• खिताब का लंबा इंतजार खत्म करने की कोशिश करेगी कोहली एंड कंपनी

कई शीर्ष खिलाड़ियों की मौजूदगी के बावजूद अब तक खिताब से वंचित रही रॉयल चैलेंजर्स बेंगलोर (आरसीबी) की टीम कुछ नये खिलाड़ियों के जुड़ने से आवश्यक संतुलन स्थापित करके आगामी इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) में चैंपियन बनने का लंबा इंतजार खत्म करना चाहेगी।

नयी दिल्ली। कई शीर्ष खिलाड़ियों की मौजूदगी के बावजूद अब तक खिताब से वंचित रही रॉयल चैलेंजर्स बेंगलोर (आरसीबी) की टीम कुछ नये खिलाड़ियों के जुड़ने से आवश्यक संतुलन स्थापित करके आगामी इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) में चैंपियन बनने का लंबा इंतजार खत्म करना चाहेगी। विराट कोहली की अगुवाई वाली टीम में एबी डिविलियर्स जैसा दिग्गज बल्लेबाज भी है लेकिन टीम इन दोनों पर जरूरत से ज्यादा निर्भर रही और ऐसे में टीम कभी संतुलन स्थापित नहीं कर पायी।

इसे भी पढ़ें: मिस इंडिया की रनरअप दीक्षा सिंह लड़ेंगी जिला पंचायत सदस्य का चुनाव

अब आस्ट्रेलियाई आलराउंडर ग्लेन मैक्सवेल और न्यूजीलैंड के तेज गेंदबाज काइल जैमीसन जैसे खिलाड़ियों के जुड़ने से टीम आवश्यक संतुलन स्थापित करने की स्थिति में दिख रही है। पिछली बार यूएई में आरसीबी ने अच्छी शुरुआत की थी लेकिन आखिर में उसकी लय गड़बड़ा गयी और लगातार पांच मैच गंवाने से एलिमिनिटेर में बाहर हो गयी थी। इस बार टीम प्रबंधन ने नीलामी से पहले 10 खिलाड़ियों को ‘रिलीज’ करके अपनी बल्लेबाजी और गेंदबाजी को मजबूत करने पर ध्यान दिया है।

इसे भी पढ़ें: नाइजीरिया का लड़ाकू विमान लापता, बोको हराम ने हमले का किया दावा

आरसीबी की बल्लेबाजी काफी मजबूत नजर आती है। रन मशीन कोहली का आईपीएल में शानदार रिकार्ड रहा है। कोहली पहले ही स्पष्ट कर चुके हैं कि वह पारी की शुरुआत करेंगे। उनके साथ दूसरे छोर पर देवदत्त पडिक्कल होंगे जिन्होंने पिछले सत्र में शानदार प्रदर्शन किया था और अभी बेहतरीन फार्म में चल रहे हैं। शीर्ष क्रम में युवा विकेटकीपर बल्लेबाज मोहम्मद अजहरूद्दीन और न्यूजीलैंड के फिन एलेन तेजी से रन बनाने में सक्षम हैं जबकि डिविलियर्स और मैक्सवेल जैसे अनुभवी खिलाड़ी मध्यक्रम को संभालेंगे। सचिन बेबी, डेनियल क्रिस्टियन और वाशिंगटन सुंदर उनकी बल्लेबाजी को मजबूती प्रदान करते हैं। आरसीबी का मजबूत पक्ष उसका स्पिन विभाग भी है। उसे अपने अधिकतर मैच चेन्नई और अहमदाबाद के स्पिनरों के लिये मददगार विकेट पर खेलने हैं और ऐसे में आईपीएल में हमेशा सफल रहने वाले युजवेंद्र चहल उसके लिये तुरुप का इक्का होंगे।

इसे भी पढ़ें: महाराष्ट्र के सीएम उद्धव ठाकरे ने स्वास्थ्य सुविधाओं की किल्लत होने को लेकर आगाह किया

वाशिंगटन सुंदर पिछली बार की तरफ फिर से पावरप्ले में जिम्मेदारी संभाल सकते हैं। मैक्सवेल स्पिन विभाग में एक अच्छा विकल्प हैं जबकि जरूरत पड़ने पर एडम जंपा को अंतिम एकादश में शामिल कया जा सकता है। जैमीसन के टीम से जुड़ने के बावजूद आरसीबी का तेज गेंदबाज विभाग कमजोर नजर आता है। नवदीप सैनी और मोहम्मद सिराज को सफेद गेंद से गेंदबाजी का कम अनुभव है और वे अक्सर रन लुटा देते हैं। जैमीसन भी टी20 में संघर्ष करते रहे हैं और उन्हें भारत में खेलने का अनुभव नहीं है। तेज गेंदबाजी विभाग में हर्षल पटेल तथा आस्ट्रेलियाई तिकड़ी क्रिस्टियन, डेनियल सैम्स और केन रिचर्डसन अन्य विकल्प हैं। ऐसी स्थिति में आरसीबी के बल्लेबाजों को अधिक जिम्मेदारी उठानी होगी। उसके पास डिविलियर्स और मैक्सवेल जैसे ‘बिग हिटर’ हैं।

मैक्सवेल की फार्म पर सभी की निगाह टिकी रहेगी। यदि वह कोहली और डिविलियर्स के साथ मिलकर अपना पूरा योगदान देते हैं तो यह तिकड़ी किसी भी टीम के लिये सबसे बड़ा खतरा बन जाएगी। आरसीबी की टीम इस प्रकार है : विराट कोहली (कप्तान), एबी डिविलियर्स, देवदत्त पडिक्कल, युजवेंद्र चहल, मोहम्मद सिराज, केन रिचर्डसन, वाशिंगटन सुंदर, पवन देशपांडे, फिन एलेन, शाहबाज अहमद, नवदीप सैनी, एडम जम्पा, काइल जैमिसन, ग्लेन मैक्सवेल, रजत पाटिदार, सचिन बेबी, मोहम्मद अजहरुद्दीन, डैनियल क्रिश्चियन, केएस भरत, सुयश प्रभुदेसाई, डैनियल सैम्स, हर्षल पटेल।