अब अतीत को भुलाकर भविष्य पर ध्यान देने का समय है : नीरज चोपड़ा

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  दिसंबर 8, 2021   14:33
अब अतीत को भुलाकर भविष्य पर ध्यान देने का समय है :  नीरज चोपड़ा

भारत के भाला फेंक के स्टार खिलाड़ी नीरज चोपड़ा के लिये तोक्यो ओलंपिक की उपलब्धि अब अतीत की बात है और वह अभ्यास के लिये यहां पहुंचने के बाद आगामी वर्षों में सफलता हासिल करने पर ध्यान केंद्रित करना चाहते हैं।

चुला विस्टा (अमेरिका)। भारत के भाला फेंक के स्टार खिलाड़ी नीरज चोपड़ा के लिये तोक्यो ओलंपिक की उपलब्धि अब अतीत की बात है और वह अभ्यास के लिये यहां पहुंचने के बाद आगामी वर्षों में सफलता हासिल करने पर ध्यान केंद्रित करना चाहते हैं। चोपड़ा कोच क्लॉज बार्तोनिज की देखरेख में 90 दिन तक यहां की विश्वस्तरीय सुविधाओं में अभ्यास करेंगे। भारतीय खेल प्राधिकरण (साइ) ने पिछले शुक्रवार को उनके प्रस्ताव को तुरत-फुरत मंजूरी दे दी थी। चोपड़ा ने ट्वीट किया, ‘‘यह समय अतीत को भुलाकर भविष्य पर ध्यान केंद्रित करने का है।

इसे भी पढ़ें: श्वेता तिवारी की बेटी पलक ने शीशे के सामने जैकेट उतारकर दिया पोज, लोग बोले- उफ आफत मचा दी

प्रतियोगिता से इतर अभ्यास के लिये पहुंच गया हूं तथा और बेहतर बनने के लिये प्रक्रिया शुरू करने को उत्सुक हूं। ’’ भारतीय एथलेटिक्स महासंघ (एएफआई) के प्रस्ताव को चार घंटे के भीतर मंजूरी दे दी गयी थी ताकि यह सुनिश्चित किया जा सके कि चोपड़ा रविवार को रवाना हो सकें। प्रतिष्ठित चुला विस्टा एलीट एथलीट ट्रेनिंग सेंटर में अभ्यास के लिये लक्ष्य ओलंपिक पोडियम कार्यक्रम (टॉप्स) के तहत स्वीकृत लागत 38 लाख रुपये होगी।

इसे भी पढ़ें: RBI की Monetary Policy के बारे में सरल भाषा में समझें, शक्तिकांत दास के फैसले से आपके जीवन पर क्या असर होगा?

चोपड़ा ने लिखा, ‘‘साइ महानिदेशक, टॉप्स और एएफआई के अधिकारियों तथा इसे साकार करने में शामिल प्रत्येक व्यक्ति का आभारी हूं।’’ चोपड़ा ने तोक्यो में सात अगस्त को 87.85 मीटर भाला फेंककर एथलेटिक्स में भारत के लिये पहला ओलंपिक स्वर्ण पदक जीता था।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।



Prabhasakshi logoखबरें और भी हैं...

खेल

झरोखे से...