नवरात्रि में खाएं धनिया वाली आलू चाट, यह रही रेसिपी

By अपर्णा दुबे | Publish Date: Mar 20 2018 4:22PM
नवरात्रि में खाएं धनिया वाली आलू चाट, यह रही रेसिपी
Image Source: Google

इस नवरात्रि के साथ हमने हिन्दू नव वर्ष में भी प्रवेश किया है। आप सब को हिन्दू नव वर्ष की शुभकामनाएं। आशा है ये नव वर्ष आपके और आपके परिवार के लिए मंगलमय हो।

इस नवरात्रि के साथ हमने हिन्दू नव वर्ष में भी प्रवेश किया है। आप सब को हिन्दू नव वर्ष की शुभकामनाएं। आशा है ये नव वर्ष आपके और आपके परिवार के लिए मंगलमय हो। नवरात्रि में सात्विक भोजन का विशेष महत्व है, और अगर आप नवरात्र में व्रत भी रखते हैं तो सात्विक भोजन और भी महत्वपूर्ण हो जाता है। सात्विक भोजन का मतलब है ऐसा भोजन जो आपके शरीर में आसानी से पच जाए और ऊर्जा में जल्दी बदल जाए। सात्विक भोजन न सिर्फ शारीरिक बल्कि मानसिक ऊर्जा के लिए भी लाभकारी है। 

 
आयुर्वेद के अनुसार सात्विक भोजन करने से मन में बुरे विचार नहीं आते, और शरीर और मन हल्का, स्वस्थ और प्रफुल्लित रहता है। यदि अपने ध्यान दिया हो तो अपने देखा होगा कि नवरात्रि साल में दो बार आती है, और दोनों बार हमारे मौसम बदल रहे होते हैं। एक बार गार्मियाँ शुरू हो रही होती हैं और एक बार सर्दियाँ। तो आप इसे एक तरीके से डेटोक्सिफिकेशन की तरह भी देख सकते हैं। साल में कम से कम दो बार हम अपने शरीर और मन पर ध्यान दें, हलके और एनर्जेटिक, शरीर और मन के लिए सात्विक भोजन करें। और एकाग्र मन से माता का ध्यान और पूजन करें।  
 


सात्विक भोजन का एक नियम है कि ज़रूरत से ज़्यादा न खाएं, क्यूंकि जैसे ही हम ज़्यादा भोजन करते हैं हमारे पाचन तंत्र पर ज़्यादा ज़ोर पड़ता है और ऊर्जा का स्तर कम होता है। अगर आप यह सोच रहे हैं कि कम कैसे खाएं, तो सोचिए की कुछ देर बाद अगर भूख लगी तो हम फिर खा लेंगे। और अपने साथ कुछ नाश्ते जैसे मूंगफली और फ्रूट वगैरह रख सकते हैं। इस तरह भोजन करने से हमारा पाचनतंत्र पूरी तरह स्वस्थ रहेगा और शरीर की बाकी सारी बीमारियों से लड़ने की क्षमता बढ़ेगी। ये सात्विक भोजन एक ऐसा भाग है जो हम नवरात्रि के सिवा, अपनी रोज़ की जीवनशैली में भी शामिल कर सकते हैं। हेल्दी ईटिंग टिप्स के लिए आप मेरा ये पोस्ट देख सकते हैं। 
 
परन्तु ये न समझें कि सात्विक भोजन स्वादिष्ट नहीं होता, इस रेसिपी से ये साबित हो जाएगा। तो चलिए देखें एक सात्विक और सरल रेसिपी। 
 
धनिआ के आलू नवरात्रि में खूब खाये जाते हैं और शायद हर घर में बनते हों। धनिया वाले आलू या धनिया आलू चाट एक ऐसी आसान और स्वादिष्ट रेसिपी है जो आप व्रत में या बिना व्रत के बड़े खुश होकर खाएंगे और खिलायेंगे। 


 
यदि आप व्रती हैं और आपके घर के बाकी लोग व्रत नहीं रख रहे तो ये आलू बनाइये सब खुश होकर खाएंगे और आपको सबके लिए अलग से नाश्ता नहीं बनाना पड़ेगा। अगर आप चाहें तो ऊपर से दही, पापड़ी, सेव या इमली की चटनी डाल कर भी परोस सकती हैं।  
 
ये रेसिपी साधारण धनिया आलू से थोड़ी अलग है क्यूंकि इसमें हम आलू उबाल कर सीधे इस्तेमाल नहीं करते बल्कि उनमें थोड़ा क्रंच लेन के लिए उन्हें तवा फ्राई या ओवन में रोस्ट करते हैं, जिससे ये क्रिस्पी हो जाते हैं। हमने इसकी चटनी में थोड़ी मूंगफली भी डाली है, ऐसा करने से चटनी में एक अच्छा फ्लेवर आता है, और व्रत में अगर आप मूंगफली खाएं तो इसे आपको शक्ति और एनर्जी भी मिलती है। 


 
तो चलिए बनायें ये स्वादिष्ट और थोड़े सी अलग धनिए वाली आलू चाट। 
 
सामग्रीः
 
आलू - 4-5 मध्यम
हरा धनिया- 1 गुच्छा
नींबू का रस- 3-4 चम्मच
सेंधा नमक- स्वाद के लिए
अदरक- 1 इंच पीस
भुनी मूंगफली- 1 /4  कप 
हरी मिर्च- 2-3
तेल- 4-5 चम्मच
 
विधि:
 
1. आलू को उबाल लें पर साधारण से थोड़ा कम, क्यूँकि बाद में हम इन्हें कुरकुरा करने के लिए भी पकाएंगे, तो ये घुट ना जाए या टूटे ना। 
2. अब आलू छील और काट के रख लीजिए।  
3. धनिए में, निम्बू, अदरक, हरी मिर्च, मूंगफली और सेंधा नमक डाल कर चटनी पीस लीजिए।     
4. एक चौड़े पैन में तेल गरम करें और आलू को हल्का सुनहरा होने तक सेंक लें, बीच में हिलाते रहें ताकि सब तरफ से सुनहरा रंग आ जाए।  
5. जब आप खाने या परसने को तैयार हों इन आलू में चटनी मिला कर परोसें, ये स्वादिष्ट धनिया वाले आलू आपको ज़रूर पसंद आएंगे। 
 
-अपर्णा दुबे

रहना है हर खबर से अपडेट तो तुरंत डाउनलोड करें प्रभासाक्षी एंड्रॉयड ऐप   



Disclaimer: The views expressed here are solely those of the author in his/her private capacity and do not necessarily reflect the opinions, beliefs and viewpoints of Prabhasakshi and do not in any way represent the views of Prabhasakshi.

Related Video