एसबीआई ने भी ऋण पर ब्याज दर में 0.05 प्रतिशत की मामूली कटौती की

By प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क | Publish Date: Apr 10 2019 11:06AM
एसबीआई ने भी ऋण पर ब्याज दर में 0.05 प्रतिशत की मामूली कटौती की
Image Source: Google

एसबीआई द्वारा करीब 17 माह बाद अपनी एमसीएलआर में कटौती की गई है। इससे पहले नवंबर, 2017 में एसबीआई ने एमसीएलआर में 0.05 प्रतिशत की कटौती की थी।

नयी दिल्ली। देश के सबसे बड़े भारतीय स्टेट बैंक (एसबीआई) अपनी ऋण की ब्याज दरों में 0.05 प्रतिशत की मामूली कटौती की है। नई दरें 10 अप्रैल से प्रभावी होंगी। नवंबर, 2017 के बाद एसबीआई ने पहली बार ब्याज दर में कटौती की है। कई अन्य छोटे बैंक इससे पहले अपने ऋण पर ब्याज दर में कटौती की घोषणा कर चुके हैं। बैंक ने बयान में कहा कि संशोधित कोष की सीमान्त लागत आधारित ऋण दर (एमसीएलआर) को 8.55 से घटाकर 8.50 प्रतिशत किया गया है।

 इसे भी पढ़ें: स्टेट बैंक ने संकट में फंसी जेट एयरवेज के लिए बोली मांगी

एसबीआई द्वारा करीब 17 माह बाद अपनी एमसीएलआर में कटौती की गई है। इससे पहले नवंबर, 2017 में एसबीआई ने एमसीएलआर में 0.05 प्रतिशत की कटौती की थी। एसबीआई ने संशोधित दर वाले 30 लाख रुपये तक के आवास ऋण पर भी ब्याज दर में 0.10 प्रतिशत की कटौती की है। इसके साथ अब 30 लाख रुपये से कम के आवास ऋण पर नई ब्याज दर 8.60 से 8.90 प्रतिशत होगी जो अभी तक 8.70 से 9 प्रतिशत है।

इसे भी पढ़ें: NTPC- केनरा बैंक का समझौता, 2,000 करोड़ की हुई ऋण संधि



भारतीय रिजर्व बैंक ने हाल में अपनी चालू वित्त वर्ष की पहली द्विमासिक मौद्रिक समीक्षा में रेपो दर को चौथाई प्रतिशत घटाकर छह प्रतिशत किया था। एसबीआई तीसरा सार्वजनिक क्षेत्र का बैंक है जिसने अपना ऋण सस्ता किया है। एसबीआई से पहले इंडियन ओवरसीज बैंक और बैंक आफ महाराष्ट्र ने भी एक साल और उससे अधिक की अवधि के ऋण परब्याज दर में 0.05 प्रतिशत की कटौती की है। इंडियन ओवरसीज बैंक ने एक साल के ऋण पर एमसीएलआर को 8.70 प्रतिशत से घटाकर 8.65 प्रतिशत करने की घोषणा की है। वहीं बैंक आफ महाराष्ट्र ने पांच अप्रैल को विभिन्न परिपक्वता अवधि के कर्ज पर ब्याज दरों में 0.05 प्रतिशत की कटौती की थी। 

रहना है हर खबर से अपडेट तो तुरंत डाउनलोड करें प्रभासाक्षी एंड्रॉयड ऐप   


Related Story

Related Video