माराडोना को श्रद्धांजलि देने स्टेडियम में उमड़े नैपोली के समर्थक, याद में फैंस ने छोड़ा स्कार्फ और शर्ट

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  नवंबर 27, 2020   14:28
माराडोना को श्रद्धांजलि देने स्टेडियम में उमड़े नैपोली के समर्थक, याद में फैंस ने छोड़ा स्कार्फ और शर्ट

हाथ में मोमबत्तियां, आंखों में आंसू और दिल में माराडोना की यादें लिये नैपोली के प्रशंसक बड़ी तादाद में एकत्र हुए। अपने महानायक की याद में किसी ने स्कार्फ छोड़ा तो किसी ने शर्ट। कोरोना महामारी के कारण प्रशंसकों को यूरोपा लीग में नैपोलीऔर क्रोएशिया की रिजेका टीम के बीच मैच के दौरान स्टेडियम में प्रवेश की अनुमति नहीं थी।

नेपल्स। उनके खेल से मंत्रमुग्ध होकर फुटबॉलप्रेमी स्टेडियम में खिंचे चले जाते थे और अब डिएगो माराडोना के निधन के बाद उन्हें श्रृद्धांजलि देने के लिये हजारों की संख्या में उनके प्रशंसक सान पाओलो स्टेडियम में जुटे। कोरोना महामारी भी उन्हें रोक नहीं सकी। हाथ में मोमबत्तियां, आंखों में आंसू और दिल में माराडोना की यादें लिये नैपोली के प्रशंसक बड़ी तादाद में एकत्र हुए। अपने महानायक की याद में किसी ने स्कार्फ छोड़ा तो किसी ने शर्ट। कोरोना महामारी के कारण प्रशंसकों को यूरोपा लीग में नैपोली और क्रोएशिया की रिजेका टीम के बीच मैच के दौरान स्टेडियम में प्रवेश की अनुमति नहीं थी। नैपोली के कप्तान लोरेंजो इंसिग्ने स्टेडियम से बाहर निकले और प्रशंसकों के साथ कुछ मिनट रहे जहां उन्होंने पुष्पगुच्छ भी रखा।

इसे भी पढ़ें: तीरंदाजी अकादमी के खिलाड़ी अमित कुमार का टोक्यो ओलंपिक के सिलेक्शन ट्रायल में चयन

माराडोना का बुधवार को दिल का दौरा पड़ने से निधन हो गया था। इटली के इस शहर में उन्हें ‘खुदा’ का दर्जा हासिल है चूंकि उन्होंने 1987 और 1990 में नैपोली को सीरि ए खिताब दिलाये थे। नैपोली के कप्तान ने कहा ,‘‘ उन्होंने हमेशा हमारी रक्षा की। जब यहां खेले तब भी औरजाने के बाद भी। हम हमेशा उनके दिल में थे। अब उनके जाने के बाद हम उन्हें अपने दिलों में रखेंगे। नैपोली के तमाम प्रशंसकों के लिये यह दुखद दिन है।’’ इस बीच मैच के दौरान स्टेडियम के भीतर बड़ी स्क्रीन पर माराडोना की तस्वीर दिखाई गई। नैपोली के खिलाड़ियों और कोच ने माराडोना की दस नंबर की जर्सी पहनकर स्टेडियम में प्रवेश किया। दोनों टीमों के खिलाड़ियों ने बांह पर काली पट्टी बांधी थी।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।