मनदीप की 'दिलेरी', गेल और शमी ने पंजाब को KKR पर दिलाई शानदार जीत

Mandeep Singh
पंजाब के गेंदबाजों ने शानदार प्रदर्शन करते हुए केकेआर को नौ विकेट पर 149 रन पर रोक दिया। जवाब में गेल की आक्रामक और मनदीप की धीरज से भरी पारी के चलतेओवर में एक विकेट खोकर लक्ष्य हासिल कर लिया।

शारजाह। तीन रोज पहले अपने पिता को खोने के बावजूद साहसिक पारी खेलने वाले मनदीप सिंह और क्रिस गेल के अर्धशतकों और मोहम्मद शमी की अगुवाई में गेंदबाजों के शानदार प्रदर्शन की मदद से किंग्स इलेवन पंजाब ने इंडियन प्रीमियर लीग के अहम मैच में सोमवार को कोलकाता नाइट राइडर्स को आठ विकेट से हराकर प्लेआफ की उम्मीदें प्रबल कर ली। पंजाब के गेंदबाजों ने शानदार प्रदर्शन करते हुए केकेआर को नौ विकेट पर 149 रन पर रोक दिया। जवाब में गेल की आक्रामक और मनदीप की धीरज से भरी पारी के चलतेओवर में एक विकेट खोकर लक्ष्य हासिल कर लिया। 

इसे भी पढ़ें: IPL के अंतिम मैचों में लगा RCB को करारा झटका, टीम से बाहर हो सकता है ये बॉलर 

मनदीप के पिता का शुक्रवार को ही देहांत हुआ है लेकिन उन्होंने अपने पिता का सपना पूरा करने के लिये खेलने का फैसला किया। उन्होंने अर्धशतक पूरा होने के बाद नम आंखों से आसमान की ओर देखते हुए चुंबन का इशारा किया। वह 56 गेंद में आठ चौकों और दो छक्कों की मदद से 66 रन बनाकर नाबाद रहे। गेल ने 29 गेंद में दो चौकों और पांच छक्कों की मदद से 51 रन बनाये। वह 19वें ओवर की पहली गेंद पर आउट हुए जब टीम को जीत के लिये सिर्फ तीन रन चाहिये थे। केकेआर का कोई गेंदबाज गेल और मनदीप पर दबाव नहीं बना सका।

पंजाब ने पहला विकेट कप्तान केएल राहुल के रूप में गंवाया जो 25 गेंद में चार चौकों की मदद से 28 रन बनाकर स्पिनर वरूण चक्रवर्ती का शिकार हुए। आईपीएल के मौजूदा सत्र में एक मैच में पांच विकेट लेने वाले एकमात्र गेंदबाज वरूण को आज ही आस्ट्रेलिया दौरे के लिये भारत की टी20 टीम में शामिल किया गया। इस जीत के बाद पंजाब 12 मैचों में 12 अंक लेकर चौथे स्थान पर आ गया है। केकेआर के भी समान मैचों में समान अंक हैं लेकिन रनरेट के आधार पर वह पांचवें स्थान पर है।दोनों को अभी दो दो मैच और खेलने हैं। 

इसे भी पढ़ें: बेन स्टोक्स बोले- यह शतक मुश्किल दौर में परिवार को थोड़ा खुशी देगा 

पंजाब के कप्तान केएल राहुल ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी का फैसला लिया जिसे उनके गेंदबाजों ने सही साबित कर दिखाया। केकेआर के तीन विकेट दूसरे ओवर में महज 10 रन के भीतर गिर गए थे। पहले ही ओवर की दूसरी गेंद पर ग्लेन मैक्सवेल ने नीतिश राणा (0) को आउट किया। दूसरे ओवर में शमी ने केकेआर को दो झटके दिये जिससे टीम उबर नहीं सकी। राहुल त्रिपाठी चौथी गेंद पर विकेट के पीछे राहुल को कैच देकर लौटे। इस ओवर की आखिरी गेंद पर दिनेश कार्तिक (0) भी उसी अंदाज में आउट हुए।

इसके बाद कप्तान इयोन मोर्गन और शुभमन गिल ने चौथे विकेट के लिये 81 रन की साझेदारी की। इस साझेदारी को रवि बिश्नोई ने दसवें ओवर में तोड़ा जब मोर्गन बड़ा शॉट खेलने के प्रयास में अश्विन को कैच दे बैठे। उन्होंने 25 गेंद में पांच चौकों और दो छक्कों की मदद से 40 रन बनाये। सुनील नारायण (छह) और कमलेश नागरकोटी (छह) कोई कमाल नहीं कर सके और क्रमश: क्रिस जोर्डन और अश्विन की गेंदों पर बोल्ड हो गए। केकेआर का स्कोर 15वें ओवर में छह विकेट पर 113 रन था। शमी ने 19वें ओवर में गिल के रूप में तीसरा विकेट लिया जिन्होंने 45 गेंद में 57 रन बनाये जिसमें तीन चौके और चार छक्के शामिल थे। गिल ने फुलटॉस गेंद पर ऊंचा शाट खेलने के प्रयास में डीप मिडविकेट में निकोलस पूरन को कैच थमाया। पंजाब के लिये शमी ने 35 रन देकर तीन विकेट लिये जबकि क्रिस जोर्डन और रवि बिश्नोई को दो दो विकेट मिले।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


अन्य न्यूज़