दिल्ली सरकार ने 2019-20 के लिये पेश किया 60 हजार करोड़ रुपये का बजट

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  फरवरी 26, 2019   14:24
दिल्ली सरकार ने 2019-20 के लिये पेश किया 60 हजार करोड़ रुपये का बजट

सिसोदिया ने कहा, ‘‘वित्त वर्ष 2019-20 के लिये अनुमानित 60 हजार करोड़ रुपये का बजट पेश किया गया है जो 2014-15 के बजट की तुलना में दो गुणा है।’’ वित्त वर्ष 2018-19 के लिये 53 हजार करोड़ रुपये का बजट पेश किया गया था।

नयी दिल्ली। दिल्ली की आम आदमी पार्टी सरकार ने मंगलवार को विधानसभा में वित्त वर्ष 2019-20 के लिये 60 हजार करोड़ रुपये का बजट पेश किया। राज्य सरकार ने दावा किया कि यह बजट 2014-15 में पेश बजट का दो गुणा है। दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने बजट को पुलवामा आतंकवादी हमले में शहीद हुए जवानों को समर्पित किया। दिल्ली विधानसभा के सत्र की शुरुआत मंगलवार तड़के पाकिस्तानी इलाके में घुसकर आतंकवादी शिविरों पर हमला करने वाले वायु सेना के जवानों को सलामी देने के साथ शुरू हुई।

इसे भी पढ़ें: अनशन स्थल से प्रशासनिक कामकाज करेंगे केजरीवाल: गोपाल राय

सिसोदिया ने कहा, ‘‘वित्त वर्ष 2019-20 के लिये अनुमानित 60 हजार करोड़ रुपये का बजट पेश किया गया है जो 2014-15 के बजट की तुलना में दो गुणा है।’’ वित्त वर्ष 2018-19 के लिये 53 हजार करोड़ रुपये का बजट पेश किया गया था। इस बीच भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के विधायकों को सदन में मोदी-मोदी नारा लगाने के कारण मार्शलों की मदद से बाहर निकाल दिया गया। विधानसभा अध्यक्ष राम निवास गोयल ने कहा कि भाजपा के विधायक वायु सेना के जवानों की सराहना करने के बजाय सदन में मोदी-मोदी का नारा लगा रहे थे।

भाजपा विधायकों ने आरोप लगाया कि उन्हें वायु सेना के जवानों की तारीफ करने का समय नहीं दिया गया। उल्लेखनीय है कि पुलवामा आतंकवादी हमले के 12 दिन बाद मंगलवार तड़के भारतीय वायु सेना ने पाकिस्तान में कई जगहों पर हवाई हमला कर आतंकवादी शिविरों को निशाना बनाया।

इसे भी पढ़ें: सुप्रीम कोर्ट का फैसला स्पष्ट नहीं: आम आदमी पार्टी





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।