रिलीज से पहले निशाने पर अक्षय कुमार की फिल्म रक्षा बंधन, राइटर कनिका ढिल्लों है बड़ा कारण!

 Kanika Dhillon
@AkshayKumar
रेनू तिवारी । Aug 03, 2022 4:39PM
अक्षय कुमार अभिनीत फिल्म 'रक्षा बंधन' 11 अगस्त 2022 को रिलीज होने के लिए तैयार है। 11 अगस्त को रक्षाबंधन के त्योहार का दिन है जो भाई और बहन के बीच बंधन का जश्न मनाता है। हालाँकि फिल्म अपनी नाटकीय रिलीज़ से कुछ ही दिन पहले ही सोशल मीडिया पर ट्रेंड कर रही हैं।

अक्षय कुमार अभिनीत फिल्म 'रक्षा बंधन' 11 अगस्त 2022 को रिलीज होने के लिए तैयार है। 11 अगस्त को रक्षाबंधन के त्योहार का दिन है जो भाई और बहन के बीच बंधन का जश्न मनाता है। हालाँकि फिल्म अपनी नाटकीय रिलीज़ से कुछ ही दिन पहले ही सोशल मीडिया पर ट्रेंड कर रही हैं। आमिर खान की फिल्म लाल सिंह चड्ढा के बहिष्कार के बाद अब फिल्म रक्षाबंधन का भी बहिष्कार करने की मांग हो रही हैं। फिल्म की लेखक कनिका ढिल्लों के हिंदूफोबिक ट्वीट्स सोशल मीडिया पर वायरल होने के बाद फिल्म विवादों में आ गई है #KanikaDhillon और #BoycottRakshaBandhanMovie ट्वीटर पर ट्रेंड हो रहा हैं। 

इसे भी पढ़ें: आमिर खान की फिल्म Laal Singh Chaddha पर किया मिलिंद सोमन ने कमेंट, यहां पढ़ें क्या लिखा?

दरअसल पूरा मामला यह है कि  फिल्म 'रक्षा बंधन' की लेखक कनिका ढिल्लों ने मोदी सरकार और बीजेपी के खिलाफ कई ट्विट्स किए हैं। उन्होंने ईद के मौके पर सभी को बधाई दी लेकिन हिंदू त्यौहारों की आलोचना की। उन्होंने हिंदू संस्कृति को भी अपनी पोस्ट में कई बार टारगेट किया हैं। पुराने ट्विट्स का स्क्रीनशॉट लेकर अब सोशल मीडिया पर कनिका ढिल्लों द्वारा लिखी गयी फिल्म  'रक्षा बंधन' के बहिष्कार की मांग हो रही हैं। एक ट्विट में कनिका ने लिखा था पार्किंग में हॉस्पिटल में बेड मिलने का इंतजार करते हुए मर रहे हैं... ये अच्छे दिन हैं. इंडिया सुपर पावर है. और गौ माता के मूत्र पीने से कोविड चला जाएगा।

फिल्म के लीड एक्टर अक्षय कुमार ने ट्वीट किया था, “सबसे खास बंधन का जश्न मनाने वाली एक फिल्म जहां वास्तव में बहुत अधिक बॉन्डिंग थी। इस बेहद खास फिल्म के कुछ खास पलों को साझा कर रहा हूं, 1 महीने में आपके नजदीकी थिएटर में आ रहा हूं। रक्षाबंधन 11 अगस्त को सिनेमाघरों में रिलीज हो रही है।" फिल्म आमिर खान की  लाल सिंह चड्ढा के साथ ही सिनेमाघरों में रिलीज के लिए तैयार है लेकिन उससे पहले ही फिल्म के बहिष्कार की मांग होने लगी हैं।

अन्य न्यूज़