महामारी के इस बुरे दौर में मदद मांगिए पर भूल से भी फोन नंबर न करें शेयर!

महामारी के इस बुरे दौर में मदद मांगिए पर भूल से भी फोन नंबर न करें शेयर!

कोरोना महामारी जिससे लोग पहले से ही परेशान है उनके लिए परेशानी और बढ़ कोरोना महामारी जिससे लोग पहले से ही परेशान है उनके लिए परेशानी और बढ़ सकती है अगर आप अपना नंबर शेयर कर रहे है तो।

कोरोना महामारी से आज देश काफी मुश्किलों का सामना कर रहा है। न केवल तेजी से मामलों में बढ़ोतरी हो रही है लेकिन साथ ही अब ऑक्सीज़न की कमी से कई लोगों ने दम तोड़ दिया है। कोई अस्पतालों के चक्कर लगा रहा है तो कोई अपने लोगों के लिए  प्लाज्मा और ऑक्सिजन की गुहार लगा रहा है। कई लोग सोशल मीडिया के जरिए अपना नंबर डालकर मदद मांग रहे है। इस बीच तेजी से सोशल मीडिया में अपने नंबर शेयर कर मदद मांग रहे लोगों के लिए एक और खतरा बनता जा रहा है।

इसे भी पढ़ें: सोली सोराबजी के निधन पर राष्ट्रपति कोविंद, पीएम मोदी ने जताया दुख

जी हां, कोरोना महामारी जिससे लोग पहले से ही परेशान है उनके लिए परेशानी और बढ़ सकती है अगर आप अपना नंबर शेयर कर रहे है तो। कोरोना के खिलाफ जंग लड़ रहे इन लोगों के सोशल मीडिया पर नंबर शेयर करने से साइबर ठगी होने का सबसे ज्यादा खतरा बन रहा है। साइबर एक्सपर्ट्स के मुताबिक, इस महामारी के बुरे दौर में सबसे ज्यादा साइबर ठगी होने का खतरा है। वहीं कई मार्केटिंग कंपनियां अपना नंबर वायरल करके ऑक्सिजन सिलिंडर और इंजेक्शन की सप्लाई करने में जुटी हुई है। न ही केवल साइबर ठगी हो रही बल्कि कई महिलाएं जो अपना नंबर शेयर करके मदद मांग रही है उन्हें गंदी तस्वीरे और आपत्तिजनक संदेश भेजे जा रहे है। 

इसे भी पढ़ें: देश के पूर्व अटॉर्नी जनरल सोली सोराबजी का कोरोना से निधन

साइबर एक्सपर्ट कार्तिक कुमार ने बताया कि, महामारी के इस बुरे दौर में साइबर ठगी सबसे ज्यादा हो रही है। सोशल मीडिया में अपना नंबर शेयर न करें और किसी भी अंजान नंबर से आए लिंक को क्लिक न करें। लोग साइबर ठगी के जरिए फ्री में हेल्थ इंश्योरेंस स्कीम देने की कोशिश कर सकते हैं। इसके अलावा आधारकार्ड नंबर, मोबाइल फोन पर आने वाले ओटीपी भी बिल्कुल से शेयर न करें।