सिंधू को हराकर साइना फिर बनी राष्ट्रीय चैम्पियन, सौरभ की खिताबी हैट्रिक

senior-national-championship-final-saina-nehwal-retains-title
साइना नेहवाल ने पी वी सिंधू को सीधे गेमों में हराकर 83वीं योनेक्स सनराइज सीनियर बैडमिंटन राष्ट्रीय चैम्पियनशिप में महिला एकल खिताब बरकरार रखा।

गुवाहाटी। साइना नेहवाल ने पी वी सिंधू को सीधे गेमों में हराकर 83वीं योनेक्स सनराइज सीनियर बैडमिंटन राष्ट्रीय चैम्पियनशिप में महिला एकल खिताब बरकरार रखा। तीन बार की चैम्पियन साइना ने अपने शानदार स्मैश का पूरा इस्तेमाल करते हुए दो बार की विजेता सिंधू को 21–18, 21–15 से मात दी। पिछली बार नागपुर में खेले गए टूर्नामेंट के फाइनल में भी 2012 ओलंपिक कांस्य पदक विजेता साइना ने सिंधू को हराया था। उसने 2016 रियो ओलंपिक रजत पदक विजेता सिंधू को गोल्ड कोस्ट राष्ट्रमंडल खेल के फाइनल में भी मात दी थी। 

इसे भी पढ़ें: साइना नेहवाल ने कोर्ट को बताया खराब, खेलने से मना किया

इससे पहले सौरभ वर्मा ने युवा लक्ष्य सेन को सीधे गेम में हराकर लगातार तीसरी बार सीनियर बैडमिंटन राष्ट्रीय खिताब जीत लिया। इससे पहले 2011 और 2017 में खिताब जीत चुके सौरभ ने एशियाई जूनियर चैम्पियन 17 बरस के लक्ष्य को 21–18, 21–13 से मात दी। सीनियर राष्ट्रीय फाइनल्स में यह उनका दूसरा मुकाबला था। सौरभ ने 2017 में भी जीत दर्ज की थी। इससे पहले दूसरी वरीयता प्राप्त प्रणाव जेरी चोपड़ा और चिराग शेट्टी ने शीर्ष वरीयता प्राप्त अर्जुन एम आर और श्लोक रामचंद्रन को 21–13, 22–20 से हराकर पुरूष युगल खिताब जीता। प्रणाव का यह तीसरा राष्ट्रीय खिताब है।

इसे भी पढ़ें: शटलर साइना नेहवाल ने जीता इंडोनेशिया मास्टर्स खिताब

पुरूष एकल फाइनल में मुकाबला बराबरी का था क्योंकि दोनों खिलाड़ी काफी आक्रामक खेल रहे थे। पहले 12 अंक तक स्कोर बराबर रहा। लक्ष्य ने बाद में पांच अंक लेकर स्कोर 11–6 कर दिया। ब्रेक के बाद सौरभ ने वापसी करते हुए अंतर 11–12 का किया और फिर बढत बना ली। लक्ष्य के कमजोर रिटर्न का फायदा उठाकर सौरभ ने पहला गेम अपने नाम किया। दूसरे गेम में सौरभ ने 3–0 की बढत बना ली लेकिन उसकी सहज गलतियों के दम पर लक्ष्य ने वापसी करके स्कोर 4–4 कर लिया। ब्रेक तक सौरभ ने फिर वापसी करके 11–7 की बढत बनाई जब लक्ष्य का स्मैश नेट के भीतर चला गया। सौरभ को 20–11 पर मैच प्वाइंट मिला। शटल नेट के भीतर जाने से पहले लक्ष्य ने दो मैच अंक बचाये थे।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


अन्य न्यूज़