पुलेला गोपीचंद को उम्मीद, आगामी टूर्नामेंटों में खिलाड़ी बेहतर प्रदर्शन करेंगे

By प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क | Publish Date: Jul 15 2019 6:07PM
पुलेला गोपीचंद को उम्मीद, आगामी टूर्नामेंटों में खिलाड़ी बेहतर प्रदर्शन करेंगे
Image Source: Google

भारत के मुख्य राष्ट्रीय कोच पुलेला गोपीचंद ने स्वीकार किया कि मौजूदा साल का पहला हाफ भारतीय बैडमिंटन खिलाड़ियों के लिए काफी अच्छा नहीं रहा लेकिन उम्मीद जताई कि आगामी तीन हफ्तों में होने वाले तीन बड़े टूर्नामेंट में खिलाड़ी बेहतर प्रदर्शन करेंगे।

नयी दिल्ली। भारत के मुख्य राष्ट्रीय कोच पुलेला गोपीचंद ने स्वीकार किया कि मौजूदा साल का पहला हाफ भारतीय बैडमिंटन खिलाड़ियों के लिए काफी अच्छा नहीं रहा लेकिन उम्मीद जताई कि आगामी तीन हफ्तों में होने वाले तीन बड़े टूर्नामेंट में खिलाड़ी बेहतर प्रदर्शन करेंगे। ओलंपिक पदक विजेता पीवी सिंधू और साइना नेहवाल तथा शीर्ष पुरुष एकल खिलाड़ी किदांबी श्रीकांत के लिए मौजूदा वर्ष अब तक अच्छा नहीं रहा है। इनमें सिर्फ साइना ही इस साल खिताब जीतने में सफल रही है। इसके अलावा समीर वर्मा, बी साई प्रणीत और एचएस प्रणय के नाम भी इस साल अब तक कोई खिताब नहीं है।

इसे भी पढ़ें: US Open: सेमीफाइनल से बाहर हुए सौरभ वर्मा, थाईलैंड के खिलाड़ी से हारे

गोपीचंद ने हालांकि उम्मीद जताई कि आगामी तीन बड़े टूर्नामेंटों इंडोनेशिया ओपन, जापान ओपन और थाईलैंड ओपन में उनके खिलाड़ी बेहतर नतीजे देने में सफल रहेंगे। पूर्व आल इंग्लैंड चैंपियन गोपीचंद ने यहां एक कार्यक्रम के दौरान कहा कि मुझे लगता है कि पिछला साल कड़ा रहा। पिछले साल राष्ट्रमंडल खेलों और एशियाई खेलों में प्रदर्शन अच्छा रहा। यह साल मुश्किल है। कार्यक्रम भी काफी व्यस्त है जिससे कुछ खिलाड़ियों को चोट भी लग गई।

इसे भी पढ़ें: Canada Open: पारूपल्ली कश्यप ने जीता सिल्वर, फाइनल में लि शि फेंग से हारे



उन्होंने कहा कि अगले तीन हफ्ते काफी महत्वपूर्ण होंगे जिसमें तीन बड़े टूर्नामेंट इंडोनेशिया ओपन, जापान ओपन और थाईलैंड ओपन होने हैं और इनमें खिलाड़ियों से अच्छे प्रदर्शन की उम्मीद है। गोपीचंद ने साथ ही कहा कि हाल में नए कोचों की नियुक्ति और ट्रेनिंग से खिलाड़ियों को फायदा होगा। गोपीचंद ने कहा कि हाल में हमने नए कोचों की भी नियुक्ति की है, पिछले छह महीने से उनके साथ काम हो रहा था इसलिए इस दौरान नतीजों में उतार-चढ़ाव देखने को मिला। हमें पहली बार चार हफ्ते की ट्रेनिंग का मौका मिला है और इस दौरान खिलाड़ियों ने कड़ी मेहनत की। उम्मीद करते हैं कि इस ट्रेनिंग का फायदा आगामी तीन टूर्नामेंटों में मिलेगा।

रहना है हर खबर से अपडेट तो तुरंत डाउनलोड करें प्रभासाक्षी एंड्रॉयड ऐप   


Related Story