अफगानिस्तान की महिला राष्ट्रीय फुटबॉल टीम के सदस्यों को काबुल से निकाला गया

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  अगस्त 24, 2021   18:21
अफगानिस्तान की महिला राष्ट्रीय फुटबॉल टीम के सदस्यों को काबुल से निकाला गया

तालिबान के शासनकाल में महिलाओं को खेल खेलने की स्वीकृति नहीं थी और ऐसा करने को अवज्ञा के रूप देखा जाता था। खिलाड़ियों को इस महीने सोशल मीडिया पोस्ट और टीम के साथ उनकी तस्वीरें हटाने को कहा गया था जिससे कि अमेरिका के समर्थन वाली अफगानिस्तानी सरकार के गिरने के बाद उनके खिलाफ कार्रवाई से बचा जा सके।

काबुल। अफगानिस्तान की महिला राष्ट्रीय फुटबॉल टीम की सदस्यों को मंगलवार को काबुल से निकाला गया। महिला फुटबॉल टीम की सदस्य75 से अधिक लोगों के उस समूह में शामिल थीं जिसने मंगलवार को काबुल से विमान में उड़ान भरी। फुटबॉल खिलाड़ियों की वैश्विक यूनियन ‘फिफप्रो’ ने जितना संभव हो उतने खिलाड़ियों, टीम अधिकारियों और उनके परिवार के सदस्यों को निकालने में मदद के लिए आस्ट्रेलियाई सरकार को धन्यवाद दिया है। अफगानिस्तान से और अधिक लोगों को निकालने का काम जारी है। यूनियन ने बयान में कहा, ‘‘ये युवा महिलाएं, खिलाड़ी और कार्यकर्ता दोनों के रूप में खतरे में थी और दुनिया भर में इनके साथियों की ओर से इनकी मदद को आगे आने के लिए हम अंतरराष्ट्रीयसमुदाय को धन्यवाद देते हैं।’’ अफगानिस्तान की महिला फुटबॉल टीम का गठन 2007 में किया गया था।

इसे भी पढ़ें: सलाम तालिबान गीत गा रहीं पाक महिलाएं, PoK में आतंकी नाच-गाकर मना रहे Taliban की जीत का जश्न

तालिबान के शासनकाल में महिलाओं को खेल खेलने की स्वीकृति नहीं थी और ऐसा करने को अवज्ञा के रूप देखा जाता था। खिलाड़ियों को इस महीने सोशल मीडिया पोस्ट और टीम के साथ उनकी तस्वीरें हटाने को कहा गया था जिससे कि अमेरिका के समर्थन वाली अफगानिस्तानी सरकार के गिरने के बाद उनके खिलाफ कार्रवाई से बचा जा सके। टीम की पूर्व कप्तान खालिदा पोपल ने कहा, ‘‘पिछले कुछ दिन काफी तनावपूर्ण रहे लेकिन आज हमने महत्वपूर्ण जीत हासिल की है।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।