दिवाली पर रहें सावधान वरना यह चीजें पहुंचा सकती हैं नुकसान

दिवाली पर रहें सावधान वरना यह चीजें पहुंचा सकती हैं नुकसान

धनतेरस से शुरू होकर भैया दूज के बाद तक चलता रहता है। ऐसे में अगर सावधानीपूर्वक ना रहा जाए तो सेहत पर इसका दुष्प्रभाव भी देखने को मिलता है। तो आज हम आपको ऐसी ही कई चीजों के बारे में बताएंगे जिन से सावधान रहकर आप अपने दीवाली को खुशहाली के साथ मना पाएंगे।

भारत को त्यौहारों का देश यूं ही नहीं कहा जाता है। यहां हर दूसरे महीने कोई न कोई बड़ा त्यौहार जरूर आता है।

साथ ही यहाँ त्यौहारों की जबरदस्त तैयारियां भी होती हैं। भारत में मुख्य रूप से होली, दीवाली, दशहरा जैसे त्यौहारों को बड़े ही धूमधाम और भव्य तरीके से मनाया जाता है। खासकर दीवाली में घरों की सजावट से लेकर खान पान का लंबा सिलसिला जारी रहता है।

यह धनतेरस से शुरू होकर भैया दूज के बाद तक चलता रहता है। ऐसे में अगर सावधानीपूर्वक ना रहा जाए तो सेहत पर इसका दुष्प्रभाव भी देखने को मिलता है। तो आज हम आपको ऐसी ही कई चीजों के बारे में बताएंगे जिन से सावधान रहकर आप अपने दीवाली को खुशहाली के साथ मना पाएंगे।

नकली मिठाइयों से रहें सावधान

त्यौहार चाहे कोई भी हो, मुंह मीठा करने का चलन बहुत ही पुराना है।  भारत में मिठाइयों को लेकर लोगों के अंदर अलग ही क्रेज रहता है। त्यौहारों के दौरान आपको मिठाईयों की बहुत सारी वैराइटी देखने को मिल जाएगी। हालांकि बाज़ारीकरण के इस दौर में व्यापारी मुनाफ़ा कमाने के चक्कर में लोगों की सेहत के साथ खिलवाड़ करने से भी परहेज नहीं कर रहे हैं और नकली मिठाइयों का कारोबार खूब तेजी से फैलने लगा है। 

चूंकि त्यौहारों में मिठाइयों की डिमांड ज्यादा होती है, ऐसे में नकली, ख़राब क्वालिटी की मिठाइयां बाजार में धड़ल्ले से बिकनी शुरू हो जाती हैं। ऐसे में त्यौहार के दौरान आप भी बाजार से भर भर के मिठाई अपने घर लाते हैं तो आपको सावधान हो जाने की जरूरत है। कई बार यह जहरीली मिठाइयां जो कि सिंथेटिक चीजों और नकली सामानों से मिलकर तैयार की जाती हैं, वह आपकी सेहत के लिए जहर के बराबर कार्य करती हैं। 

इनके दुष्प्रभाव से स्थाई तौर पर आपके अंगों को नुकसान पहुंच सकता है। अगर आपके लिए मिठाई खरीदना अनिवार्य ही है, तो आप उन्हीं दुकान से मिठाई लें, जिन पर आपको पूरा भरोसा है कि वह मिलावट नहीं करेंगे। इतना ही नहीं, आप वही मिठाई लें, जिसमें मिलावट की सम्भावना कम हो। जितना संभव हो सके बाजार की कृत्रिम मिठाइयों को अवॉइड करें और घर पर ही कुछ मीठा बना लें।

नकली डेयरी प्रोडक्ट

त्यौहारों में डेयरी प्रोडक्ट की डिमांड भी बहुत तेजी से बढ़ जाती है। इसमें खोया, दूध, पनीर आदि शामिल हैं। जैसा कि सभी जानते हैं जब डिमांड होगी तो उसको पूरा करने के लिए और मुनाफा कमाने के लिए तेजी से मिलावट किया जायेगा और नकली डेयरी प्रोडक्ट को बाजार में उतारा जायेगा। अक्सर आप खबरों में पढ़ते या सुनते होंगे कि मिलावटखोर यूरिया और डिटर्जेंट तथा केमिकल की सहायता से नकली दूध तैयार करते हैं। ऐसे ही सिंथेटिक खोया और पनीर भी बाजार में उतारा जाता है। ऐसे में त्यौहारों के दौरान बाजार से दूध, खोया और पनीर खरीदने से पूर्व 100 बार जरूर सोचें। 

