टाटा मोटर्स वाणिज्यिक वाहन कारोबार पर सालाना 2,000 करोड़ रुपये निवेश जारी रखेगी

Tata Motors
ANI
टाटा मोटर्स की योजना अपने वाणिज्यिक वाहन कारोबार में सालाना 2,000 करोड़ रुपये के निवेश को जारी रखने की है। कंपनी के कार्यकारी निदेशक गिरीश वाघ ने यह जानकारी दी। उन्होंने कहा कि कंपनी विभिन्न ‘पावरट्रेन’ पर आधारित नए मॉडल की पेशकश करती रहेगी।

नयी दिल्ली। टाटा मोटर्स की योजना अपने वाणिज्यिक वाहन कारोबार में सालाना 2,000 करोड़ रुपये के निवेश को जारी रखने की है। कंपनी के कार्यकारी निदेशक गिरीश वाघ ने यह जानकारी दी। उन्होंने कहा कि कंपनी विभिन्न ‘पावरट्रेन’ पर आधारित नए मॉडल की पेशकश करती रहेगी। टाटा मोटर्स ने सोमवार को योद्धा 2.0, इंट्रा वी20 बायो-ईंधन और इंट्रा वी50 मॉडल की पेशकश की। कंपनी सीएनजी और अन्य वैकल्पिक ईंधन विकल्पों से चलने वालों वाहनों पर खासतौर से ध्यान दे रही है और वह इलेक्ट्रिक वाहन खंड में अग्रणी स्थिति में है।

इसे भी पढ़ें: सुरक्षा परिषद में सुधार की मांग पर सभी सहमत पर सवाल यह है कि सुधार कैसे होगा?

वाघ ने इस मौके पर कहा, जहां तक कंपनी के वाणिज्यिक वाहन व्यवसाय की बात है, हम हर साल लगभग 2,000 करोड़ रुपये का निवेश कर रहे हैं, जिसमें आंतरिक दहन इंजन (पेट्रोल, डीजल वाले ईंजन), वैकल्पिक ईंधन के साथ ही इलेक्ट्रिक वाहनों पर हमारा निवेश शामिल है। हम इसी दर से निवेश करना जारी रखेंगे, ताकि नए वाहनों की पेशकश सुनिश्चित की जा सके। टाटा मोटर्स वाणिज्यिक वाहन खंड में देश की अग्रणी कंपनी है। वाणिज्यिक वाहनों के क्षेत्र में इलेक्ट्रिक उत्पादों की पेशकश के बारे में पूछने पर उन्होंने कहा कि शून्य उत्सर्जन वाले वाहनों को अपनाना अपरिहार्य है और भारत में ऐसा वैकल्पिक ईंधन के जरिए होगा।

इसे भी पढ़ें: कांग्रेस अध्यक्ष पद की रेस से बाहर हुए अशोक गहलोत, केसी वेणुगोपाल, मुकुल वासनिक और दिग्विजय का जुड़ा नाम

वाघ ने कहा, हम वैकल्पिक ईंधन वाले वाहनों की अपनी रेंज बढ़ा रहे हैं... हमने आज एक टन सीएनजी से चलने वाला वाहन पेश किया है... कुछ महीने पहले, हमने 1,000 किलोमीटर की रेंज के साथ सीएनजी संचालित मध्यम और भारी वाणिज्यिक वाहन पेश किए थे। वैकल्पिक ईंधन के तहत इलेक्ट्रिक वाहनों की दिशा में बदलाव को ले जाने के लिए हम तैयार हैं। उन्होंने कहा कि कंपनी को उम्मीद है कि आने वाले समय में मध्यम और हल्के वाणिज्यिक वाहनों में सीएनजी मॉडल की हिस्सेदारी करीब 40 फीसदी और छोटे वाणिज्यिक वाहनों में करीब 20 फीसदी होगी। वाघ ने कहा कि कंपनी ने टाटा ऐस ईवी का उत्पादन शुरू कर दिया है, और डिलिवरी अगले महीने शुरू होने की उम्मीद है।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


अन्य न्यूज़