दूरसंचार विभाग ने एयरटेल से 7,200 करोड़ रुपये की बैंक गॉरंटी मांगी

By प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क | Publish Date: Apr 11 2019 5:35PM
दूरसंचार विभाग ने एयरटेल से 7,200 करोड़ रुपये की बैंक गॉरंटी मांगी
Image Source: Google

इस विलय को तब रिकॉर्ड पर लिया जाएगा जबकि एयरटेल एकबारगी एकमुश्त शुल्क के रूप में 6,000 करोड़ रुपये की बैंक गारंटी दे देगी और साथ ही टीटीएसएल से मिलने वाले स्पेक्ट्रम के लिए 1,200 करोड़ रुपये की और बैंक गारंटी देगी।

नयी दिल्ली। दूरसंचार विभाग ने टाटा टेलीसर्विसेज के भारती एयरटेल में विलय को मंजूरी दे दी।हालांकि, इसके लिए शर्त रखी गई है कि सुनील मित्तल की अगुवाई वाली कंपनी को 7,200 करोड़ रुपये की बैंक गारंटी देनी होगी। एक अधिकारी ने बताया कि दूरसंचार मंत्री मनोज सिन्हा ने 9 अप्रैल को विलय को सशर्त मंजूरी दे दी।

अधिकारी ने कहा कि मंत्री की मंजूरी के बाद दूरसंचार विभाग ने एयरटेल से 7,200 करोड़ रुपये की बैंक गारंटी देने को कहा है। अधिकारी ने कहा कि विलय को रिकॉर्ड पर लेने से पहले दोनों कंपनियों को अदालती मामलों के बारे में अपनी तरफ से वचनबद्धता देनी होगी। इस विलय को तब रिकॉर्ड पर लिया जाएगा जबकि एयरटेल एकबारगी एकमुश्त शुल्क के रूप में 6,000 करोड़ रुपये की बैंक गारंटी दे देगी और साथ ही टीटीएसएल से मिलने वाले स्पेक्ट्रम के लिए 1,200 करोड़ रुपये की और बैंक गारंटी देगी।

इसे भी पढ़ें: एलएंडटी ने अपनी अनुषंगी कंपनी में टिडको की पूरी हिस्सेदारी खरीदी

एक अन्य अधिकारी ने कहा कि सौदे को पूरा करने से पहले टीटीएसएल को काफी छोटी बकाया राशि का भी निपटान करना होगा। प्रस्तावित करार के तहत एयरटेल 19 दूरसंचार सर्किलों में टाटा के उपभोक्ता मोबाइल कारोबार को अपने हाथ में लेगी। इनमें से 17 टीटीएसएल के और दो टाटा टेलीसर्विसेज (महाराष्ट्र लि.) के तहत हैं। इसके अलावा एयरटेल ने टाटा की स्पेक्ट्रम देनदारी के एक छोटे हिस्से की जिम्मेदारी लेने पर भी सहमति दी है। 



इसे भी पढ़ें: 5 साल में MSME क्षेत्र एक करोड़ रोजगार के अवसरों का सृजन कर सकता है- रिपोर्ट

इस विलय से एयरटेल के स्पेक्ट्रम पूल को मजबूती मिलेगी। उसके भंडार में 1800, 2100 और 850 मेगाहट्र्ज बैंड में 178.5 मेगाहट्र्ज अतिरिक्त स्पेकट्रम शामिल होगा। इसका 4जी में व्यापक रूप से इस्तेमाल होगा। 

रहना है हर खबर से अपडेट तो तुरंत डाउनलोड करें प्रभासाक्षी एंड्रॉयड ऐप   


Related Story