चरणों के चुनाव के बाद भी राजनीतिक हलचल तेज है। 7 चरणों में होने वाले विधानसभा चुनाव को लेकर आरोप-प्रत्यारोप लगातार जारी है। इन सबके बीच योगी आदित्यनाथ ने चुनावी प्रचार के दौरान अखिलेश यादव और समाजवादी पार्टी पर जमकर निशाना साधा। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री ने कहा कि इससे ज़्यादा परिवर्तन और क्या हो सकता है कि जो लोग पहले जेब में तमंचा रखकर राम भक्तों पर गोलियां चलाते थे, अब वे भी बजरंगबली का गदा लेकर घूम रहे हैं। सुल्तानपुर में योगी ने कहा कि अब तक 4 चरणों में हुए मतदान के रुझान बताते हैं कि विपक्ष के तमाम नेताओं ने अभी से विदेश भागने के लिए अपने टिकट 11 तारीख के लिए बुक करा दिए हैं।

इसके साथ ही योगी ने बसपा पर तंज कसते हुए कहा कि हाथी का पेट इतना बड़ा है कि पूरे राज्य का राशन खा गया। उन्होंने कहा कि 2017 से पहले राशन SP के गुर्गों के पास चला जाता था और हाथी का पेट तो इतना बड़ा है कि पूरे प्रदेश का राशन उसमें समा जाएगा। ग़रीब देखता रह जाता था। हमने तय किया है कि होली, दीपावली में उज्जवला योजना के लाभार्थियों को मुफ्त में रसोई गैस उपलब्ध कराएंगे। योगी ने कहा कि 2017 के पहले क्या लोगों को बिजली मिलती थी? आज तो मिलती है। 2017 के पहले तो बिजली की भी जाति और मजहब हुआ करता था। ईद और मोहर्रम पर बिजली आती थी लेकिन होली और दीवाली पर बिजली गुल रहती थी। 

इसे भी पढ़ें: सपा की सरकार बनी तो 11 लाख पदों पर नौजवानों को देंगे नियुक्तियां: अखिलेश ने किया बड़ा वादा

योगी दावा किया कि पूर्ववर्ती सरकार के शासन में त्योहारों से पहले दंगे शुरू हो जाते थे, लेकिन अब फसाद करने वाले लोग डरे-सहमे हुए हैं कि अगर वे ऐसी कोई हरकत करेंगे तो जुर्माना भरते-भरते उनकी पांच पीढ़ियां बीत जाएंगी। उन्होंने कहा कि पहले त्योहरों के पहले दंगे शुरू हो जाते थे। अब दंगा करने वाले डरे-सहमे हुए हैं, क्योंकि वे जानते हैं कि अगर दंगा करेंगे तो उनके पोस्टर चौराहों पर चस्पा हो जाएंगे और जुर्माना भरते-भरते उनकी पांच पीढ़ियां बीत जाएंगी। उन्होंने दावा किया कि पिछले पांच वर्षों में प्रदेश में आस्था के साथ खिलवाड़ करने का साहस कोई नहीं कर पाया और आज कोई भी व्यक्ति न तो कावड़ यात्रा रोक सकता है, न ही मां दुर्गा की पूजा।





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।