IPL पर कोरोना का कहर, मौजूदा भारतीय गेंदबाज और CSK के कई सहयोगी स्टाफ पॉजिटिव

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  अगस्त 29, 2020   09:25
IPL पर कोरोना का कहर, मौजूदा भारतीय गेंदबाज और CSK के कई सहयोगी स्टाफ पॉजिटिव

फ्रेंचाइजी ने अभी कोई औपचारिक बयान जारी नहीं किया है लेकिन लीग के एक सूत्र ने बताया कि पॉजिटिव मामलों की संख्या 10 से 12 के बीच है। लीग से जुड़े एक सूत्र ने बताया कि कोविड-19 के सभी पॉजिटिव जांच के नतीजे टीम के यहां पहुंचने के पहले, तीसरे और छठे दिन आये। आईपीएल का आगामी सत्र 19 सितंबर से शुरू होगा।

नयी दिल्ली। भारतीय टीम के सीमित ओवरों के एक वर्तमान खिलाड़ी के अलावा चेन्नई सुपर किंग्स (सीएसके) के कई स्टाफ सदस्यों को कोविड-19 परीक्षण में पॉजिटिव पाया गया हैं, जिसके बाद इस फ्रेंचाइजी को इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) से पहले टीम की पृथकवास अवधि बढ़ने पर मजबूर होना पड़ा। फ्रेंचाइजी ने अभी कोई औपचारिक बयान जारी नहीं किया है लेकिन लीग के एक सूत्र ने बताया कि पॉजिटिव मामलों की संख्या 10 से 12 के बीच है। लीग से जुड़े एक सूत्र ने बताया कि कोविड-19 के सभी पॉजिटिव जांच के नतीजे टीम के यहां पहुंचने के पहले, तीसरे और छठे दिन आये। आईपीएल का आगामी सत्र 19 सितंबर से शुरू होगा।

आईपीएल के एक वरिष्ठ सूत्र ने गोपनीयता की शर्त पर बताया, ‘‘हां, हाल ही में भारत के लिए लिए खेलने वाला दाएं हाथ के मध्यम गति के एक तेज गेंदबाज के अलावा फ्रेंचाइजी के कुछ सहयोगी सदस्य कोविड-19 जांच में पॉजिटिव आये हैं। यह आंकड़ा 12 तक हो सकता है।’’ उन्होंने कहा, ‘‘जहाँ तक हमें पता चला हैं, सीएसके प्रबंधन से जुड़े वरिष्ठ अधिकारी और उनकी पत्नी के अलावा फ्रेंचाइजी की सोशल मीडिया टीम के कम से कम दो सदस्य भी कोरोना वायरस की चपेट में है।’’ इस घटना के बाद महेंद्र सिंह धोनी की अगुवाई वाली टीम की पृथकवास अवधि को एक सितंबर तक बढ़ा दिया। इस घटना के बाद भारतीय क्रिकेट बोर्ड में दहशत है लेकिन समझा जाता है कि फिलहाल लीग को कोई खतरा नहीं है जो कोरोना महामारी के कारण यूएई में आयोजित की जा रही है। बीसीसीआई की मानक संचालन प्रक्रिया (एसओपी) के अनुसार, कोविड-19 जांच में जो भी पॉजिटिव मिलेगा उसे अतिरिक्त सात दिनों के लिए पृथकवास में रहना होगा। 

इसे भी पढ़ें: इस साल के IPL में नई भूमिका में नजर आ सकते हैं अजिंक्य रहाणे

इस अवधि के बाद जांच में निगेटिव आने पर ही उसे जैविक रूप से सुरक्षित महौल में आने की अनुमति मिलेगी। समझा जाता है कि पॉजिटिव पाये गए सदस्यों में कोई लक्षण नहीं पाये गए हैं। लेकिन उनके संपर्क में आये लोगों का पता लगाना चुनौती होगी क्योंकि समझा जाता है कि अधिकांश चेन्नई में वायरस की चपेट में आये जहां दुबई रवानगी से पहले एक छोटा सा शिविर आयोजित किया गया था। समझा जाता है कि नेगेटिव पाये गए लोगों को ही बायो बबल में प्रवेश की अनुमति रहेगी। आईपीएल के एक सूत्र का मानना है कि एक सितंबर से टीम का शिविर शुरू होने की उम्मीद कम है। अभी यह पता नहीं चल सका है कि बीसीसीआई खिलाड़ियों और स्टाफ सदस्यों के नाम के साथ आधिकारिक बयान जारी करेगा या नहीं। इससे पहले राजस्थान रॉयल्स के फील्डिंग कोच दिशांत याग्निक भारत में ही कोरोना पॉजिटिव पाये गए थे।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।



Prabhasakshi logoखबरें और भी हैं...

खेल

झरोखे से...