फुटवियर डिजाइनिंग में इस तरह बनाएं कॅरियर

फुटवियर डिजाइनिंग में इस तरह बनाएं कॅरियर

फुटवियर डिजाइनिंग के क्षेत्र में छात्र अपनी क्रिएटिविटी का इस्तेमाल करके फुटवियर को एक नया रूप देते हैं। वह सिर्फ फुटवियर के डिजाइन के साथ ही नहीं, बल्कि फैब्रिक व कलर के साथ भी एक्सपेरिमेंटल होते हैं।

आज के समय में व्यक्ति सिर्फ डॉक्टर या इंजीनियर बनने की ही चाहत नहीं रखता, बल्कि ऐसी कई नई राहे हैं जो युवाओं को आकर्षित कर रही हैं। बदलते जमाने में लोगों की सोच भी बदली है और इसलिए ऐसे कई क्षेत्र हैं, जिनमें युवा अपनी किस्मत आजमा रहे हैं। ऐसी ही एक फील्ड है फुटवियर डिजाइनिंग की। चूंकि आज के समय में लोग सिर से लेकर पैर तक स्टाइलिश दिखने की चाहत रखते हैं और यही कारण है कि इन दिनों फुटवियर डिजाइनिंग को काफी पसंद किया जा रहा है। अगर आप भी इस क्षेत्र में कॅरियर बनाने की इच्छा रखते हैं तो आपको पहले इसके बारे में विस्तार से जान लेना चाहिए−

इसे भी पढ़ें: 12वीं पास के बाद इन कोर्स को करने पर मिलेगी गारंटीड जॉब

क्या है फुटवियर डिजाइनिंग

फुटवियर डिजाइनिंग के क्षेत्र में छात्र अपनी क्रिएटिविटी का इस्तेमाल करके फुटवियर को एक नया रूप देते हैं। वह सिर्फ फुटवियर के डिजाइन के साथ ही नहीं, बल्कि फैब्रिक व कलर के साथ भी एक्सपेरिमेंटल होते हैं। वह अपनी पूरी रचनात्मकता फुटवियर को न्यू लुक देने में इस्तेमाल करते हैं। फुटवियर डिजाइनिंग में एक्सपर्ट अलग−अलग तरह के फैब्रिक के साथ−साथ बीड्स, स्टोन व अन्य चीजों का इस्तेमाल करते हैं।

जरूरी स्किल्स

इस क्षेत्र में भविष्य देख रहे छात्रों की सिर्फ शैक्षणिक योग्यता होना ही काफी नहीं है। इस क्षेत्र में सफलता पाने के लिए आपके भीतर भी कुछ स्किल्स होने चाहिए। जैसे आपका क्रिएटिव होना और सामान्य से जूतों को ही एक अलग तरीके से देखने की क्षमता होनी चाहिए। फुटवियर डिजाइनर को लेटेस्ट टेंड की जानकारी होनी चाहिए और आपको टीमवर्क में काम करना आना चाहिए।

शैक्षणिक योग्यता

फुटवियर डिजाइनिंग का कोर्स करने के लिए आपका कम से कम 12वीं पास होना अनिवार्य है। फुटवियर डिजाइनिंग की बारीकियों को समझने के लिए आप सर्टिफिकेट कोर्स से लेकर ग्रेजुएशन तक कर सकते हैं। यह कोर्स कुछ महीनों से लेकर कुछ सालों तक के हो सकते हैं।


कहां हैं अवसर

फुटवियर डिजाइनिंग का कोर्स करने के बाद आप कई नेशनल व इंटरनेशनल शू मेकिंग कंपनियों जैसे बाटा, लिबर्टी, नाइक, रिबॉक आदि के साथ जुड़कर काम कर सकते हैं। इसके अलावा अगर आपके पास कुछ धनराशि है तो आप खुद भी फुटवियर डिजाइन करके बेच सकते हैं। इस तरह आप इस क्षेत्र में खुद का बिजनेस भी खड़ा कर सकते हैं।

इसे भी पढ़ें: कम लागत में शुरू करें ये बिजनेस और कमाएं मोटा पैसा

सैलरी

इस क्षेत्र में आमदनी आपके अनुभव के आधार पर बढ़ती जाती है। आप बतौर फ्रेशर महज 15 से 20 हजार रूपए कमाएं, लेकिन अनुभव बढ़ने पर आपकी आमदनी भी बढ़ती है। इतना ही नहीं, अगर आपके डिजाइन लोगों को पसंद आते हैं तो आप लाखों में भी कमा सकते हैं।


इंस्टीट्यूट

फुटवियर डिजाइन एंड डेवलपमेंट इंस्टीट्यूट, नोएडा

द सेंटर लेदर रिसर्च इंस्टीट्यूट, चेन्नई

कॉलेज ऑफ लेदर टेक्नोलॉजी, कोलकाता

सेंटल फुटवियर ट्रेनिंग इंस्टीटयूट, आगरा

इंस्टीट्यूट ऑफ गवर्नमेंट लेदर वर्किंग स्कूल, मुंबई

वरूण क्वात्रा