भारत के तीन छोटे खाद्य उद्यमों को संयुक्त राष्ट्र का पुरस्कार, एक लाख डॉलर की राशि की घोषणा

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  जुलाई 28, 2021   12:33
भारत के तीन छोटे खाद्य उद्यमों को संयुक्त राष्ट्र का पुरस्कार, एक लाख डॉलर की राशि की घोषणा

भारत के तीन छोटे खाद्य उद्यमों को संयुक्त राष्ट्र के पुरस्कार के लिए चुना गया है।संयुक्त राष्ट्र ने मंगलवार को एक बयान में कहा कि इस प्रतियोगिता में 135 देशों के लगभग 2,000 व्यवसायों ने भाग लिया और 50 विजेताओं को 100,000 अमेरिकी डॉलर का नकद पुरस्कार दिया जाएगा।

संयुक्त राष्ट्र। संयुक्त राष्ट्र द्वारा घोषित सेहतमंद और पर्यावरण के अनुकूल खाद्य पदार्थ मुहैया कराने वाले ‘सर्वश्रेष्ठ लघु व्यवसाय’ के विजेताओं में तीन भारतीय उद्यम शामिल हैं। वैश्विक प्रतिस्पर्धा के जरिए चुने गए कुल 50 उद्यमों को एक लाख डॉलर की राशि दी जाएगी। संयुक्त राष्ट्र खाद्य प्रणाली शिखर सम्मेलन द्वारा आयोजित ‘सभी के लिए अच्छा भोजन’ प्रतियोगिता में इन्हें सर्वश्रेष्ठ लघु व्यवसाय घोषित किया गया है। विजेता भारतीय कंपनियों में एडिबल रूट्स प्राइवेट लिमिटेड, ओरजा डेवलपमेंट सॉल्यूशंस इंडिया और तरु नेचुरल्स हैं। संयुक्त राष्ट्र ने मंगलवार को एक बयान में कहा कि इस प्रतियोगिता में 135 देशों के लगभग 2,000 व्यवसायों ने भाग लिया और 50 विजेताओं को 100,000 अमेरिकी डॉलर का नकद पुरस्कार दिया जाएगा। कपिल मंडावेवाला द्वारा स्थापित एडिबल रूट्स उपभोक्ताओं को प्राकृतिक और स्थानीय रूप से उगाई गई ताजा कृषि उपज उपलब्ध कराती है।

इसे भी पढ़ें: आने वाला है Paytm का 16,600 करोड़ का आईपीओ, यहां जानिए सबकुछ!

इसके अलावा एडिबल रूट्स लोगों को अपना भोजन खुद उगाने के लिए भी प्रेरित करती है। ओरजा एक कृषि सेवा कंपनी है, जो पर्यावरण के अनुकूल कृषि तथा नवीकरणीय ऊर्जा के लिए काम करती है। कंपनी किसानों को वाजिब कीमत पर स्वच्छ ऊर्जा साधनों को उपलब्ध कराती है। रुचि जैन द्वारा स्थापित तरू नेचुरल्स एंड ऑर्गेनिक्स भारत में 10,000 आदिवासी और छोटे किसानों का एक आंदोलन है, जो सेहतमंद, शुद्ध और जैविक उत्पादों को किसानों से सीधे उपभोक्ताओं तक पहुंचाता है।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।