“जर्सी” को राष्ट्रीय पुरस्कार मिलने पर आया शाहिद कपूर का कमेंट, कहा- अब प्रेशर बढ़ गया

Shahid Kapoor
रेनू तिवारी । Mar 23, 2021 5:58PM
67वें राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार की घोषणा सोमवार की मंत्रालय द्वारा की गयी।बॉलीवुड अभिनेत्री कंगना रनौत को 67वें राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार में सर्वश्रेष्ठ अभिनेत्री का पुरस्कार दिया गया है।

मुंबई। 67वें राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार की घोषणा सोमवार की मंत्रालय द्वारा की गयी।बॉलीवुड अभिनेत्री कंगना रनौत को 67वें राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार में सर्वश्रेष्ठ अभिनेत्री का पुरस्कार दिया गया है। रनौत को यह पुरस्कार “मणिकर्णिका” और “पंगा” में भूमिका के लिए दिया गया। वहीं, मनोज वाजपेयी को “भोंसले” और धनुष को “असुरन” में शानदार अभिनय के लिए सर्वश्रेष्ठ अभिनेता का पुरस्कार दिया गया है। 

तेलुगु फिल्म “जर्सी” को दो राष्ट्रीय पुरस्कार मिले। पुरस्कार मिलने के बाद मिलने के बाद इसकी हिंदी रीमेक में काम करने वाले बॉलीवुड स्टार शाहिद कपूर पर “अतिरिक्त दबाव” बन गया है। सोमवार को घोषित किए गए 67वें राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार में “जर्सी” को तेलुगु की सर्वश्रेष्ठ फिल्म का पुरस्कार दिया गया था। इस फिल्म के संपादन के लिए नवीन नूली को सर्वश्रेष्ठ संपादन का पुरस्कार भी मिला था। कपूर इसके हिंदी रीमेक में मुख्य भूमिका निभाएंगे।

इसे भी पढ़ें: कंगना रनौत के जन्मदिन पर रिलीज हुआ मोस्ट अवेटिड फिल्म 'थलाइवी' का ट्रेलर

उन्होंने सोमवार को ट्वीट कर फिल्म की टीम को बधाई दी। कपूर ने लिखा, “पूरी टीम को बहुत बधाई। अतिरिक्त दबाव के लिए धन्यवाद।” फिल्म की हिंदी रीमेक पांच नवंबर को सिनेमाघरों में रिलीज होगी।

इसे भी पढ़ें: सुशांत के लिए छोड़ी थी 'बाजीराव मस्तानी', संजय लीला भंसाली ने कहा था पछताओगी : अंकिता लोखंडे 

 शाहिद कपूर की  जर्सी एक ऐसे क्रिकेटर की कहानी को दिखाता है, जो भारतीय क्रिकेट टीम में शामिल होकर, 30 के की उम्र में क्रिकेट खेलने के लिए लौटता है। यह इसी नाम की 2019 की तेलुगु फिल्म की रीमेक है। गौतम तिन्ननुरी  द्वारा निर्देशित, फिल्म को 28 अगस्त को रिलीज़ के लिए स्लेट किया गया था। हालांकि, यह कोरोनोवायरस महामारी के कारण आगे बढ़ा दी गयी थी।फिल्म इस साल दीवाली पर रिलीज होगी। फिल्म में शाहिद कपूर के पिता पंकज कपूर को भी उनके गुरु के रूप में दिखाया जाएगा।

आपको बता दें कि निर्देशक प्रियदर्शन की मलयालम फिल्म “मरक्कर: अरबिकाडालिन्ते सिंहम” को सर्वश्रेष्ठ फीचर फिल्म और संजय पूरन सिंह चौहान को हिंदी फिल्म “बहत्तर हूरें” के लिए सर्वोत्तम निर्देशक का पुरस्कार दिया गया है। राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार निर्णायक मंडल के प्रमुख एन चंद्रा ने कहा कि उन्होंने फिल्मों को पुरस्कार देने का निर्णय “भगवान के तौर पर नहीं बल्कि अभिभावक के तौर पर” लिया।

दिवंगत अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की फिल्म “छिछोरे” को सर्वश्रेष्ठ हिंदी फिल्म के पुरस्कार के लिए चुना गया। सामाजिक फिल्मों की श्रेणी में मराठी फिल्म “आनंदी गोपाल” को सर्वश्रेष्ठ फिल्म का पुरस्कार दिया गया। राष्ट्रीय एकता के लिए नरगिस दत्त पुरस्कार “ताजमहल” को दिया गया और सबसे अधिक लोकप्रिय तथा सर्वाधिक मनोरंजक फिल्म की श्रेणी में सर्वश्रेष्ठ फिल्म का पुरस्कार तेलुगु फिल्म “महर्षि” को दिया गया। पहली फिल्म का इंदिरा गांधी पुरस्कार मलयाली फिल्म हेलेन को दिया गया, जिसका निर्देशन एम. जेवियर ने किया है।

अन्य न्यूज़