फिनटेक कंपनी एक्सपे. लाइफ ने भारत में शुरू की सर्विस

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  फरवरी 25, 2020   18:00
फिनटेक कंपनी एक्सपे. लाइफ ने भारत में शुरू की सर्विस

भारत में सर्विस लॉन्च करने के साथ ही कंपनी ने अगले 3 वर्ष में 1 लाख एटीपी कियोस्क, पीओएस डिवाइस और मोबाइल वैंस शुरू करने की योजना बनाई है

फरवरी 2020। जीवन को सहज बनाने के लिए जिपिआज ने अपनी नई सर्विस एक्सपे.लाइफ भारत में लॉन्च कर दी है, जिसके माध्यम से यूजर विभिन्न प्रकार के बिल सिंगल विंडो की मदद से भर सकेंगे। ब्लॉकचेन आधारित ट्रांजेक्शन फ्रेमवर्क से लैस कंपनी विभिन्न प्रकार के डिजिटल बिल पेमेंट विकल्प जैसे टच स्क्रीन कियोस्क, वेब, मोबाइल एप, पीओएस डिवाइस और मोबाइल एटीपी वैन मुहैया कराएगी। एक्सपे.लाईफ बिज़नेस टू बिज़नेस और बिज़नेस टू कंज्यूमर दोनों सेगमेंट में अपनी सर्विसेस देगी।

रोहित कुमार (सीईओ) और बोहितेश कुमार मिश्रा (सीओओ व सीटीओ) द्वारा स्थापित किया गया एक्सपे.लाइफ यूजर को टच स्क्रीन एटीपी कियोस्क, पीओएस मशीन और मोबाइल वैन के माध्यम से कैश और क्रेडिट या डेबिट कार्ड दोनों के जरिए बिल पेमेंट करने की सुविधा देगा। यह एएमबीआईसी मॉडल पर आधारित है, जो आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस, मोबिलिटी, ब्लॉकचेन, इंटरनेट ऑफ थिंग्स और क्लाउड टेक्नोलॉजी का उपयोग करता है और ट्रांजेक्शन में उच्च स्तर की पारदर्शिता का प्रदर्शन करता है। अपनी तरह की यह इकलौती फिनटेक कंपनी है जो सभी डिजिटल माध्यमों के लिए वन क्लिक प्रोसेसिंग की सुविधा भी उपलब्ध करवाएगी। 

इसे भी पढ़ें: मॉरीशस के विदेशी निवेशक एफपीआई पंजीकरण के पात्र बने रहेंगे : SEBI

लॉन्च पर बोलते हुए एक्सपे.लाइफ के सीईओ श्री मोहित कुमार ने कहा कि “एक तरफ जहां देश में फिनटेक सेक्टर में तेज बढ़ोतरी देखने को मिली है, वहीं दूसरी तरफ यह क्षेत्र अब भी सिर्फ शहरी क्षेत्रों तक ही सीमित है। एक्सपे.लाइफ ने इस स्थिति में बदलाव लाने का लक्ष्य तय करते हुए सभी क्षेत्रों में डिजिटल पेमेंट की पहुंच स्थापित करने का लक्क्ष्य तय किया है। हमारा टचस्क्रीन कियोस्क देश के ग्रामीण क्षेत्रों में फोकस करेगा, वहीं एप और वेबसाइट का प्रमुख फोकस शहरी क्षेत्रों पर होगा। एक्सपे.लाइफ के विचार की उत्पत्ति के पीछे बहुत ही साधारण सा विचार था कि - नए युग के भारत में डिजिटल सशक्तिकरण पर जोर दिया जा सके। बिज़नेस के नजरिए से हमने पिछले 10 महीनों में प्रति माह 100 फीसदी की विकास दर हासिल ही है।” 2019 में शुरू हुए एक्सपे.लाइफ ने अपने बेटा वजर्न में करीब 5 करोड़ रुपए के 1 लाख ट्रांजेक्शन पूरे कर लिए हैं। भौगोलिक उपस्थिति के मायनों में कंपनी फिलहाल देशभर के 18 शहरों और 50 हजार से ज्यादा पिनकोड में अपनी सर्विस मुहैया करा रही है।

इसे भी पढ़ें: भारत एक प्रमुख डिजिटल समाज बनने की ओर अग्रसर: मुकेश अंबानी

कुमार ने इस पर आगे बात करते हुए कहा कि “हमने अपना विस्तार करने के लिए सभी प्रमुख बैंकों के साथ टाईअप किया है। आईसीआईसीआई एटीएम में एटीपी कियोस्क की स्थापना ने एक नया बेंचमार्क बनाया है। इसके अलावा एटीपी कियोस्क वाली मोबाइल वैन, वेंडिंग मशीन और मिनी एटीएम ग्रामीण क्षेत्रों में अपनी सर्विस मुहैया करा रहे हैं और बिल पेमेंट इंडस्ट्री में एक बदलाव लेकर आ रहे हैं।” 253 बिलर को उनके कलेक्शन पॉइंट पर एटीपी कियोस्क और पीओएस डिवाइस की सुविधा उपलब्ध करवाना एक्सपे.लाइफ की भविष्य की योजनाओं का प्रमुख हिस्सा है। कंपनी ने अगले 3 वर्ष में टियर-3 और टियर-4 कस्बों में 1 लाख एटीपी कियोस्क, पीओएस डिवाइस और मोबाइल वैन स्थापित करने का लक्ष्य तय किया है। 


एक्सपे.लाइफ के बारे में

2019 में स्थापित हुआ एक्सपे.लाइफ बीबीपीएस/एनपीसीआई द्वारा स्वीकृत संस्था है, जिसका उद्देश्य बिल पेमेंट सेक्टर में वन स्टॉप डिजिटल सॉल्यूशन उपलब्ध कराना है ताकि जीवन को सहज बनाया जा सके। एक्सपे.लाइफ की प्रमुख खूबी टच स्क्रीन कियोस्क, पीओएस मशीन और मोबाइल वैन हैं, जो बिल पेमेंट के लिए कैश और क्रेडिट/डेबिट कार्ड दोनों स्वीकार करते हैं। इसके अलावा एक्सपे.लाइफ यूपीआई, क्रेडिट/डेबिट कार्ड, इंटरनेट बैंकिंग, मोबाइल बैंकिंग और क्यूआर कोड जैसे डिजिटल सॉल्यूशन भी उपलब्ध करवाता है जो शहरी क्षेत्रों में काफी उपयोग किए जाते हैं। एक्सपे.लाइफ ने ट्रांजेक्यान को पूरी तरह सुरक्षित रखने के लिए ब्लॉकचेन टेक्नोलॉजी का उपयोग किया है। कंपनी  उच्च सुरक्षा मापदंडों के लिए आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस, मोबिलिटी, ब्लॉकचेन, आईओटी और क्लाउड टेक्नोलॉजी पर आधारित डिजिटल सॉल्यूशन मुहैया कराती है। 





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।