टेक्सास में नौसैन्य अड्डे पर हुआ हमला ‘आतंकवाद से जुड़ा’ है: एफबीआई

fbi
अमेरिकी अधिकारियों ने बताया कि नौसैन्य वायु स्टेशन-कॉपर्स क्रिस्टी में यह गोलीबारी बृहस्पतिवार सुबह करीब सवा छह बजे हुई। बंदूकधारी ने एक वाहन में सवार होकर नौसैन्य अड्डे के द्वार से तेजी से घुसने की कोशिश की लेकिन सुरक्षा बलों ने समय पर अवरोधक लगा कर उसे रोक दिया।

कॉर्पस क्रिस्टी (अमेरिका)। अमेरिका में टेक्सास के नौसैन्य हड्डे पर हुई गोलीबारी की घटना की जांच ‘‘आतंकवाद से जुड़े’’ मामले के तौर पर की जा रही है। इस हमले में एक नाविक घायल हो गया और हमलावर की मौत हो गई। एफबीआई ने बृहस्पतिवार को यह कहा। अमेरिकी अधिकारियों ने बताया कि नौसैन्य वायु स्टेशन-कॉपर्स क्रिस्टी में यह गोलीबारी बृहस्पतिवार सुबह करीब सवा छह बजे हुई। बंदूकधारी ने एक वाहन में सवार होकर नौसैन्य अड्डे के द्वार से तेजी से घुसने की कोशिश की लेकिन सुरक्षा बलों ने समय पर अवरोधक लगा कर उसे रोक दिया। उन्होंने बताया कि इसके बाद हमलावर कार से उतरा और उसने गोलीबारी शुरू कर दी जिसमें नौसेना का एक नाविक घायल हो गया।

इसे भी पढ़ें: कोरोना वॉर जारी! ट्रंप ने कहा- चीन ने दुनिया भर में दर्द और नरसंहार का प्रसार किया

सुरक्षा बलों के साथ मुठभेड़ में बंदूकधारी मारा गया। एफबीआई के विशेष एजेंट लियाह ग्रीव्स ने बृहस्पतिवार दोपहर को एक संवाददाता सम्मेलन में बताया कि एजेंसी इस गोलीबारी की ‘‘आतंकवाद संबंधी घटना’’ के रूप में जांच कर रही है और यह पता लगाने की कोाशिश की जा रही है कि इसमें और कौन शामिल है। ग्रीव्स ने कहा, ‘‘हमें विश्वास हो गया कि नौसैन्य वायु स्टेशन कॉर्पस क्रिस्टी में हुई घटनाआतंकवाद से जुड़ी है।’’ उन्होंने कहा कि राज्य, स्थानीय और संघीय सहयोगियों के साथ मिलकर जांच की जा रही है। ग्रीव्स ने यह नहीं बताया कि इस हमले का कारण क्या हो सकता है या जांचकर्ता इस नतीजे पर कैसे पहुंचे कि यह आतंकवादी हमला था।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


अन्य न्यूज़