भारत की हार के बाद टीम के गेंदबाजों पर भड़के कोहली, दिया ये बड़ा बयान

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  नवंबर 30, 2020   12:27
भारत की हार के बाद टीम के गेंदबाजों पर भड़के कोहली, दिया ये बड़ा बयान

कोहली ने हार के लिए प्रभावहीन गेंदबाजी को जिम्मेदार ठहराया है।कोहली ने मैच के बाद पुरस्कार वितरण समारोह के दौरान कहा, ‘‘उन्होंने हमें पूरी तरह से पछाड़ दिया। मुझे लगता है कि हम गेंद से उतने प्रभावी नहीं थे, हम लगातार उस लाइन और लेंथ से गेंदबाजी नहीं कर पाए जिसके साथ करनी थी और उनका बल्लेबाजी क्रम मजबूत है।

सिडनी। भारतीय कप्तान विराट कोहली को यह स्वीकार करने में कोई समस्या नहीं है कि दूसरे एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट मैच में आत्मविश्वास से भरे आस्ट्रेलिया ने उन्हें पूरी तरह पछाड़ दिया और इसके लिए उन्होंने अपनी टीम की प्रभावहीन गेंदबाजी को जिम्मेदार ठहराया। भारत को रविवार को दूसरे एकदिवसीय में 51 रन से हार का सामना करना पड़ा जिससे आस्ट्रेलिया ने तीन मैचों की श्रृंखला में 2-0 की विजयी बढ़त बना ली। भारतीय टीम को पहले मैच में 66 रन से शिकस्त झेलनी पड़ी।

इसे भी पढ़ें: स्टीव स्मिथ फिर चमके, ऑस्ट्रेलिया ने दूसरे वनडे में भारत को रौंदकर सीरीज जीती

कोहली ने मैच के बाद पुरस्कार वितरण समारोह के दौरान कहा, ‘‘उन्होंने हमें पूरी तरह से पछाड़ दिया। मुझे लगता है कि हम गेंद से उतने प्रभावी नहीं थे, हम लगातार उस लाइन और लेंथ से गेंदबाजी नहीं कर पाए जिसके साथ करनी थी और उनका बल्लेबाजी क्रम मजबूत है। वे हालात और मैदान के कोणों को काफी अच्छी तरह समझते हैं।’’ आस्ट्रेलिया के 390 रन के लक्ष्य का पीछा करते हुए भारतीय टीम कोहली (89) और लोकेश राहुल (76) के अर्धशतकों के बावजूद नौ विकेट पर 338 रन ही बना सकी। भारतीय कप्तान ने कहा, ‘‘स्कोरबोर्ड देखिए, हमने 340 रन बनाए और 50 रन के आसपास से हारे। हमें हमेशा से पता था कि लक्ष्य का पीछा करना आसान नहीं होगा और एक या दो विकेट गिरने से हमें 13, 16रन प्रति ओवर की गति से रन बनाने पड़ सकते थे इसलिए हमें लगातार शॉट खेलने थे।’’ कोहली ने कहा कि आस्ट्रेलियाई क्षेत्ररक्षकों ने उनके और श्रेयस अय्यर (38) के जो कैच लपके वे टर्निंग प्वाइंट रहे। उन्होंने कहा, ‘‘मैं और राहुल बात कर रहे थे कि अगर हम 40-41 ओवर तक खेलते रहे और अंतिम 10 ओवर में 100 रन भी बनाने हैं तो हार्दिक (पंड्या) के आने से हम रन बना सकते हैं, यह हमारी रणनीति थी लेकिन उन्होंने जो दो कैच लपके उन्होंने रुख बदल दिया।’’

इसे भी पढ़ें: हार्दिक पंड्या का अनफिट होना टीम इंडिया के लिए मुसीबत, गौतम गंभीर ने जताई चिंता

लगातार दूसरी जीत से खुश आस्ट्रेलिया के कप्तान आरोन फिंच ने कहा कि उनके गेंदबाजों ने पंड्या की गेंदबाजी से सीख ली। फिंच ने कहा, ‘‘मोइजेस (हेनरिक्स) ने काफी अच्छी रक्षात्मक गेंदबाजी की जिसमें कटर भी शामिल रहे और जैसा कि विराट ने कहा हमने थोड़ा हार्दिक से सीखा कि गेंद से गति कम करके अच्छी गेंदबाजी की जा सकती है।’’ आस्ट्रेलिया ने पहले बल्लेबाजी करते हुए चार विकेट पर 389 रन का बड़ा स्कोर खड़ा किया जिसे फिंच ने बल्ले से परफेक्ट प्रदर्शन करार दिया। मैच में 69 गेंद में 60 रन की पारी खेलने वाले फिंच ने कहा, ‘‘हमने कोई अतिरिक्त बात नहीं की या कोई रणनीति नहीं बनाई। दो मैचों में ही श्रृंखला जीतकर काफी खुश हूं। स्मिथ ने हमेशा की तरह शानदार प्रदर्शन किया और बीच के ओवर में हर बार की तरह वार्नर ने काफी अच्छी बल्लेबाजी की।’’ स्मिथ को लगातार दूसरे मैच में 64 गेंद में 104 रन की पारी खेलने के लिए मैन आफ द मैच चुना गया और उन्होंने कहा कि वह इंडियन प्रीमियर लीग की तुलना में गेंद को बेहतर हिट कर रहे हैं जिसका उन्हें फायदा मिला। उन्होंने कहा, ‘‘आईपीएल में मैं गेंद को थोड़ा तेज हिट करने का प्रयास कर रहा था, मैं अब गेंद को बेहतर हिट कर रहा हूं जिसका मुझे फायदा मिल रहा है। मैं अच्छे क्रिकेट शॉट खेल रहा हूं... टीम के लिए एक बार फिर रन बनाना अच्छा रहा जिससे हम अच्छा स्कोर खड़ा कर पाए।’’ स्मिथ ने कहा, ‘‘मैं पहली गेंद से ही अच्छा महसूस कर रहा था। मैं क्रीज पर उतरा और तेजी से रन बनाए। फिंच और वार्नर ने एक बार फिर शानदार मंच तैयार किया। जिसके कारण मैं और मैक्सवेल अंत में आक्रामक होकर खेल पाए।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।