कर्नाटक संयंत्र की क्षमता बढ़ाने के लिए 500 करोड़ रुपये निवेश करेगी एप्सिलॉन कार्बन

Carbon
prabhasakshi
कार्बन ब्लैक उत्पादक कंपनी एप्सिलॉन कार्बन कर्नाटक स्थित अपने संयंत्र की सालाना उत्पादन क्षमता एक लाख टन बढ़ाने के लिए 500 करोड़ रुपये निवेश करेगी। इस संयंत्र के चालू होने के साथ कंपनी देश में कार्बन ब्लैक की तीसरी सबसे बड़ी उत्पादक बन जायेगी।

मुंबई। कार्बन ब्लैक उत्पादक कंपनी एप्सिलॉन कार्बन कर्नाटक स्थित अपने संयंत्र की सालाना उत्पादन क्षमता एक लाख टन बढ़ाने के लिए 500 करोड़ रुपये निवेश करेगी। इस संयंत्र के चालू होने के साथ कंपनी देश में कार्बन ब्लैक की तीसरी सबसे बड़ी उत्पादक बन जायेगी। एप्सिलॉन कार्बन ने एक बयान में कहा कि प्रस्तावित पूंजीगत व्यय योजना में खुद के इस्तेमाल के लिए 25 मेगावॉट के बिजली घर की स्थापना को लेकर अतिरिक्त 50 करोड़ रुपये का निवेश भी शामिल है।

इसे भी पढ़ें: 2024 तक जेपी नड्डा ही संभालेंगे भाजपा की कमान, नए अध्यक्ष के लिए नहीं होगा चुनाव

एप्सिलॉन के प्रबंध निदेशक विक्रम हांडा ने सोमवार को कहा कि वर्तमान में कंपनी की कर्नाटक के विजयनगर में स्थित संयंत्र की सालाना उत्पादन क्षमता 1.15 लाख टन है। उन्होंने बताया कि इसे वित्त वर्ष 2018-19 में 500 करोड़ रुपये के निवेश के साथ शुरू किया गया था और इस संयंत्र की दस लाख टन उद्योग (10,000 करोड़ रुपये का उद्योग) में सात प्रतिशत हिस्सेदारी है।

इसे भी पढ़ें: गहलोत के वफादार विधायकों का समानांतर बैठक करना अनुशासनहीनता : अजय माकन

हांडा ने कहा कि एक बार नई क्षमता के जुड़ने के साथ इस संयंत्र की वार्षिक क्षमता 2.15 लाख टन हो जाएगी, जिससे कंपनी क्षमता के मामले में तीसरे स्थान पर आ जाएगी और इसकी बाजार हिस्सेदारी 14 प्रतिशत हो जाएगी।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


अन्य न्यूज़