भारतीय महिला सीनियर फुटबॉल टीम का राष्ट्रीय शिविर एक दिसंबर से गोवा में शुरू होगा

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  नवंबर 22, 2020   11:26
  • Like
भारतीय महिला सीनियर फुटबॉल टीम का राष्ट्रीय शिविर एक दिसंबर से गोवा में शुरू होगा
Image Source: Google

मुख्य कोच मेमोल रॉकी ने शिविर के लिये 30 खिलाड़ियों को शामिल किया है। इस महाद्वीपीय टूर्नामेंट के 2022 चरण की मेजबानी भारत करेगा। टीम की ट्रेनिंग बहाली के लिये विस्तृत मानक परिचालन प्रक्रिया तैयार की गयी है जिसमें कई कोविड-19 प्रोटोकॉल और दिशानिर्देश दिये गये हैं।

नयी दिल्ली। भारतीय महिला सीनियर फुटबॉल टीम का कोरोना वायरस के कारण लगे लॉकडाउन के बाद पहला राष्ट्रीय शिविर एक दिसंबर से गोवा में शुरू होगा जिसमें खिलाड़ी स्वास्थ्य सुरक्षा उपायों के साथ 2022 एएफसी एशिया कप की तैयारियां शुरू करेंगी। मुख्य कोच मेमोल रॉकी ने शिविर के लिये 30 खिलाड़ियों को शामिल किया है। इस महाद्वीपीय टूर्नामेंट के 2022 चरण की मेजबानी भारत करेगा। 

इसे भी पढ़ें: खेल सचिव रवि मित्तल ने कहा, सरकार जनवरी में लांच करेगी फिटनेस एप

टीम की ट्रेनिंग बहाली के लिये विस्तृत मानक परिचालन प्रक्रिया तैयार की गयी है जिसमें कई कोविड-19 प्रोटोकॉल और दिशानिर्देश दिये गये हैं। राष्ट्रीय टीम के निदेशक अभिषेक यादव ने कहा कि टीम जल्द से जल्द मैदान पर लौटने को बेताब है। उन्होंने कहा, ‘‘टीम जल्द से जल्द पिच पर लौटने को बेताब है। हम भारतीय फुटबॉल को आगे बढ़ाने के लिये सतर्कता से कदम उठा रहे हैं। निगाहें एएफसी महिला एशिया कप पर लगी हैं और हमें टूर्नामेंट के शुरू होने तक अपनी तैयारियों के शिखर पर होना होगा। ’’ उन्होंने साथ ही जोर दिया कि टीम की सुरक्षा सर्वोपरि होगी।







ओलंपिक के लिये क्वालीफाई कर चुके चार मुक्केबाज हुए TOPS में शामिल

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  नवंबर 30, 2020   16:31
  • Like
ओलंपिक के लिये क्वालीफाई कर चुके चार मुक्केबाज हुए TOPS में शामिल
Image Source: Google

ओलंपिक के लिये क्वालीफाई कर चुके चार मुक्केबाज टॉप्स में शामिल हुए है।पुरूष मुक्केबाजों में एशियाई रजत पदक विजेता आशीष कुमार (75 किलो) और एशियाई खेलों के कांस्य पदक विजेता सतीश कुमार (प्लस 91 किलो) शामिल किये गए हैं।

नयी दिल्ली। ओलंपिक के लिये क्वालीफाई कर चुके चार भारतीय मुक्केबाजों को खेल मंत्रालय की टारगेट ओलंपिक पोडियम (टॉप्स) योजना में शामिल किया गया है। भारतीय खेल प्राधिकरण ने यह जानकारी दी। इन मुक्केबाजों में विश्व चैम्पियनशिप कांस्य पदक विजेता सिमरनजीत कौर (60 किलो) और एशियाई पदक विजेता पूजा रानी (75 किलो) शामिल हैं। एम सी मेरीकॉम पहले ही से इस योजना का हिस्सा है।

इसे भी पढ़ें: विराट कोहली पर बरसे गंभीर! कहा- विश्व क्रिकेट में कोई भी कप्तान नहीं लेगा ऐसा फैसला...