आप कोशिश करें कि अपने विश्वास पात्र दुकान से ही दूध लें और घर पर ही पनीर तथा खोया बनायें।

नकली पटाखों से सावधान

हालांकि दीवाली रौशनी का त्यौहार है और पुराने समय से ही लोग अपने घरों में दिए जलाकर अपनी खुशी का इजहार करते आए हैं और इस त्यौहार को मनाते हैं। लेकिन आज के दिन पटाखे फोड़ने की परंपरा कब हमारे त्यौहार में घुस गई, किसी को शायद ही इसका पता होगा। 

वस्तुतः यह इस कदर बढ़ गया है कि लोगों की मानसिकता का फायदा उठाकर मार्केट में खतरनाक और नकली पटाखे तक धड़ल्ले से बेचे जाने लगे हैं। ये नकली पटाखे ना केवल पर्यावरण को नुकसान पहुंचाते हैं, बल्कि इंसानों की सेहत के लिए भी काफी नुकसानदेह साबित होते हैं। नकली पटाखों से निकलने वाली जहरीली गैस से ना केवल आपके फेफड़े  क्षतिग्रस्त होते हैं, बल्कि इनके धुएं से बच्चों और बुजुर्गों को सांस लेने में काफी तकलीफ का सामना करना पड़ता है। 

ऐसे में आप भारत सरकार द्वारा तय किए गए मानक के अनुसार ग्रीन पटाखे ही खरीदें और ऐसे पटाखों का प्रयोग करें जो कि आवाज में हल्के हों और अधिक धुंआ उत्पन्न नहीं करते हों। साथ ही बच्चों द्वारा पटाखे चलाने को लेकर भी आपको खासा अलर्ट रहना चाहिए।

अत्यधिक ऑइली और मीठा खाना

त्यौहारों के दौरान घरों में खूब पकवान पकते हैं और लोग जमके इसका मजा उठाते हैं। इतना ही नहीं अपने घर के साथ-साथ रिश्तेदारों और पड़ोसियों के घरों से भी हमें न्योता आते हैं पकवानों को खाने के लिए। ऐसे में त्यौहारों के दौरान बेहद सावधान रहने की जरूरत है, क्योंकि घर का खाना कितना भी शुद्ध क्यों ना हो, लेकिन ऑयली और मसालेदार खाने से आपकी सेहत को नुकसान पहुँचता है। 

तो त्यौहारों के दौरान आपको सावधान हो जाने की जरूरत है, क्योंकि इस दौरान तेजी से आपका वजन बढ़ने लगता है जो कि कहीं ना कहीं आप को नुकसान पहुंचाता है। ऐसे में त्योहारों के दौरान संतुलित आहार लेना बहुत आवश्यक है और ऐसा नहीं है कि आप बिल्कुल ही पकवानों से तौबा कर लें, बल्कि इन्हें संतुलित मात्रा में लेंगे तो आपकी सेहत को नुकसान नहीं पहुंचेगा। 

बाजार में मिलने वाले ड्रिंक

त्यौहारों के दौरान हम अक्सर बाजार से ड्रिंक ले आते हैं, जिनमें कोल्ड ड्रिंक और फ्लेवर वाले जूस शामिल होते हैं। इन ड्रिंक्स में कई तरीके के केमिकल और आर्टिफिशियल कलर होते हैं, इसलिए हमें इन चीजों से परहेज करना चाहिए। हमें कोशिश करनी चाहिए कि घर पर ही ताजे फलों का जूस तैयार किया जाए जो कि स्वादिष्ट होने के साथ ही सेहत के लिए भी बहुत फायदेमंद होता है। 

- विंध्यवासिनी सिंह