सुशांत की मौत के बाद इस मुद्दे पर खौला बॉलीवुड का खून, सितारों ने कहा- इससे ज्यादा क्रूरता क्या होगी

सुशांत की मौत के बाद इस मुद्दे पर खौला बॉलीवुड का खून, सितारों ने कहा- इससे ज्यादा क्रूरता क्या होगी

तमिलनाडु में कथित पुलिस उत्पीड़न की वजह से पिता-पुत्र पी जयराज और जे फेनिक्स की हुई मौत की प्रियंका चोपड़ा, करीना कपूर और तापसी पन्नू सहित तमाम बॉलीवुड हस्तियों ने निंदा की है और पीड़ितों को न्याय दिलाने की मांग की है।

जब से सोशल मीडिया का दौर आया है तब से  हर कोई किसी भी मुद्दे पर खुलकर अपनी बात रख सकता है। उस इंसान को फॉलो करने वालों तक उसकी बाद आसानी से पहुंच जाती हैं। एक दौर था जब फिल्मी सितारे केवल फिल्मी जगत कर की सीमित थे। सोशल मीडिया के आने से अब सितारों के विचार केवल फिल्म जगत की खबरों तक ही सीमीत नहीं हैं बक्लि देश-दुनिया में क्या हो रहा हैं उन सभी मुद्दों पर खुल कर बता सकते है, अपनी राजनीतिक सोच के बारे में भी बात करते हैं। हाल ही में एक तमिलनाडु से एक दर्दनाक घटना सामने आयी। लॉकडाउन के नियमों का उल्लंघन कर मोबाइल की दुकान खोलने के आरोप में पुलिस ने तमिलनाडु के तूतिकोरिन जिले के सातनकुलम से जयराज और फेनिक्स को गिरफ्तार किया था। दोनों की कोविलपट्टी के अस्पताल में 23 जून को मौत हो गई थी। पुलिसवालों पर परिवार वालों ने आरोप लगाया है कि पिता-पी जयराज और बेटा- फेनिक्स  को पुलिस  हिरासत में इतना प्रताड़ित किया गया जिसके कारण उन दोनों की मौत हो गयी। 

 

इसे भी पढ़ें: रामायण के लक्ष्मण का फीमेल लुक देखकर हैरान हुए फैंस, सुनील लहरी शेयर की तस्वीर

 

जब से  यह खबर सामने आयी है तक से हर कोई ऐसी घटनाओं की आलोचना कर रहा है।  पुलिस की इस हरकत एक बार फिर पुलिस पर सवाल खड़ा हो गया है। लोगों के साथ-साथ बॉलीवुड के सितारों ने भी एक सुर में इस घटना की आलोचना की हैं। तमिलनाडु में कथित पुलिस उत्पीड़न की वजह से पिता-पुत्र पी जयराज और जे फेनिक्स की हुई मौत की प्रियंका चोपड़ा, करीना कपूर और तापसी पन्नू सहित तमाम बॉलीवुड हस्तियों ने निंदा की है और पीड़ितों को न्याय दिलाने की मांग की है।

 प्रियंका चोपड़ा 

प्रियंका चोपड़ा ने ट्वीट कर कहा, ‘‘ इस तरह की क्रूरता उन्हें क्रोधित करती है और दोषी को सजा मिलनी चाहिए।’’ उन्होंने कहा, ‘‘ जो मैं सुन रही हूं उससे बिल्कुल स्तब्ध, दुखी और क्रोधित हूं।किसी भी इंसान के साथ इस तरह की क्रूरता नहीं की जा सकती चाहे उसका अपराध कुछ भी हो। दोषी को बिना सजा दिए नहीं छोड़ा जाना चाहिए। हमें ठोस कार्रवाई चाहिए।’’ प्रियंका ने आगे लिखा, ‘‘ मैं उस पीड़ा की कल्पना भी नहीं कर सकती जिससे पीड़ित परिवार गुजर रहा है। मैं उनके लिए प्रार्थना करती हूं। हमें अपनी सामूहिक आवाज का इस्तेमाल जयराज और फेनिक्स को न्याय दिलाने में करना चाहिए।’’

 

इसे भी पढ़ें: संजय दत्त की फिल्म सड़क 2 ओटीटी पर होगी रिलीज, मुकेश भट्ट ने कहा- इसके अवाला और कोई विकल्प नहीं!

 

 करीना कपूर खान

करीना ने इंस्टाग्राम के माध्यम से कहा कि सभी को इस बात का प्रयास करना चाहिए कि ऐसी घटना दोबारा नहीं हो। उन्होंने लिखा, ‘‘चाहे कोई भी परिस्थिति हो इस तरह की क्रूरता अस्वीकार्य है। एक समाज के तौर पर मैं इस पर तब तक बोलना जारी रखूंगी जब तक न्याय नहीं मिलता और यह प्रयास करूंगी कि दोबारा ऐसी घटना नहीं हो।’’ उल्लेखनीय है कि पिता-पुत्र की मौत की घटना सामने आने के बाद सोशल मीडिया में नाराजगी देखी जा रही है और हैशटैग जस्टिस फॉर जयराज एंड फेनिक्स ट्रेंड कर रहा है।

 

तापसी पन्नू  

तापसी पन्नू ने कहा कि वह घटना के बारे में पढ़कर दुखी हैं। उन्होंने ट्वीट किया, ‘‘यह संभवत: कई घटनाओं में महज एक घटना है लेकिन एक घटना से ही असर शुरू होता है। हैशटैग जस्टिस फॉर जयराज ऐंड फेनिक्स। यह किसी के भी साथ हो सकता है। घटना का विवरण भयभीत और दुखी करने वाला है।

 

परिणीति चोपड़ा  

पुलिस की तीखी आलोचना करते हुए परिणीति चोपड़ा ने कहा कि यह कल्पना से परे है कि जो व्यवस्था लोगों की रक्षा के लिए बनी है वही उनके विरुद्ध हो गई। उन्होंने ट्वीट किया , ‘‘ जब हम खतरे में होते हैं तो पुलिस के पास जाते हैं। वे कैसे खुद खतरा हो सकते हैं? प्रत्येक पुलिस कर्मी जो इस घटना में शामिल है उसको सजा मिलनी चाहिए। मैं उस दर्द की कल्पना भी नहीं कर सकती जो पिता और पुत्र ने झेली। हैशटैग जस्टिस फॉर जयराज ऐंड फेनिक्स।’’

 

रितेश देशमुख

घटना को ‘राष्ट्रीय शर्म’ करार देते हुए अभिनेता रितेश देशमुख ने कहा, ‘‘ इस घटना के बारे में पढ़ कर मेरी रुह तक कांप जाती है। हमें इस बर्बर और क्रूरता के खिलाफ एकजुट होना चाहिए।’’ अभिनेता और कॉमेडियन वीर दास ने कहा कि उनकी मौत डरावनी और गलत है और प्रत्येक व्यक्ति को शीघ्र कार्रवाई की मांग करनी चाहिए।

 

उल्लेखनीय है कि इस घटना से पूरे देश में गुस्से का माहौल पैदा हो गया है जिसके बाद दो उपनिरीक्षकों सहित चार पुलिस कर्मियों को निलंबित कर दिया गया। मुख्यमंत्री के पलानीस्वामी ने रविवार को घोषणा की कि उनकी सरकार ने इस मामले की जांच केंद्रीय अन्वेषण ब्यूरो (सीबीआई) को सौंपने का फैसला किया है।