यौन शोषण के आरोपों पर आया WFI के अध्यक्ष का बयान, कहा- अगर ऐसा कुछ हुआ है तो मैं फांसी लगा लूंगा

Brijbhushan Sharan Singh
ANI Image
रितिका कमठान । Jan 18, 2023 6:55PM
दिल्ली के जंतर मंतर पर 18 जनवरी को देश के दिग्गज पहलवान धरने पर क्या बैठे पूरा माहौल गर्मा गया। एक तरफ दिग्गज रेस्लरों ने भारतीय कुश्ती महासंघ के अध्यक्ष बृजभूषण शरण सिंह पर कई गंभीर आरोप लगाए है। इसमें यौन शोषण किए जाने का आरोप भी शामिल है।

दिल्ली के जंतर मंतर पर भारत के रेसलरों ने 18 जनवरी को जोरदार प्रदर्शन करते हुए भारतीय कुश्ती महासंघ के अध्यक्ष बृजभूषण शरण सिंह पर कई गंभीर आरोप लगाए है। महिला पहलवान विनेश फोगाट ने बृजभूषण शरण सिंह पर महिला कोच और खिलाड़ियों के यौन शोषण का भी गंभीर आरोप लगाया है। इस आरोप के बाद खुद भारतीय कुश्ती महासंघ के अध्यक्ष बृजभूषण शरण सिंह ने बयान जारी किया है।

उन्होंने पहलवानों पर हमला बोलते हुए कहा कि इन सभी पहलवानों को महासंघ से बीते 10 वर्षों से परेशानी नहीं हुई थी। मुद्दे तब सामने आते हैं जब नए नियम और विनियम लाए जाते हैं। उन्होंने प्रदर्शन कर रहे पहलवानों को लेकर कहा कि जो भी पहलवान धरने पर बैठे हैं इनमें से किसी पहलवान ने ओलंपिक खेलने के बाद किसी राष्ट्रीय टूर्नामेंट में हिस्सा नहीं लिया है।

वहीं योन उत्पीड़न के मामले पर भी भारतीय कुश्ती महासंघ के अध्यक्ष बृजभूषण शरण सिंह ने जवाब दिया है। उन्होंने कहा कि क्या कोई व्यक्ति सामने आकर कह सकता है कि फेडरेशन के सदस्यों ने किसी एथलीट को परेशान किया है। ये बयान उन्होंने विनेश फोगाट और साक्षी मलिक द्वारा यौन उत्पीड़न के आरोपों को लेकर दिया है। उन्होंने कहा कि यौन उत्पीड़न का कोई मामला फेडरेशन में नहीं हुआ है। अगर ऐसा हुआ है तो मैं फांसी लगा लूंगा। उन्होंने कहा कि यौन उत्पीड़न एक बड़ा आरोप है। जब मेरा ही नाम इसमें घसीटा गया है तो मैं कैसे कार्रवाई कर सकता हूं? मैं जांच के लिए तैयार हूं।

विनेश फोगाट पर साधा निशाना

इस दौरान बृजभूषण शरण सिंह ने पदक विजेता विनेश फोगाट पर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि मैं विनेश फोगट से पूछना चाहता हूं कि उन्होंने ओलंपिक में कंपनी के लोगो वाली पोशाक क्यों पहनी थी? मैच हारने के बाद, मैंने केवल उसे प्रोत्साहित और प्रेरित किया था।

विनेश फोगाट ने लगाए थे गंभीर आरोप

प्रदर्शन के दौरान विनेश फोगाट ने बृजभूषण शरण सिंह पर तानाशाही रवैया अपनाने समेत कई गंभीर आरोप लगाए। इस दौरान पहलवान विनेश फोगाट ने कहा कि वे हमारे निजी जीवन में दखल देते है। फेडरेशन के अध्यक्ष हमें काफी परेशान करते हैं। हमारा शोषण किया जा रहा है। कोच महिलाओं को प्रताड़ित कर रहे हैं और फेडरेशन के चहेते कुछ कोच महिला कोचों के साथ भी बदसलूकी करते हैं। वे लड़कियों का यौन उत्पीड़न करते हैं। डब्ल्यूएफआई अध्यक्ष ने कई लड़कियों का यौन उत्पीड़न भी किया है। बता दें कि 18 जनवरी को देश के कई रेसलरों ने मिलकर जंतर मंतर पर प्रदर्शन किया था और भारतीय कुश्ती महासंघ के खिलाफ कार्रवाई की मांग की थी।

अन्य न्यूज़