भारत-न्यूजीलैंड कानपुर टेस्ट हुआ ड्रा, अश्विन बने तीसरे सबसे सफल गेंदबाज, आखिरी विकेट ले पाने में टीम हुई असफल

भारत-न्यूजीलैंड कानपुर टेस्ट हुआ ड्रा, अश्विन बने तीसरे सबसे सफल गेंदबाज, आखिरी विकेट ले पाने में टीम हुई असफल

ऑफ स्पिनर रविचंद्रन अश्विन सोमवार को टेस्ट क्रिकेट में भारत के लिए सर्वाधिक विकेट लेने वाले तीसरे गेंदबाज बन गए। उन्होंने हरभजन सिंह के 413 विकेट चटकाने वाले रिकॉर्ड को भी तोड़ दिया। आपको बता दें कि भारत की तरफ से सबसे ज्यादा अनिल कुंबले ने 619 टेस्ट विकेट चटकाए।

कानपुर। भारत और न्यूजीलैंड के बीच में खेला गया पहले टेस्ट मुकाबला ड्रा हुआ। इस मुकाबले में स्पिनर्स ने कमाल की गेंदबाजी की लेकिन कीवियों को ऑलआउट करने में असफल रहे। रवींद्र जडेजा, आर अश्विन और अक्षर पटेल की फिरकी के सामने बड़े से बड़ा कीवी बल्लेबाज नहीं टिक पाया लेकिन युवा राचिन रवींद्र ने 91 गेंद खेलकर मुकाबले को भारत के हाथों से छीनकर ड्रा करा दिया।  

इसे भी पढ़ें: दक्षिण अफ्रीका में डराने लगा कोरोना का नया वेरिएंट, क्या टलेगा टीम इंडिया का दौरा? 

सर्वाधिक विकेट लेने वाले तीसरे गेंदबाज बने अश्विन

ऑफ स्पिनर रविचंद्रन अश्विन सोमवार को टेस्ट क्रिकेट में भारत के लिए सर्वाधिक विकेट लेने वाले तीसरे गेंदबाज बन गए। उन्होंने हरभजन सिंह के 413 विकेट चटकाने वाले रिकॉर्ड को भी तोड़ दिया। आपको बता दें कि भारत की तरफ से सबसे ज्यादा अनिल कुंबले ने 619 टेस्ट विकेट चटकाए। इस मामले में दूसरा स्थान कपिल देव का है। उन्होंने 131 टेस्ट मैचों में 434 विकेट हासिल किए हैं और अब हरभजन सिंह को पीछे छोड़कर अश्विन तीसरे स्थान पर पहुंच गए हैं।

इसे भी पढ़ें: आईपीएल की हुई घर वापसी, भारत में ही खेला जाएगा अगला सत्र, 10 टीमें होंगी शामिल

न्यूजीलैंड के कप्तान विलियमसन 97 गेंद में 24 रन बनाकर खेल रहे हैं और मैच ड्रॉ की तरफ मुड़ता हुआ दिख रहा था लेकिन रवींद्र जडेजा ने विलियमसन का विकेट चटकाकर मुकाबले को पलट दिया। पहले सत्र में विल समरविले और टॉम लैथम ने भारतीय गेंदबाजों को कोई सफलता हाथ नहीं लगने दी लेकिन दूसरा सत्र भारतीय गेंदबाजों के नाम रहा जिन्होंने 3 विकेट चटकाए। उमेश यादव ने लंच के ठीक बाद समरविले को शॉर्ट गेंद पर आउट किया जिन्होंने 110 गेंद में 36 रन बनाए। सुबह भारतीय गेंदबाजों को पिच से कोई मदद नहीं मिली लेकिन दूसरा, तीसरा सत्र भारत के नाम रहा। हालांकि अंतिम में राचिन रवींद्र और एजाज पटेल ने मुकाबले को बचा लिया।