न तलाक लिया है और न ही है कोई झगड़ा, लेकिन इस कारण से अमिताभ के घर रहती है बेटी श्वेता नंदा बच्चन

why shweta nanda bachchan doesn't live with his husband, know the reason
निधि अविनाश । Dec 24, 2021 3:54PM
अमिताभ की बेटी श्वेता ने 21 साल की कम उम्र में ही शादी कर ली लेकिन शादी के 10 साल बाद उन्होंने अपना करियर बनाने का बड़ा फैसला किया और इसी कारण वह दिल्ली से मुंबई शिफ्ट हो गई। मुंबई में रहने के कारण वह अपने माता-पिता के घर जलसा में ज्यादा रहती है।

बॉलीवुड की लाइमलाइट से हमेशा से दूर रहने वाली अमिताभ और जया बच्चन की बेटी श्वेता बच्चन नंदा की जिंदगी हमेशा से काफी रहस्यमय रही है। न ही उन्हें कभी बॉलीवुड के किसी फिल्मों में देखा गया और न ही किसी सेलिब्रिटी की पार्टी में वह शामिल होती नजर आई। लेकिन एक चीज है जिसको लेकर लोग हमेशा सवाल करते आए है कि आखिर श्वेता अपने पति निखिल नंदा के साथ क्यों नहीं रहती? आपको बता दें कि, बॉलीवुड के बादशाह अमिताभ बच्चन की बेटी श्वेता अपने पति निखिल नंदा के साथ न रहकर अपने माता-पिता के साथ रहना पसंद करती है।

इसे भी पढ़ें: विवादित शादी और फिर बेटे का जन्म, Nusrat Jahan ने मां बनने के बाद पहली बार खुलकर शेयर की अपनी स्टोरी

भले ही श्वेता अपने पति और ससुराल वालों से दुर रहती है लेकिन उन्होंने अपने पति से तलाक नहीं लिया है। ऐसा भी नहीं है कि श्वेता और उनके पति के बीच कोई विवाद है। अगर सबकुछ ठीक है तो आखिर क्यों श्वेता अपने पति के साथ नहीं रहती है। आपको बता दें कि, श्वेता और उनके पति निखिल नंदा प्रोफेशन के मामले में बिल्कुल अलग अलग है और इस कारण ही दोनों को एक-दूसरे से अलग रहना पड़ता है। श्वेता नंदा एक राइटर, फैशन डिजाइनर और मॉडल हैं और उन्हें आत्मनिर्भर रहना काफी पसंद है।

इसे भी पढ़ें: 40 की उम्र में FIR की शेरनी कविता कौशिक ने पहनी एनिमल प्रिंट BR*, बोल्डनेस देख पागल हुए फैंस

श्वेता को अपने पति के पैसों पर निर्भर रहना बिल्कुल पसंद नहीं है। पति के पास करोड़ों की संपत्ति होने के बावजुद श्वेता काम करती रहती हैं और अपने पैसों से ही बच्चों की परवरिश करती हैं। अमिताभ की बेटी श्वेता ने 21 साल की कम उम्र में ही शादी कर ली लेकिन शादी के 10 साल बाद उन्होंने अपना करियर बनाने का बड़ा फैसला किया और इसी कारण वह दिल्ली से मुंबई शिफ्ट हो गई। मुंबई में रहने के कारण वह अपने माता-पिता के घर जलसा में ज्यादा रहती है। श्वेता के अनुसार, भारतीय समाज में एक ऐसी सोच बनी हुई है जहां अगर कोई लड़का अपने माता-पिता के घर रहता है तो उसे अच्छा माना जाता है लेकिन अगह वहीं एक लड़की शादी के बाद अपने माता-पिता के घर रहने या जाने लगती है तो लोगों को लगता है कि लड़की की शादी टूट गई होगी इसलिए वह अपने माता-पिता के घर रह रही है।  

अन्य न्यूज़