विश्व तीरंदाजी ने शर्तों के साथ भारत पर लगा बैन हटाया, तीरंदाज दीपिका ने जताई खुशी

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  जनवरी 24, 2020   11:55
विश्व तीरंदाजी ने शर्तों के साथ भारत पर लगा बैन हटाया, तीरंदाज दीपिका ने जताई खुशी

विश्व तीरंदाजी ने भारतीय तीरंदाजी महासंघ के चुनाव के एक सप्ताह के भीतर उस पर लगा निलंबन हटा दिया। भारत की शीर्ष रैंकिंग की महिला तीरंदाज दीपिका कुमारी राष्ट्रीय महासंघ से निलंबन हटाये जाने से खुश हैं और वह चाहती हैं कि खेल के प्रशासक भविष्य में फिर से इसी गलती का दोहराव नहीं करें।

कोलकाता। विश्व तीरंदाजी ने भारतीय तीरंदाजी महासंघ के चुनाव के एक सप्ताह के भीतर उस पर लगा निलंबन हटा दिया। विश्व तीरंदाजी ने एक बयान में कहा कि महासंघ को विश्व तीरंदाजी के संविधान और नियमों का पालन करते हुए अच्छा प्रशासन देना होगा। भारतीय तीरंदाजों को निलंबन के कारण एशियाई चैम्पियनशिप में तटस्थ खिलाड़ियों के तौर पर उतरना पड़ा था। अब वे तिरंगे तले खेल सकेंगे। भारत को अगला टूर्नामेंट तीन सप्ताह के भीतर लास वेगास में इंडोर विश्व सीरिज में खेलना है। 

इसे भी पढ़ें: अंडर 19 विश्व कप न्यूजीलैंड के खिलाफ लय बरकरार रखने उतरेगा भारत

भारत की शीर्ष रैंकिंग की महिला तीरंदाज दीपिका कुमारी राष्ट्रीय महासंघ से निलंबन हटाये जाने से खुश हैं और वह चाहती हैं कि खेल के प्रशासक भविष्य में फिर से इसी गलती का दोहराव नहीं करें। दुनिया की पूर्व नंबर एक तीरंदाज ने पुणे से कहा कि हर कोई निलंबन के हटाये जाने से खुश है। हम अब अपने देश का प्रतिनिधित्व कर सकते हैं। हम अब उम्मीद करते हैं कि एएआई बीती गलतियों को फिर से नहीं दोहराये और उसे इनसे सीख लेनी चाहिए। 

इसे भी पढ़ें: आखिर क्यों मैच से एक दिन पहले कप्तानी छोड़ना चाहते हैं केन विलियमसन?

उन्होंने कहा कि हमें अब अपना कार्यक्रम पहले से पता चल जाना चाहिए ताकि हम तैयार रह सकें। उम्मीद है कि अब हम ट्रेनिंग करेंगे और प्रविष्टियां अब अंतिम समय पर नहीं भेजी जायेंगी। अगर सबकुछ समय से होगा तो इससे हमें मदद मिलेगी। हमारी यह उम्मीदें हैं। भारतीय तीरंदाजी संघ के नव नियुक्त अध्यक्ष अर्जुन मुंडा ने अपने ट्विटर हैंडल पर लिखा कि विश्व तीरंदाजी महासंघ ने भारतीय तीरंदाजी संघ से प्रतिबंध हटा लिया है। अब भारतीय तीरंदाज नये उत्साह से विश्व मंच पर उतरेंगे। शुक्रिया विश्व तीरंदाजी महासंघ।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।