तिब्बती मामलों की विशेष समन्वयक उज़रा ज़ेरा ने नेपाली प्रधानमंत्री देउबा से मुलाकात की

Uzra Zeya
ANI Photo.
भारतीय विदेश मंत्रालय ने बृहस्पतिवार को बताया था कि 17-20 मई तक भारत की अपनी यात्रा के दौरान ज़ेया ने विदेश सचिव विनय मोहन क्वात्रा सहित सरकार के वरिष्ठ अधिकारियों से मुलाकात की और इस दौरान साझा हितों से जुड़े वैश्विक एवं क्षेत्रीय मुद्दों पर चर्चा की।

\काठमांडू| तिब्बती मामलों के लिए अमेरिका की विशेष समन्वयक उज़रा ज़ेया ने रविवार को नेपाल के प्रधानमंत्री शेर बहादुर देउबा से मुलाकात की और दोनों ने द्विपक्षीय संबंधों को बढ़ावा देने के तरीकों सहित आपसी हित के कई मुद्दों पर चर्चा की। ज़ेया अमेरिका की नागरिक सुरक्षा, लोकतंत्र और मानवाधिकार मामलों की अवर मंत्री भी हैं।

उनकी देउबा से मुलाकात प्रधानमंत्री के बालूवाटर स्थित आवास में हुई। देउबा ने ट्विटर पर कहा, “नागरिक सुरक्षा, लोकतंत्र और मानवाधिकार मामलों की अवर मंत्री के नेतृत्व में अमेरिकी प्रतिनिधिमंडल का स्वागत करते हुए खुशी हुई। हमने नेपाल-अमेरिका संबंधों और आपसी हितों के मामलों पर विचारों का आदान-प्रदान किया।”

नेपाल के विदेश मंत्रालय के मुताबिक, दोनों नेताओं के बीच हुई बैठक के दौरान नेपाल-अमेरिका द्विपक्षीय संबंधों और आपसी हित के विभिन्न विषयों पर चर्चा हुई।

मंत्रालय के मुताबिक, अमेरिकी प्रतिनिधिमंडल का नेतृत्व कर रहीं ज़ेया नेपाल की तीन दिवसीय यात्रा पर शुक्रवार को यहां पहुंचीं। नेपाल पहुंचने के बाद, ज़ेया ने नेपाल को 65.9 करोड़ डॉलर की सहायता की घोषणा की।

उन्होंने ट्विटर पर कहा कि ‘यूएसएड’ और नेपाल के बीच समझौता होने की खुशी है जो नेपाल को ‘लोकतांत्रिक और समृद्ध भविष्य के लिए हमारे साझा दृष्टिकोण का समर्थन करने के वास्ते 65.9 करोड़ डॉलर प्रदान करेगा।”

ज़ेया ने शुक्रवार को ‘इंटरनेशनल वुमन ऑफ करेज अवॉर्ड’ पाने वाली भूमिका श्रेष्ठा और मुस्कान खातून से मुलाकात की। श्रेष्ठा को एलजीबीटीक्यूआई प्लस और खातून को तेज़ाब हमले के खिलाफ काम करने के लिए पुरस्कृत किया गया है।

वह बौद्ध स्तूप भी गईं और नेपाल के समृद्ध धार्मिक, स्थापत्य तथा सांस्कृतिक इतिहास की प्रशंसा की। ज़ेया नेपाल पहुंचने से पहले भारत गई थीं।

भारतीय विदेश मंत्रालय ने बृहस्पतिवार को बताया था कि 17-20 मई तक भारत की अपनी यात्रा के दौरान ज़ेया ने विदेश सचिव विनय मोहन क्वात्रा सहित सरकार के वरिष्ठ अधिकारियों से मुलाकात की और इस दौरान साझा हितों से जुड़े वैश्विक एवं क्षेत्रीय मुद्दों पर चर्चा की।

उन्होंने बृहस्पतिवार को धर्मशाला में दलाई लामा से मुलाकात की तथा भारत और अमेरिका में स्वतंत्रता एवं लोकतंत्र की समृद्ध परंपराओं के बारे में चर्चा की। उनकी इस मुलाकात पर चीन ने आपत्ति जताई है।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


अन्य न्यूज़