• ब्रिटेन की महारानी से मुलाकात करने वाले 13वें अमेरिकी राष्ट्रपति होंगे जो बाइडेन

जो बाइडेन ब्रिटेन की महारानी से मुलाकात करने वाले 13वें अमेरिकी राष्ट्रपति होंगे।महारानी ने अपने करीब 70 साल के शासन में, ड्वाइट आइजनहॉवर से लेकर सभी अमेरिकी राष्ट्रपतियों से मुलाकात की है।

लंदन। अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडेन दक्षिणपश्चिम इंग्लैंड में जी7 समूह के नेताओं के शिखर सम्मेलन के बाद रविवार को शाही परिवार के आवास विंडसर कैसल में महारानी एलिजाबेथ द्वितीय से मुलाकात करने वाले हैं। 95 वर्षीय महारानी से मुलाकात करने वाले वह अमेरिका के 13वें राष्ट्रपति हैं। व्हाइट हाउस ने बताया कि इससे पहले बाइडन ने 1982 में उनसे मुलाकात की थी, उस समय वह सीनेटर थे। महारानी और बाइडन की मुलाकात से पहले जी7 नेता शुक्रवार को आयोजित एक समारोह में शरीक होंगे जिसमें महारानी, उनके बेटे प्रिंस चार्ल्स तथा उनकी पत्नी कैमिला, चार्ल्स के बेटे प्रिंस विलियम तथा उनकी पत्नी कैट भी मौजूद रहेंगे। महारानी ने अपने करीब 70 साल के शासन में, ड्वाइट आइजनहॉवर से लेकर सभी अमेरिकी राष्ट्रपतियों से मुलाकात की है।

इसे भी पढ़ें: भारत को कोविड-19 रोधी आठ करोड़ टीके देगा अमेरिका : विदेश विभाग

लिंडन जॉनसन अपने कार्यकाल में ब्रिटेन नहीं आए इसलिए उनकी मुलाकात महारानी से नहीं हुई। महारानी 1951 में वाशिंगटन आई थीं, तब वह 25 वर्ष की थीं। वह राष्ट्रपति हैरी एस. ट्रूमैन और उनके परिवार के साथ ब्लेयर हाउस में ठहरी थीं क्योंकि तब व्हाइट हाउस में मरम्मत कार्य चल रहा था और राष्ट्रपति अपने परिवार के साथ ब्लेयर हाउस में ही रह रहे थे। अमेरिकी नेताओं से उनके व्यक्तिगत संबंध ब्रिटेन तथा स्वयं महारानी के लिए अमेरिका के महत्व को रेखांकित करते हैं। ‘क्वीन ऑफ दी वर्ल्ड’ के लेखक रॉबर्ट हार्डमैन ने बताया कि द्वितीय विश्व युद्ध के समय तक वह ब्रिटेन के आधुनिक इतिहास में एटलांटिक पार गठबंधन की मुख्य भूमिका से अवगत हो चुकी थीं। उन्होंने एपी को बताया, ‘‘वह इस तरह की सोच के साथ बड़ी हुईं कि अमेरिका एक तरह से रक्षक है जिसने युद्ध के अंधकारमय दिनों में यूरोप को बचाया।’’ पूर्व राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने जुलाई 2018 में विंडसर कैसल में महारानी से मुलाकात की थी हालांकि तब लंदन में उनके विरोध में बड़े पैमाने पर प्रदर्शन हुए थे। महारानी के समक्ष प्रोटोकॉल तोड़ने के लिए भी ट्रंप की आलोचना हुई थी।