पुरूष मुक्केबाजों में एशियाई रजत पदक विजेता आशीष कुमार (75 किलो) और एशियाई खेलों के कांस्य पदक विजेता सतीश कुमार (प्लस 91 किलो) शामिल किये गए हैं। इसमें अमित पंघाल (52 किलो), मनीष कौशिक (63 किलो) और विकास कृष्णन (69 किलो) पहले ही से शामिल हैं। लवलीना बोरगोहेन और कविंदर सिंह भी कोर समूह का हिस्सा हैं। साइ ने बताया ,‘‘ निकहत जरीन (51 किलो) , सोनिया चहल (57 किलो)और शिवा थापा (63 किलो) को टॉप्स डेवलपमेंटल ग्रुप से कोर ग्रुप में शामिल किया गया है।







जम्मू-कश्मीर बैंक की स्टार तिकड़ी आईलीग में रीयल कश्मीर एफसी के लिए खेलेगी

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  नवंबर 30, 2020   14:08
  • Like
जम्मू-कश्मीर बैंक की स्टार तिकड़ी आईलीग में रीयल कश्मीर एफसी के लिए खेलेगी
Image Source: Google

जम्मू-कश्मीर बैंक की स्टार तिकड़ी आईलीग में रीयल कश्मीर एफसी के लिए खेलेगी।अधिकारी ने बताया कि जम्मू एवं कश्मीर बैंक ने अदनान, फरहान गनी और दानिश फारूक को रीयल कश्मीर एफसी की ओर से खेलने की स्वीकृति दे दी है और ये आईलीग में क्लब का हिस्सा होंगे।

श्रीनगर। रीयल कश्मीर को कोलकाता में आईलीग में अपने अभियान से पहले मजबूती मिली जब जेएंडके बैंक ने अपने तीन मुख्य खिलाड़ियों को इस फुटबॉल क्लब की ओर से खेलने की स्वीकृति दी। टीम के अधिकारी ने रविवार को यह जानकारी दी। अधिकारी ने बताया कि जम्मू एवं कश्मीर बैंक ने अदनान, फरहान गनी और दानिश फारूक को रीयल कश्मीर एफसी की ओर से खेलने की स्वीकृति दे दी है और ये आईलीग में क्लब का हिस्सा होंगे।

इसे भी पढ़ें: 'वर्ल्ड कप हीरो' फुटबॉलर पापा बाउबा का 42 वर्ष के उम्र में निधन

उप राज्यपाल मनोज सिन्हा ने हस्तक्षेप करते हुए तीनों स्थानीय खिलाड़ियों को रीयल कश्मीर एफसी की टीम में जगह दिलाने में अहम भूमिका निभाई। रीयल कश्मीर फुटबॉल क्लब श्रीनगर का पहला क्लब है जो देश की प्रथम डिविजन फुटबॉल लीग में हिस्सा ले रहा है।







'वर्ल्ड कप हीरो' फुटबॉलर पापा बाउबा का 42 वर्ष के उम्र में निधन

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  नवंबर 30, 2020   12:49
  • Like
'वर्ल्ड कप हीरो' फुटबॉलर पापा बाउबा का 42 वर्ष के उम्र में निधन
Image Source: Google

विश्व कप में यादगार उलटफेर करने वाले सेनेगल के मिडफील्डर डियोप का निधन हो गया।फीफा ने ट्विटर पर श्रृद्धांजलि देते हुए कहा, ‘‘एक बार विश्व कप का नायक हमेशा विश्व कप का नायक रहता है।

वाशिंगटन। विश्व कप इतिहास में सबसे बड़े उलटफेर से एक में गोल करने वाले सेनेगल के लंबी कद काठी के मिडफील्डर पापा बौबा डियोप का निधन हो गया। वह 42 वर्ष के थे। फुटबॉल की संचालन संस्था फीफा ने रविवार को कहा, ‘‘फीफा सेनेगल के महान पापा बौबा डियोप के निधन की खबर सुनकर काफी दुखी है। ’’ जापान और दक्षिण कोरिया में हुए 2002 विश्व कप के शुरूआती मैच में डियोप के गोल की मदद से सेनेगल ने गत चैम्पियन फ्रांस को 1-0 से शिकस्त देकर उलटफेर किया था।

इसे भी पढ़ें: स्टीव स्मिथ फिर चमके, ऑस्ट्रेलिया ने दूसरे वनडे में भारत को रौंदकर सीरीज जीती

इस विश्व कप में सेनेगल ने पदार्पण किया था और इस जीत की बदौलत टीम क्वार्टरफाइनल तक पहुंची थी जिससे उसने किसी अफ्रीकी टीम के टूर्नामेंट में सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन की बराबरी की थी। फीफा ने ट्विटर पर श्रृद्धांजलि देते हुए कहा, ‘‘एक बार विश्व कप का नायक हमेशा विश्व कप का नायक रहता है।