रमेश पोवार को दोबारा कोच बनाए जाने पर मिताली राज बोलीं- अब मिलकर मजबूत टीम बनाएंगे

रमेश पोवार को दोबारा कोच बनाए जाने पर मिताली राज बोलीं- अब मिलकर मजबूत टीम बनाएंगे

एक अखबार के साथ बातचीत में मिताली राज ने कहा कि बीता हुआ कल पीछे जा चुका है। आप पीछे नहीं जा सकते है। उन्होंने आगे कहा कि मुझे यकीन है कि रमेश पोवार अपनी योजना के साथ आएंगे और हम दोनों मिलकर इस टीम को आगे ले जाएंगे।

हाल में ही भारतीय महिला क्रिकेट टीम का मुख्य कोच पूर्व क्रिकेटर रमेश पोवार को बनाया गया। इससे पहले भी रमेश पोवार भारतीय महिला क्रिकेट टीम के कोच रहे थे। लेकिन मिताली राज के साथ विवाद के बाद उन्हें अपना पद गंवाना पड़ा था। हालांकि जब उन्हें दोबारा कोच बनाया गया तो लोगों ने कई तरह के सवाल उठाएं। यह सवाल पूछे जा रहे थे कि जब एक बार मिताली राज के साथ विवाद हुआ तो क्या दूसरी बार नहीं होगी? क्या टीम प्रबंधन ने जानबूझकर गलत फैसला लिया है? इन सबके बीच रमेश पोवार को फिर से कोच बनाने को लेकर मिताली राज ने चुप्पी तोड़ी है। भारतीय महिला वनडे और टेस्ट टीम की कप्तान मिताली राज के अनुसार वह उन विवादों को भूल चुकी हैं जो रमेश पवार और उनके बीच हुए थे। मिताली राज ने कहा कि वह नए कोच रमेश पोवार के साथ टीम इंडिया को मजबूत करने के लिए काम करेंगी।

इसे भी पढ़ें: मुंबई की पूर्व खिलाड़ी रंजीता राणे का कैंसर से जूझने के बाद निधन, BCCI ने जताया शोक

एक अखबार के साथ बातचीत में मिताली राज ने कहा कि बीता हुआ कल पीछे जा चुका है। आप पीछे नहीं जा सकते है। उन्होंने आगे कहा कि मुझे यकीन है कि रमेश पोवार अपनी योजना के साथ आएंगे और हम दोनों मिलकर इस टीम को आगे ले जाएंगे। हम एक साथ मिलकर काम करेंगे और भविष्य के लिए मजबूत टीम बनाएंगे क्योंकि अगले साल विश्वकप भी है। आपको बता दें कि 2018 टी20 विश्व कप के दौरान रमेश पोवार और मिताली राज के बीच विवाद हुआ था। 2018 के टी20 विश्व कप में भारत सेमीफाइनल में इंग्लैंड से हार गया था। सवाल यह उठ रहे थे कि इस मैच में मिताली राज को अंतिम एकादश में भी शामिल नहीं किया गया था। इस टी-20 विश्व कप में पाकिस्तान और आयरलैंड के खिलाफ मिताली राज ने शानदार बल्लेबाजी करते हुए अर्धशतक जमाए थे लेकिन उन्हें अहम मुकाबले में टीम में शामिल नहीं किया गया। सेमीफाइनल में टीम इंडिया हार गई और विश्व कप से बाहर हो गई। इसके बाद मिताली राज ने रमेश पोवार पर उनका करियर खत्म करने का आरोप लगाया था।

इसे भी पढ़ें: भारतीय महिला क्रिकेट टीम के कोच बने रमेश पोवार, मिताली से विवाद के बाद हुई थी छुट्टी

गैरतलब है कि भारतीय महिला क्रिकेट टीम फिलहाल इंग्लैंड दौरे पर जा रही है। भारतीय टीम का आगाज टेस्ट मैचों के साथ होगा। भारतीय महिला टीम 7 साल के बाद टेस्ट मैच खेलेगी। टेस्ट मैचों के लिए मिताली राज को कप्तान बनाया गया है। आने वाली चुनौतियों को लेकर मिताली राज ने कहा कि सभी युवा खिलाड़ियों और मेरे लिए भी टेस्ट मैच में दबाव नहीं रहेगा। हम काफी समय बाद लंबे फॉर्मेट में खेलेंगे और खुलकर मैदान पर प्रदर्शन करेंगे। मिताली राज ने ऑस्ट्रेलिया में होने वाले पिंक बॉल क्रिकेट टेस्ट को लेकर भी खुशी जाहिर की है। उन्होंने कहा कि अच्छी बात है कि हमें ऑस्ट्रेलिया में डे-नाइट टेस्ट खेलने को मिलेगा। मेरी निजी राय है कि महिला क्रिकेट टीम को लगातार टेस्ट मैच खेलने चाहिए। मुझे यह भी लगता है कि महिला क्रिकेट में तीनों फॉर्मेट अच्छे होंगे और सभी खिलाड़ी उसे पसंद करेंगे।