पांच अलग-अलग पृष्ठभूमि की महिलाओं से जुड़ा है हैलो ज़िंदगी नाटक

By प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क | Publish Date: Mar 17 2019 5:07PM
पांच अलग-अलग पृष्ठभूमि की महिलाओं से जुड़ा है हैलो ज़िंदगी नाटक
Image Source: Google

‘इतिहास‘ और ‘बालिका वधू’ जैसे धारावाहिक में अहम किरदार निभा चुकी बंसल के इस नाटक का कथानक पांच अलग-अलग पृष्ठभूमि की महिलाओं से जुड़ा है जो एक बड़े शहर के एक अपार्टमेंट में रहती हैं।

नयी दिल्ली। शहरों में हमारी जिंदगी की सीमाएं अपार्टमेंट, फ्लैट और कामकाज के बीच सिमटी लगती हैं। कई बार इस जद्दोजहद से बचने के लिए हम ऐसे निर्णय लेते हैं जो हमारी सीधी-सरल जिंदगी को उलझा के रख देते हैं। छोटे परदे की कलाकार स्मिता बंसल ने जीवन के इसी फलसफे को पिरोया है ‘‘हैलो जिंदगी’’ नाटक में। ‘इतिहास‘ और ‘बालिका वधू’ जैसे धारावाहिक में अहम किरदार निभा चुकी बंसल के इस नाटक का कथानक पांच अलग-अलग पृष्ठभूमि की महिलाओं से जुड़ा है जो एक बड़े शहर के एक अपार्टमेंट में रहती हैं। ये महिलाएं पूर्व फिल्म अभिनेत्री से लेकर कामकाजी महिला, तलाकशुदा और घरेलू इत्यादि की पृष्ठभूमि रखती हैं। उनके जिंदगी जीने के नजरियों को इस नाटक में बुना गया है।

‘हैलो जिंदगी’ के निर्देशक रमन कुमार ने बताया, ‘‘हैलो ज़िंदगी! के माध्यम से हमने यह दिखाने की कोशिश की है कि ऊपर वाले ने ज़िंदगी को काफी खूबसूरत बनाया है, लेकिन हम ही खुद अपने लिए समस्याएं खड़ी कर लेते हैं। इससे कष्ट और समस्याएं जन्म लेती हैं। ज़िंदगी में कोई शार्टकट नहीं होते, आपकी जिंदगी जितनी सरल होगी, यह खुशियों से भी उतनी ही भरी होगी।’’


इस नाटक में सिने तारिका मिनीषा लांबा, गुड्डी मारुति, डेलनाज ईरानी, चित्रा शीरावत और किश्वर मर्चेंट ने अहम भूमिका निभायी है।
लांबा जहां इस नाटक में पूर्व फिल्म अभिनेत्री की भूमिका निभा रही हैं वहीं गुड्डी मारुति घरेलू महिला की भूमिका में हैं। ईरानी एक होटल व्यवसायी बनी हैं जिनकी मदद रावत का किरदार करता है। वहीं मर्चेंट इस नाटक में लांबा की सहेली का किरदार अदा कर रही हैं। हाल ही में इस नाटक का मंचन अहमदाबाद में हुआ। 23 मार्च को यह नाटक दिल्ली के कमानी ऑडिटोरियम में होना है।
 


रहना है हर खबर से अपडेट तो तुरंत डाउनलोड करें प्रभासाक्षी एंड्रॉयड ऐप