फिलहाल माइंडट्री को स्वतंत्र कंपनी के तौर पर चलाया जाएगा- एलएंडटी

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  मार्च 19, 2019   15:12
फिलहाल माइंडट्री को स्वतंत्र कंपनी के तौर पर चलाया जाएगा- एलएंडटी

एलएंडटी के प्रबंध निदेशक और मुख्य कार्यकारी अधिकारी एस. एन. सुब्रहमणयन ने मंगलवार को कहा, ‘‘ हमने अभी माइंडट्री का हमारे एलएंडटी इंफोटेक के साथ विलय करने के बारे में सोचा नहीं है।

मुंबई। इंजीनियरिंग क्षेत्र की प्रमुख कंपनी लार्सन एंड टुब्रो (एलएंडटी) का कहना है कि वह अधिग्रहण के बाद फिलहाल माइंडट्री का विलय अपनी सूचना प्रौद्योगिकी इकाई में नहीं करेगी, बल्कि उसे एक स्वतंत्र कंपनी के तौर पर चलाया जाएगा। सोमवार को एलएंडटी ने माइंडट्री की लगभग 67 प्रतिशत हिस्सेदारी 10,733 करोड़ रुपये में अधिगृहीत करने की घोषणा की थी। इसे देश के आईटी क्षेत्र का पहला जबरन अधिग्रहण माना जा रहा है। एलएंडटी ने कैफे कॉफी डे के मालिक वी.जी. सिद्धार्थ की माइंडट्री में 20.32 प्रतिशत हिस्सेदारी खरीदने के लिए एक समझौता किया है। यह सौदा 3,269 करोड़ रुपये नकद में होगा।

इसे भी पढ़ें: माइंडट्री पर कंट्रोल की लड़ाई में प्रवर्तक करेंगे एलएंडटी के जबरन अधिग्रहण का विरोध

इसके अलावा उसने ब्रोकरों को माइंडट्री की 15 प्रतिशत अतिरिक्त हिस्सेदारी खुले बाजार से खरीदने के लिए कहा है। इसके लिए कंपनी लगभग 2,500 करोड़ रुपये का भुगतान करेगी। इन सौदों के साथ-साथ एलएंडटी ने माइंडट्री में 31 प्रतिशत हिस्सेदारी के अधिग्रहण के लिए 5,030 करोड़ रुपये की खुली पेशकश की है। इसके लिए कंपनी प्रति शेयर 980 रुपये का भुगतान करेगी। इस प्रकार कंपनी ने माइंडट्री की लगभग 67 प्रतिशत हिस्सेदारी के अधिग्रहण की पेशकश की है। एलएंडटी के प्रबंध निदेशक और मुख्य कार्यकारी अधिकारी एस. एन. सुब्रहमणयन ने मंगलवार को कहा, ‘‘हमने अभी माइंडट्री का हमारे एलएंडटी इंफोटेक के साथ विलय करने के बारे में सोचा नहीं है। फिलहाल इसे एक स्वतंत्र कंपनी के तौर पर ही चलाया जाएगा।’’

इसे भी पढ़ें: सेंसेक्स ने मारी 481 अंक की लंबी छलांग, निफ्टी 11,300 अंक के पार

सिद्धार्थ के साथ अपनी बैठक के बारे में सुब्रहमणयन ने कहा कि उन्होंने उनसे तीन माह पहले इस हिस्सेदारी को खरीदने के लिए संपर्क किया था। सुब्रहमणयन ने कहा कि माइंडट्री के वरिष्ठ प्रबंधन का व्यवहार दोस्ताना रहा और वे वह लोग हैं जिनके अंदर इस सौदे पर आगे बढ़ने के लिए हमने काफी सकारात्मकता देखी।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।