प्रतिस्पर्धा आयोग ने फेसबुक-जियो सौदे को मंजूरी दी

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  जून 24, 2020   19:58
प्रतिस्पर्धा आयोग ने फेसबुक-जियो सौदे को मंजूरी दी

प्रतिस्पर्धा आयोग ने फेसबुक-जियो सौदे को मंजूरी दे दी है। फेसबुक ने अप्रैल में 5.7 अरब डॉलर (43,574 करोड़ रुपये) में जियो प्लेटफॉर्म्स में 9.99 प्रतिशत हिस्सेदारी खरीदने की घोषणा की थी। अमेरिकी सोशल नेटवर्किंग कंपनी ने निवेश के लिये अलग इकाई जादू होल्डिंग्स एलएलसी का गठन किया है।

नयी दिल्ली। भारतीय प्रतिस्पर्धा आयोग (सीसीआई) ने बुधवार को कहा कि उसने फेसबुक को दिग्गज उद्योगपति मुकेश अंबानी की कंपनी रिलायंस इंडस्ट्रीज की डिजिटल इकाई जियो प्लेटफॉर्म्स में 9.99 प्रतिशत हिस्सेदारी खरीदने को मंजूरी दे दी है। फेसबुक ने अप्रैल में 5.7 अरब डॉलर (43,574 करोड़ रुपये) में जियो प्लेटफॉर्म्स में 9.99 प्रतिशत हिस्सेदारी खरीदने की घोषणा की थी। अमेरिकी सोशल नेटवर्किंग कंपनी ने निवेश के लिये अलग इकाई जादू होल्डिंग्स एलएलसी का गठन किया है। यह देश में प्रौद्योगिकी क्षेत्र में सबसे बड़ा एकल प्रत्यक्ष विदेशी निवेश (एफडीआई) है।

इसे भी पढ़ें: चीनी वस्तुओं के बहिष्कार में भारतीय उद्योगपति भी शामिल?

सीसीआई ने ट्विटर पर लिखा है, ‘‘उसने जादू होल्डिंग्स एलएलसी द्वारा जियो प्लेटफॉर्म्स में 9.9 प्रतिशत हिस्सेदारी के अधिग्रहण को मंजूरी दे दी है।’’ जियो प्लेटफार्म्स का गठन पिछले साल अक्टूबर में किया गया था। इसमें रिलायंस की डिजिटल क्षेत्र में सभी पहल को शामिल किया गया है। इस सौदे से एशिया के सबसे धनाढ्य व्यक्ति मुकेश अंबानी का ई-वाणिज्य उद्यम जियो मार्ट और फेसबुक का व्हाट्स एप मंच ग्राहकों को पड़ोस की किराना दुकानों से जोड़ेगा। व्हाट्सएप के भारत में 40 करोड़ उपयोगकर्ता हैं जबकि जियो के ग्राहकों की संख्या 38.8 करोड़ है। वहीं फेसबुक के भारत में 25 करोड़ उपयोगकर्ता हैं। एक सीमा से अधिक के सौदे के लिये प्रतिस्पर्धा आयोग से मंजूरी की जरूरत होती है। आयोग का काम अनुचित व्यापार गतिविधियों पर अंकुश लगाना और निïष्पक्ष प्रतिस्पर्धा को ब़ढ़ावा देना है।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।