केजीएफ 2 के अभिनेता यश ने कहा, कन्नड़ फिल्मों को अलग पहचान दिलाना चाहता हूं

Yash
ani
कन्नड़ फिल्म ‘केजीएफ’ के अभिनेता यश का कहना है कि सिनेमा जगत में कोई अभिनेता या तो धीरे-धीरे सफलता की सीढ़ियां चढ़ता है अथवा रातों-रात स्टार बन जाता है, लेकिन उन्होंने अपने करियर में दोनों ही पक्षों का अनुभव किया है। यश ने 2008 में ‘मोगिना मनसु’ फिल्म के साथ कन्नड़ फिल्म जगत में अपने करियर की शुरुआत की थी।

नयी दिल्ली। सुपरहिट कन्नड़ फिल्म ‘केजीएफ’ के अभिनेता यश का कहना है कि सिनेमा जगत में कोई अभिनेता या तो धीरे-धीरे सफलता की सीढ़ियां चढ़ता है अथवा रातों-रात स्टार बन जाता है, लेकिन उन्होंने अपने करियर में दोनों ही पक्षों का अनुभव किया है। यश ने 2008 में ‘मोगिना मनसु’ फिल्म के साथ कन्नड़ फिल्म जगत में अपने करियर की शुरुआत की थी। यश का वास्तविक नाम नवीन कुमार गौड़ा है। इसके बाद यश ने ‘मोदलशाला’, ‘राजधानी’, ‘किरातक’, ‘ड्रामा’, ‘मिस्टर एंड मिसेज रामचारी’, ‘मास्टरपीस’ और ‘संथु स्ट्रेट फॉरवर्ड’ जैसी व्यावसायिक तौर पर सफल कई फिल्मों में काम किया, लेकिन प्रशांत नील द्वारा निर्देशित पीरियड एक्शन फिल्म ‘केजीएफ: चैप्टर वन’ ने 36 वर्षीय अभिनेता के करियर की दिशा ही बदलकर रख दी।

इसे भी पढ़ें: Lock Upp Update: सायशा और मंदाना करीमी ने लाइव टीवी पर किया लिप किस, देखें वायरल वीडियो

फिल्म में रॉकी के दमदार किरदार ने यश को सफलता के शीर्ष पर पहुंचा दिया। न केवल कन्नड़ फिल्म जगत, बल्कि देश के अन्य क्षेत्रों के दर्शकों ने भी यश के अभिनय को खूब पसंद किया और उन्हें आलोचकों की भी सराहना मिली। यश ने ‘पीटीआई-भाषा’ को दिए विशेष साक्षात्कार में कहा, ‘‘आम तौर पर एक अभिनेता को रातों-रात स्टार बनने का अवसर मिलता है अथवा वह कदम दर कदम इसे धीरे-धीरे अर्जित करता है। आपको यह उपलब्धि पहली फिल्म के जरिए नहीं मिलती, लेकिन यह अंततः आपको कामयाबी मिल ही जाती है, लेकिन इसमें समय लगता है।’’

इसे भी पढ़ें: स्ट्रैपलेस ड्रेस में वायरल हुआ मौनी रॉय का समर लुक, बालकनी में बैठकर दिए गजब के पोज

कन्नड़ फिल्म अभिनेता ने कहा, “फिल्म जगत में अपनी खुद की पहचान बनाने में मुझे बहुत समय लगा और फिर आखिरकार सफलता मिली। कन्नड़ फिल्म उद्योग में सफल होने के बाद, मुझे पता चला कि ‘केजीएफ’ के जरिए रातों-रात स्टार बनना कैसा लगता है। कर्नाटक के बाहर ‘केजीएफ’ से पहले मेरे बारे में ज्यादा लोगों ने नहीं सुना होगा, लेकिन इस फिल्म के जरिए देश के अन्य हिस्सों के दर्शकों ने भी मुझे स्वीकार किया। केजीएफ के कारण मेरे जीवन में यह बहुत बड़ा बदलाव आया।’’ कर्नाटक के हासन जिले के एक गांव में जन्मे यश ने कहा कि वह हमेशा से चाहते थे कि दुनिया के तमाम दर्शक कन्नड़ फिल्म जगत को जानें और अपनी फिल्मों के जरिए वह देश और दुनिया के दर्शकों का मनोरंजन करे।

इसे भी पढ़ें: मोनालिसा ने बोल्ड ऑउटफिट पहनकर मचाया इंटरनेट पर तहलका, संभलकर देखें Hot Photos

यश ने कहा, “मैं शुरू से ही कन्नड़ फिल्मों का प्रतिनिधित्व करना और देश के बाकी हिस्सों में कन्नड़ फिल्मों को उचित सम्मान दिलाना चाहता था। कर्नाटक अन्य क्षेत्रों में इतना अच्छा कर रहा है, इसलिए मैं अपनी कन्नड़ फिल्मों को अलग पहचान दिलाना चाहता हूं। ” यश अपनी आगामी फिल्म ‘केजीएफ: चैप्टर टू’ की रिलीज का इंतजार कर रहे हैं, जिसमें वह रॉकी के किरदार के साथ वापसी कर रहे हैं। फिल्म 14 अप्रैल को रिलीज होगी।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


अन्य न्यूज़