डेविड वॉर्नर को मैदान में पानी पिलाते देख टूट गया था फैंस का दिल, खिलाड़ी से SRH मैनेजमेंट ने बिना कारण बताए छीन ली थी कप्तानी

डेविड वॉर्नर को मैदान में पानी पिलाते देख टूट गया था फैंस का दिल, खिलाड़ी से SRH मैनेजमेंट ने बिना कारण बताए छीन ली थी कप्तानी

सनराइजर्स हैदराबाद ने 8 रन से मैच जीता और 2016 इंडियन प्रीमियर लीग ट्रॉफी हासिल की, यह मैच रोमांच से भरा था जिसकी कप्तानी आस्ट्रेलिया के स्टार बल्लेबाज डेविड वॉर्नर ने की थी।

सनराइजर्स हैदराबाद के फैंस 29 मई 2016 की वो शाम कभी नहीं भूल सकते जब ऑरेंज आर्मी ने बैंगलोर एम चिन्नास्वामी स्टेडियम में आइपीएल में अपनी पहली जीत दर्ज की। सनराइजर्स हैदराबाद ने 8 रन से मैच जीता और 2016 इंडियन प्रीमियर लीग ट्रॉफी हासिल की, यह मैच रोमांच से भरा था जिसकी कप्तानी आस्ट्रेलिया के स्टार बल्लेबाज डेविड वॉर्नर ने की थी। डेविड वॉर्नर एक शानदार प्लेयर है उनकी कप्तानी और बल्लेबाजी दुनिया ने देखी है लेकिन साल 2021 के आइपीएल में हमने देखा कि सनराइजर्स हैदराबाद के कप्तान डेविड वॉर्नर से कप्तानी छीन ली गयी।

डेविड वॉर्नर के फैंस वो दिन भी कभी नहीं भूल सकते जब उन्होंने अपने पसंदीदा प्लेयर को क्रिकेट ग्राउंड में खिलाड़ियों को पानी पिलाते हुए देखा। ये सीन फैंस के लिए काफी परेशान करने वाला था। साल 2021 में सनराइजर्स हैदराबाद सबसे पहली टीम थी जो पॉइंट टेबल से बाहर हुई। टीम का प्रदर्शन ठीक नहीं रहा लेकिन कथित तौर पर इसका पूरा जिम्मेदार डेविड वॉर्नर को माना गया और उनसे कप्तानी छीन ली गयी। डेविड वॉर्नर ने टीम की कप्तानी छोड़ने का ऐलान किया लेकिन इसके पीछे का कोई कारण नहीं बताया। 

इसे भी पढ़ें: क्रिस्टियानो रोनाल्डो का जोरदार हैट्रिक, डेनमार्क ने विश्व कप में बनाई जगह

डेविड वॉर्नर का छलका दर्द

आस्ट्रेलिया के स्टार बल्लेबाज डेविड वॉर्नर ने मंगलवार को दावा किया कि सनराइजर्स हैदराबाद प्रबंधन ने आईपीएल के इस सत्र में उन्हें कप्तानी से हटाने का कोई कारण नहीं बताया। वॉर्नर को आईपीएल के पहले चरण में कप्तानी से हटाकर न्यूजीलैंड के केन विलियमसन को सनराइजर्स की कमान सौंपी गई थी। कप्तानी बदलने के बावजूद सनराइजर्स के प्रदर्शन में सुधार नहीं आया और टीम आईपीएल अंकतालिका में सबसे नीचे रही। वॉर्नर को आखिरी कुछ मैचों में तो टीम में जगह भी नहीं दी गई। 

इसे भी पढ़ें: NCB के निदेशक समीर वानखेड़े की कौन कर रहा है जासूसी? मुंबई पुलिस ने दिए जांच के आदेश

डेविड वॉर्नर को सनराइजर्स हैदराबाद की कप्तानी से क्यों हटाया गया?

वॉर्नर ने ‘इंडिया टुडे’ से कहा ,‘‘ टीम मालिकों, ट्रेवर बेलिस, लक्ष्मण, मूडी और मुरली के प्रति पूरा सम्मान रखते हुए मैं कहूंगा कि कोई भी फैसला सर्वसम्मति से होता है। मेरे लिये निराशाजनक बात यह भी रही कि मुझे बताया ही नहीं गया कि कप्तानी से क्यों हटाया गया है। फॉर्म के आधार पर फैसला लिया गया तो यह कठिन है क्योंकि अतीत के प्रदर्शन को अनदेखा नहीं करना चाहिये।’’ उन्होंने कहा कि कप्तानी से हटाये जाने को पचाना मुश्किल था लेकिन वह आगे बढना चाहते थे। 

उन्होंने कहा,‘‘खास तौर पर जब आपने टीम के लिये 100 मैच खेले हों। मुझे लगता है कि चेन्नई में पहले पांच में से चार मैचों में खराब प्रदर्शन रहा। मेरे कुछ सवाल है लेकिन लगता है कि जवाब कभी नहीं मिलेगा। आगे बढना ही होगा।’’ वॉर्नर ने कहा कि वह आगे भी सनराइजर्स के लिये खेलना चाहेंगे लेकिन यह उनके हाथ में नहीं है। उन्होंने कहा ,‘‘ मुझे सनराइजर्स के लिये खेलने में मजा आया। उम्मीद है कि मैं वापिस आऊंगा। सनराइजर्स की जर्सी में या किसी और टीम की, पता नहीं।