तोक्यो ओलंपिक खेलों की पुरुष स्कीट में अंगद बाजवा18वें और मैराज 25वें स्थान पर रहे

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  जुलाई 26, 2021   13:04
तोक्यो ओलंपिक खेलों की पुरुष स्कीट में अंगद बाजवा18वें और मैराज 25वें स्थान पर रहे

भारत के अंगद वीर सिंह बाजवा स्कीट में 18वें और मैराज 25वें स्थान पर रहे।अंगद कल पहली तीन सीरिज के बाद 11वें स्थान पर थे और फाइनल की दौड़ में बने हुए थे। दूसरे दिन हालांकि वह तीन बार सही निशाना लगाने से चूके और बिना किसी मुकाबले के फाइनल्स की दौड़ से बाहर हो गये।

तोक्यो। भारत के अंगद वीर सिंह बाजवा तोक्यो ओलंपिक खेलों की पुरुष स्कीट स्पर्धा में 18वें जबकि मैराज अहमद खान 25वें स्थान पर रहे जिससे निशानेबाजी में भारतीयों का निराशाजनक प्रदर्शन सोमवार को भी जारी रहा। असाका रेंज पर 25 वर्षीय अंगद ने पांच सीरिज में संभावित 125 में से 120 अंक बनाये जबकि मैराज केवल 117 अंक ही बना पाये। स्कीट में चोटी के छह निशानेबाज फाइनल्स के लिये क्वालीफाई करते हैं। अंगद कल पहली तीन सीरिज के बाद 11वें स्थान पर थे और फाइनल की दौड़ में बने हुए थे। दूसरे दिन हालांकि वह तीन बार सही निशाना लगाने से चूके और बिना किसी मुकाबले के फाइनल्स की दौड़ से बाहर हो गये। अंगद ने 24, 25, 24, 23 और 24 का स्कोर बनाया। दूसरी तरफ मैराज कल की अपनी स्थिति में सुधार नहीं कर पाये। उनके आज चार निशाने सही नहीं लगे। उन्होंने पांच सीरिज में 25, 24, 22, 23 और 23 का स्कोर बनाया।

इसे भी पढ़ें: Tokyo Olympics 2020: सुमित नागल को सीधे सेटों में मेदवेदेव से मिली हार, टेनिस में भारतीय चुनौती समाप्त

फ्रांस के एरिक डेलॉने ने क्वालीफिकेशन में 124+6 (शूट ऑफ सहित) का स्कोर बनाकर ओलंपिक रिकार्ड बनाया जबकि इटली के टैमारो कासेंद्रो (124+5) ने दूसरा स्थान हासिल किया। क्वालीफाईंग में 30 निशानेबाजों ने हिस्सा लिया जिनमें फिनलैंड के ऐतु कैलियोनेन 123 अंक साथ तीसरे स्थान पर रहे। स्कीट क्वालीफिकेशन में प्रत्येक निशानेबाज को पांच सीरिज में 125 निशाने लगाने होते हैं। इनमें से छह फाइनल्स में पहुंचते हैं जहां उन्हें 60 निशाने लगाने पड़ते हैं। अंगद ने स्कीट में 60 में 60 अंक बनाकर विश्व रिकार्ड हासिल कर रखा है। उन्होंने 2018 में कुवैत में एशियाई शॉटगन चैंपियनशिप में यह रिकार्ड बनाया था। इसके बाद उन्होंने अगले साल दिल्ली में भी यह करिश्मा दोहराया था। अंगद पहले दिन दो निशाने चूक गये थे और वह पहले दिन के बाद 11वें स्थान पर थे। मैराज ने पहले दिन 71 अंक बनाये थे और वह तब भी 25वें स्थान पर थे। निशानेबाजी में प्रतिस्पर्धा के पहले दो दिन पुरुषों और महिलाओं की 10 मीटर एयर पिस्टल और राइफल स्पर्धाओं में भारतीय खिलाड़ियों का प्रदर्शन निराशाजनक रहा। केवल सौरभ चौधरी पुरुषों ही 10 मीटर एयर पिस्टल के फाइनल में पहुंचे जहां उन्हें सातवां स्थान मिला था।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।