जयपुर हवाई अड्डे की सूरत बदलेगा अडाणी समूह, बनाएगा विश्वस्तर एयरपोर्ट

Adani
ANI Image
राजस्थान के जयपुर एयरपोर्ट को लेकर हाल ही में खबर आई थी की यहां कई अंतर्राष्ट्रीय फ्लाइटों को बंद कर दिया है। मगर अब अडाणी समूह राजस्थान में 65,000 करोड़ रुपये निवेश करेगा। इसके साथ जयपुर एयरपोर्ट पर विश्व स्तरीय सुविधाएं दी जाएंगी। ये ऐलान अडाणी समूह के चेयरमैन गौतम अडाणी ने किया है।

जयपुर। अडाणी समूह राजस्थान में अगले 5-7 साल में नवीकरणीय ऊर्जा समेत विभिन्न क्षेत्रों में 65,000 करोड़ रुपये निवेश करेगा। अडाणी समूह के चेयरमैन गौतम अडाणी ने शुक्रवार को राजस्थान निवेश सम्मेलन के उद्घाटन सत्र में कहा, हम राज्य में सभी मौजूदा और भविष्य की परियोजनाओं में अगले 5-7 साल में 65,000 करोड़ रुपये निवेश की उम्मीद कर रहे हैं। 

मिलेगा रोजगार का मौका 

इससे प्रत्यक्ष एवं परोक्ष रूप से रोजगार के 40,000 मौके तैयार होंगे। अडाणी ने कहा कि नवीकरणीय ऊर्जा में 10,000 मेगावाट क्षमता की परियोजनाएं क्रियान्वयन के विभिन्न स्तर पर हैं। इसमें 50,000 करोड़ रुपये निवेश किए जा रहे हैं। उन्होंने कहा, हमने राज्य में हाइब्रिड परियोजना (पवन और सौर) का वाणिज्यिक परिचालन शुरू किया है। उन्होंने आगे कहा कि इसके अलावा समूह राज्य में सीमेंट विनिर्माण क्षमता को दोगुना करने के लिए 7,000 करोड़ रुपये निवेश करेगा। 

जयपुर हवाई अड्डे पर होंगी वैश्विक स्तर की सुविधाएं 

उल्लेखनीय है कि कंपनी ने हाल में अंबुजा सीमेंट और एसीसी का अधिग्रहण किया है। अडाणी ने कहा कि राज्य की अन्य परियोजनाओं में जयपुर हवाई अड्डे को वैश्विक स्तर की सुविधाओं वाला बनाना, पीएनजी एवं सीएनजी के आपूर्ति नेटवर्क का विकास तथा स्वच्छ ईंधन की उपलब्धता को तेजी से बढ़ाना शामिल है। उन्होंने कहा कि उत्पादित नवीकरणीय ऊर्जा के लिए नई पारेषण परियोजना का निर्माण भी किया जाएगा। उन्होंने कहा कि राजस्थान सरकार की अनूकूल औ्दयोगिक नीतियों से राज्य निश्चित रूप से तेजी से विकास करेगा।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


अन्य न्यूज़